श्रम मंत्रालय दूर-दराज क्षेत्रों में काम कर रहे श्रमिकों पास जाकर सुनेगा शिकायत, जानें कहां से हुई शुरुआत

श्रमिकों से मिलते श्रम आयुक्त और महानिदेशक श्रम ब्यूरो डीपीएस नेगी

ministry of labor and employment दूर दराज के इलाकों में काम कर रहे श्रमिकों के पास जाकर उनकी शिकायतें सुनेगा और श्रम कानूनों का महत्‍व बताएगा. इसकी शुरुआत जम्‍मू-कश्‍मीर और लेह की गई है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. श्रम और रोजगार मंत्रालय (ministry of labor and employment) दूर-दरार क्षेत्रों में काम कर रहे मजूदरों के पास जाकर उनकी शिकायतें सुनेगा और श्रम कानूनों के प्रति जागरूक करेगा. इस अभियान की जम्‍मू-कश्‍मीर और लेह से हो चुकी है. इसके अलावा मंत्रालय इन इलाकों में होने वाले गति‍विध्यियों की जानकारी भी ले रहा है. मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया यह अभियान देश के अन्‍य हिस्‍सों पर भी चलाया जाएगा.
    इस अभियान के तहत मुख्य श्रम आयुक्त और महानिदेशक श्रम ब्यूरो डीपीएस नेगी सोमवार को जोजिला दर्रा व कारगिल पहुंचे और नए श्रम कानूनों की समीक्षा की. बीआरओ और एनएचआईडीसीएल के परियोजना अधिकारियों के साथ अलग-अलग बैठक की. नेगी ने जोजिला टनल पर काम कर रहे श्रमिकों से मुलाकात की और उनकी शिकायतें सुनीं, समाधान का आश्‍वासन दिया. वे काफी देर तक किसानों के साथ रहे. उन्‍होंने अधिकारियों और ठेकेदारों को नए श्रम कानूनों का महत्‍व बताया. उन्‍होंने श्रमिकों से अनुरोध किया कि वे आवेदन कर अपना श्रमिक कार्ड बनवाएं, साथ ही NDUW पोर्टल में अपना पंजीकरण कराएं, जिसे श्रम मंत्रालय, बहुत जल्द शुरू कर रहा है. इससे उन्‍हें भविष्‍य में कई तरह के लाभ मिलेंगे. उन्होंने श्रमिकों को अधिकारों के बारे में जागरूक किया और उन्हें आश्वासन दिया कि सरकार उनके कल्याण, सुरक्षा और सुरक्षा के प्रति हमेशा संवेदनशील है. अधिकारियों और ठेकेदारों को श्रम कानूनों के कार्यान्वयन के महत्व के बारे में समझाया. उन्होंने विस्तार से बताया कि कैसे नए लेबर कोड कर्मचारियों और नियोक्ताओं दोनों के लिए लाभप्रद हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.