वकील महमूद प्राचा के दफ्तर पर रेड: कोर्ट ने रखा फैसला सुरक्षित, 25 मार्च को अगली सुनवाई

 25 मार्च को महमूद प्राचा पर रेड के मामले की अगली सुनवाई होगी.

25 मार्च को महमूद प्राचा पर रेड के मामले की अगली सुनवाई होगी.

वकील महमूद प्राचा (Mehmood Pracha) के दफ्तर पर दिल्ली पुलिस की रेड के खिलाफ याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. 25 मार्च को इस मसले पर फैसला आ सकता है. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 7:48 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) से जुड़े मामलों की पैरवी कर रहे वकील महमूद प्राचा (Mehmood Pracha) के दफ्तर पर दिल्ली पुलिस की रेड के खिलाफ याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है. 25 मार्च को इस मामले की अगली सुनवाई होगी. माना जा रहा है कि कोर्ट इस दौरान अपना फैसला सुना सकता है. दिल्ली पुलिस ने मेहमूद प्रचा की याचिका का विरोध करते हुए कहा याचिका सुनवाई योग्य नहीं है. लिहाजा याचिका को खारिज किया जाना चाहिए. पटियाला हाउस कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष RK वाधवा ने प्राचा के ऑफिस में हुई पुलिस रेड का विरोध किया है.

वाधवा ने प्राचा के समर्थन में कहा कि आखिर पुलिस पूरे सिस्टम को क्यों देखना चाहती हैं? इससे एक मिसाल कायम होगी जहां दिल्ली पुलिस अधिकारी कल वकीलों के ऑफिस में आएगी और डाटा लेकर जाएगी. यह कोई तरीका नहीं है. बार एसोसिएशन इसके के खिलाफ है.

Youtube Video


रेड नहीं की जा सकती: RK वाधवा
RK वाधवा ने कहा कि इस तरह से किसी वकील के यहां  रेड नही की जा सकती है. हम आपको जानकरी देने के लिए तैयार हैं जो आपको चाहिए. लेकिन पुलिस हमारे सारी जानकारी इस तरह नहीं ले सकती है. क्लाइंट से 36 तरह की बातें होती हैं. क्या हमको सभी जानकारी इस तरह देनी चाहिए. इस तरह की चीजें (रेड) आखिर क्यों हो रही हैं

ये भी पढ़ें: फतेहाबाद जेबीटी शिक्षक हत्याकांड: शराब की रंजीश में बहा खून, शूटर सहित 3 आरोपी गिरफ्तार

वाधवा ने कहा कि एक वकील के तौर पर मेरी जिम्मेदारी है कि मेरे क्लाइंट के किसी डेटा का खुलासा नहीं करें. कानून के अनुसार मैं कह रहा हूं, यह एक वकील के रूप में मेरी नैतिक और कानूनी प्रतिबद्धता है. मुझे नहीं पता कि पुलिस मेरे डेटा से क्या लेगी. वाधवा ने कहा कि अगर एक वकील को अपने क्लाइंट की रक्षा के लिए गोपनीयता नहीं है, तो मुझे यकीन है कि हमें कोई विशेष श्रेणी नहीं दी गई है. वाधवा ने कहा कि हम आपको डेटा देने के लिए तैयार हैं लेकिन आप मेरे कंप्यूटर और पूरे रिकॉर्ड को यह जानने के लिए क्यों चाहते हैं कि मैं किससे बात करता हूं, मेरे क्लाइंट कौन हैं?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज