लाइव टीवी

Delhi Cantt Assembly Seat: दिल्‍ली कैंट विधानसभा चुनाव परिणाम, इलेक्शन रिजल्ट २०२० - आप के वीरेंद्र सिंह काडियान की हुई जीत
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 4:32 PM IST
Delhi Cantt Assembly Seat: दिल्‍ली कैंट विधानसभा चुनाव परिणाम, इलेक्शन रिजल्ट २०२० - आप के वीरेंद्र सिंह काडियान की हुई जीत
दिल्‍ली कैंट विधानसभा सीट.

Delhi Cantt Election Result 2020 Live Updates: दिल्‍ली कैंट विधानसभा चुनाव परिणाम २०२० लाइव (Vidhan Sabha Chunav Parinam)- दिल्‍ली कैंट के इलेक्शन रिजल्ट आज. Assembly Election Results 2020, Delhi Cantt Leading and Winning candidates

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 4:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिल्‍ली विधानसभा चुनाव (Delhi assembly elections 2020) 8 फरवरी को संपन्‍न हो चुके हैं. इन चुनाव में दिल्‍ली की 70 सीटों पर मतदान हुआ है. दिल्ली कैंट विधानसभा क्षेत्र से आप के वीरेंद्र सिंह काडियान ने जीत दर्ज की है. उन्होंने अपने निकटतम प्रत्याशी बीजेपी के मनीष सिंह को चुनाव में हराया. इस सीट पर आप और बीजेपी उम्मीदवारों के बीच नजदीकी मुकाबला माना जा रहा था.

इस सीट पर पिछले दो चुनावों से आम आदमी पार्टी का कब्‍जा रहा है. यहां से आप के सुरेंदर सिंह ने 2015 का विधानसभा चुनाव जीता था. 2008 में यह सीट बीजेपी के पास थी. इस बार भी बीजेपी ने आम आदमी पार्टी को टक्‍कर देने का प्रयास किया.

दिल्‍ली की दिल्‍ली कैंट विधानसभा सीट नई दिल्‍ली लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है. इस सीट पर 2015 में आम आदमी पार्टी के सुरेंदर सिंह ने जीत दर्ज की थी. उन्‍होंने छोटे अंतर से बीजेपी के करण सिंह तंवर को हराया था. सुरेंदर सिंह को 26,124 वोट मिले थे. उनका मतप्रतिशत 39.67 फीसदी था. दूसरे नंबर पर बीजेपी के करण सिंह तंवर रहे थे. उन्‍हें 25,769 वोट मिले थे. उनका मतप्रतिशत 39.13 फीसदी था.



दिल्‍ली की छावनी (कैंट) विधानसभा सीट पर पहली बार 1951 में चुनाव कराया गया था. तब कांग्रेस के राघवेंद्र सिंह ने जीत हासिल की थी. कांग्रेस और बीजेपी इस सीट पर चार-चार बार चुनाव जीत चुकी है. वर्तमान में आम आदमी पार्टी के सुरेंदर सिंह यहां से विधायक हैं.

सुरेंदर सिंह लगातार दूसरी बार विधायक बने हैं. 1914 में इस क्षेत्र में सेना की छावनी लगाई गई थी. सेना का मुख्यालय भी इसी क्षेत्र में है. इसी कारण इस क्षेत्र को दिल्‍ली कैंट के नाम से जाना जाता है. दिल्‍ली कैंट और अहमदाबाद कैंट को एक साथ अंग्रेजों ने ही बसाया था. इस इलाके में कई सैनिक संस्थान और अधिकारियों के निवास हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 8:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर