Lockdown 3.0: जामिया यूनिवर्सिटी ने छात्रों को विशेष बस से भेजा जम्मू-कश्मीर
Delhi-Ncr News in Hindi

Lockdown 3.0: जामिया यूनिवर्सिटी ने छात्रों को विशेष बस से भेजा जम्मू-कश्मीर
जामिया के इन छात्रों के साथ विश्वविद्यालय के सुरक्षाकर्मियों को भी भेजा गया है. (फाइल फोटो)

देश के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) में पढ़ने वाले छात्र राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) के चलते होस्‍टल में फंस गए थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय (Jamia Millia Islamia University) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के अपने छात्रों को रविवार को विशेष बस (Special Bus) से उनके घरों के लिये रवाना कर दिया. विश्वविद्यालय ने कहा कि छात्रों के साथ दो पूर्व सैनिकों को भी भेजा है. वे विश्वविद्यालय के सुरक्षाकर्मी हैं. जामिया प्रशासन ने कहा कि ये छात्र कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के चलते छात्रावासों में फंस गए थे. विश्वविद्यालय ने कहा कि वह छात्रावासों में फंसे दूसरे राज्यों के छात्रों को भी उनके घर भेजने की व्यवस्था कर रहा है.

स्पेशल बस को किया गया सैनिटाइज
इस स्पेशल बस को दिल्ली फार्मा साइंस और रिसर्च यूनिवर्सिटी जाने से पहले पूरी तरह सैनिटाइज किया गया. वहां इन छात्रों, गार्ड और ड्राइवर की कोरोना वायरस से संबंधित स्क्रीनिंग भी हुई. जानकारी मिली है कि विश्वविद्यालय प्रबंधन हॉस्टल में रहने वाले छात्रों को उनके गृह प्रदेशों में भेजने के लिए जरूरी इंतजाम कर रहा है.

हॉस्टल में रहने वाले छात्रों ने वीसी को लिखी लिट्ठी
यहां के हॉस्टल में रहने वाले छात्रों ने वाइस चांसलर को एक चिट्ठी लिखी है. इसमें कहा गया है कि इस समय अपने सामनों के साथ हॉस्टल को खाली करना संभव नहीं है. छात्रों ने मांग की है कि विश्वविद्यालय प्रशासन हॉस्टल के कमरों को खाली करने के निर्णय पर फिर से विचार करे.



31 मई तक होगी ऑनलाइन क्लास
जामिया मिलिया इस्लामिया में फाइनल सेमेस्टर और फाइनल ईयर के छात्रों की परीक्षाएं यूनिवर्सिटी में ही 1 जुलाई से 31 जुलाई के बीच आयोजित करने का निर्णय लिया है. एकैडमिक काउंसिल की एक बैठक के दौरान इसका निर्णय लिया गया. इस बैठक में विश्वविद्यालय की वीसी प्रोफेसर नजमा अख्तर, रजिस्ट्रार एपी सिद्दीकी के अलावा डीन और परिषद के अन्य सदस्य भी शामिल थे. इस दौरान काउंसिल ने यूजीसी की जारी  गाइडलाइंस के अपनाने का निर्णय लिया है. अब यहां की ऑनलाइन क्लासेस 31 मई तक होंगी.

 

ये भी पढ़ें: 

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ने पुलिस को अपना लैपटॉप सौंपा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज