लाइव टीवी

JNU छात्रसंघ चुनाव में हुई 57.6% वोटिंग, 11 सितंबर का आएंगे नतीजे
Delhi-Ncr News in Hindi

प्रिया गौतम | News18Hindi
Updated: September 8, 2017, 8:06 PM IST
JNU छात्रसंघ चुनाव में हुई 57.6% वोटिंग, 11 सितंबर का आएंगे नतीजे
JNUSU election

अध्यक्ष सीट पर फिलहाल आइसा का कब्जा है जिसका एसएफआई से गठबंधन है. चुनाव के नतीजे 11 सितंबर को आएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 8, 2017, 8:06 PM IST
  • Share this:
देश के सबसे चर्चित छात्रसंघ चुनावों में से एक JNU स्टूडेंट्स यूनियन इलेक्शन में 57.6 प्रतिशत मतदान हुआ. जोरदार नारों के बीच शुक्रवार को जेएनयू कैंपस में चार सेंटरों पर वोट डाले गए.

चुनावी माहौल के बीच यूनिवर्सिटी में सबसे ज्यादा समर्थकों की भीड़ लेफ्ट यूनिट, बापसा और एबीवीपी के साथ दिखी. लेफ्ट पार्टियों के बहुप्रचलित 'लाल सलाम' नारे के सामने एबीवीपी वालों ने भी अपने प्रत्याशियों के लिए वंदेमातरम के नारे लगाए. वहीं BAPSA वाले अंबेडकर और फूले का का नारा बुलंद करते दिखे.

आपको बता दें कि जेएनयू छात्रसंघ चुनाव के नतीजे 11 सितंबर को आने हैं. इन चुनावों में मुकाबला आइसा-डीएसएफ, एआईएसएफ और एबीवीपी के बीच है. छात्र संघ के अध्यक्ष पद के लिए मुकाबले में सात उम्मीदवार हैं. अध्यक्ष सीट पर फिलहाल आइसा का कब्जा है जिसका एसएफआई से गठबंधन है.



एबीवीपी अपनी खोई हुई जमीन वापस लेने के लिए लड़ रही है. 2015 में उसे संयुक्त सचिव की सीट मिली थी, लेकिन 2016 में लेफ्ट ने यह सीट छीन ली. इसी के चलते उस पर ज्यादा दबाव है.



वहीं मतदान के एक दिन पहले हुई प्रेसिडेंशियल स्पीच में धूम मचाने वाले निर्दलीय उम्मीदवार फारूख आलम अपना प्रचार खुद ही कर रहे हैं. आलम का कहना है कि हम तो न बाजा बजा सकते हैं और न शोर मचा सकते हैं, इसलिए मैन टू मैन मिल रहे हैं.

गौरतलब है कि मतदान से एक दिन पहले यानि 7 सितंबर को जेएनयू कैंपस में प्रेसिडेंशियल स्पीच का आयोजन किया गया था. लेफ्ट संगठनों का हौसला बढ़ाने के लिए कन्हैया कुमार भी इसमें मौजूद रहे. डिबेट से पहले विश्वविद्यालय में छात्र संगठनों में जश्न का माहौल दिखा. छात्रों ने अलग-अलग टोली बनाकर जमकर नारेबाजी की.

BAPSA के उम्‍मीदवार: शबाना अली (अध्यक्ष), सुबोध कुंवर (उपाध्यक्ष), करम विद्यानाथ (महासचिव), विनोद कुमार (संयुक्त सचिव).

ABVP के उम्‍मीदवार: निधि त्रिपाठी (अध्यक्ष), दुर्गेश (उपाध्यक्ष), निकुंज मकवाना (महासचिव), पंकज केसरी (संयुक्त सचिव).

AISF के उम्‍मीदवार: अपराजिता राजा (अध्यक्ष), मेंहदी हसन (संयुक्त सचिव).

अध्यक्ष पद के लिए निर्दलीय उम्‍मीदवार: फारूख आलम और गौरव कुमार.

ये भी पढ़ें:
JNU प्रेसिडेंशियल डिबेट: एक निर्दलीय कैंडिडेट ने अपने भाषण से सबकी घिग्घी बांध दी!
कैसे जेएनयू में लेफ्ट-राइट की मुसीबत बन रहा बापसा?
JNU छात्र संघ चुनाव: नजीब पर हमले के आरोपी को ABVP ने बनाया उम्मीदवार
JNU-DU में छात्र संघ चुनाव, जानिए दोनों के 8 बड़े अंतर
First published: September 8, 2017, 9:54 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading