Assembly Banner 2021

राम मंदिर निधि समर्पण अभियान का आज अंतिम दिन, योगदान करने वालों को लास्ट चांस!

देश भर में अभी राम मंदिर के निर्माण के लिए चंदा एकत्रित किया जा रहा है. (File Photo)

देश भर में अभी राम मंदिर के निर्माण के लिए चंदा एकत्रित किया जा रहा है. (File Photo)

Ram Mandir Nidhi Samarpan Abhiyan: श्री राम मंदिर के लिए दुनिया का सबसे बड़ा फंड कलेक्शन अभियान संत रविदास जयंती यानी शनिवार 27 फरवरी को पूर्ण हो रहा है. 44 दिनों तक चले विश्व के सबसे बड़े अभियान-श्री राम मंदिर निधि समर्पण अभियान का शुभारंभ गत मकर संक्रांति अर्थात 15 जनवरी, 2021 को हुआ था. देश की आधी आबादी को कवर करते हुए 5 लाख गांवों, कस्बों और शहरों में लाखों टीमें चौबीसों घंटे काम कर रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 11:30 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अयोध्या में श्री राम मंदिर के लिए दुनिया का सबसे बड़ा फंड कलेक्शन अभियान इस संत रविदास जयंती यानी शनिवार 27 फरवरी को पूर्ण हो रहा है. विश्व हिंदू परिषद (Vishva Hindu Parishad) के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने सभी रामभक्तों से अपील की है कि वे जांच करें कि परिवार का कोई सदस्य, रिश्तेदार, मित्र, पड़ोसी या कारोबारी सहयोगी इस पवित्र कार्य से वंचित तो नहीं रहा.

हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हमारे सभी मदद करने वाले हाथ,सहायक कर्मचारी,या वे लोग जो हमारे जीवन को आसान बनाते हैं (यथा ड्राइवर, प्रेसमैन, सफाई कर्मी, नाई, मोची आदि), को भी भगवान श्री राम की जन्मभूमि पर बनने वाले भव्य-दिव्य मंदिर से जुड़ने का यह अनुपम व पवित्र अवसर मिला या नहीं.

अभियान समापन पर दक्षिणी दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि 44 दिनों तक चले विश्व के सबसे बड़े अभियान-श्री राम मंदिर निधि समर्पण अभियान (Shri Ram Mandir Nidhi Samarpan Abhiyan) का शुभारंभ गत मकर संक्रांति अर्थात 15 जनवरी, 2021 को हुआ था. देश की आधी आबादी को कवर करते हुए 5 लाख गांवों,कस्बों और शहरों में लाखों टीमें चौबीसों घंटे काम कर रही हैं.



इन स्वयंसेवकों द्वारा प्राप्त स्वैच्छिक योगदान,श्री राम तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के SBI/PNB/BOB खातों की स्थानीय शाखाओं में जमा किया जा रहा है. संबंधित रसीद / कूपन संख्या के साथ संग्रह विवरण को दैनिक रूप से एक एप के माध्यम से अपडेट किया जा रहा है. इस एप को ट्रस्ट द्वारा विशेष रूप से इसी उद्देश्य के लिए डिज़ाइन किया गया है. बंसल ने कहा कि स्वयंसेवक गाँव-गाँव,घर-घर जाकर लोगों से मिल कर उनका समर्पण करा रहे हैं ताकि कोई भी इससे वंचित ना रहे.
उन्होंने कहा कि जो लोग किसी कारणवश इस पुण्य कार्य से वंचित रह गए हैं वे सभी हमारे स्थानीय अभियान दल/उनके क्षेत्र के अभियान कार्यालय, विहिप कार्यालय/पदाधिकारियों या अन्य रामभक्तों से संपर्क कर सकते हैं ताकि वे अपना योगदान देकर रसीद/कूपन प्राप्त करे सकें. अभियान का समापन तय समय अर्थात संत रविदास जयंती यानी 27 फरवरी शनिवार को हो रहा है. लोग वेबसाइट www.vhp.org या @VHPDigital नामक ट्विटर/फेसबुक/इंस्टाग्राम पर भी संपर्क कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज