Lockdown 4.0: 70 साल की मां का छलका दर्द, बोलीं- बेटा मुझे गांव ले चलो, अब कभी इस शहर में नहीं आऊंगी

लॉकडाउन में परेशान हैं प्रवासी मजदूर.

70 वर्ष की राजी देवी की आंखें आंसुओं से लबालब हैं और प्रवासी श्रमिकों (Migrant Workers) को लेकर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) जाने वाली बस को देख वह अपने बेटे से कहती हैं कि उन्हें बस अब घर लौटना.

  • Share this:
    गुरुग्राम/ भदोही. राजी देवी की आंखें आंसुओं से लबालब हैं और प्रवासी श्रमिकों (Migrant Workers) को लेकर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) जाने वाली बस को देख वह अपने बेटे से कहती हैं कि उन्हें बस अब घर लौटना. वह अब कभी भी इतने बड़े शहर में दोबारा नहीं आना चाहती. राजी देवी और निर्माण कंपनी में मजदूर उनके बेटे साहब लाल व परिवार के अन्य सदस्यों को बस में सीट नहीं मिल सकी. सभी परिजन भदोही स्थित गांव लौटना चाहते हैं. दसअसल, बसों में सीटों का आवंटन पहले आओ पहले पाओ के आधार पर किया गया और परिवार इस आधार पर सीट पाने में विफल रहा.

    बुजुर्ग महिला का छलका दर्द
    बुजुर्ग महिला की उम्र करीब 70 वर्ष है, जो अपने बेटे का हाथ पकड़े हुए है और उससे कहती है कि वह अब नहीं लौटेगी और भले ही वह उसके अंतिम संस्कार के लिए नहीं आए. जबकि परिवार में राजी देवी, साहब लाल, उसकी पत्नी और दो बच्चे, उसका भतीजा और उसकी पत्नी शामिल हैं. परिवार के सभी सदस्य उन सैकड़ों लोगों में शामिल हैं जो गुड़गांव के सेक्टर नौ के सामुदायिक केंद्र में इंतजार कर रहे हैं. यहां से बसें फंसे श्रमिकों को लेकर उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर तक लेकर जा रही हैं. राजो देवी ने कहा कि वह पहली बार अपने गांव से बाहर आई है और यह अंतिम बार है. बड़े शहरों की चमक-दमक खत्म हो गई. बस खुलते ही उन्होंने अपने बेटे से अपनी स्थानीय भाषा में कहा, ‘बेटुआ अब हम कभी नहीं आईं, तू बेशक हमका कांधा देन भी मत आइये. हमका नहीं देखना शहर.’

    850 किलोमीटर पैदल चले जाते, लेकिन...
    लाल ने कहा कि परिवार करीब 850 किलोमीटर दूर भदोही के दारा पट्टी गांव तक पैदल ही चला जाता, लेकिन राजी देवी यात्रा के बाद जिंदा नहीं रहती. लाल ने कहा, ‘भगवान जाने अब हम कैसे घर जाएंगे. हमने पैदल जाने का प्रयास नहीं किया क्योंकि मेरी मां इतनी लंबी दूरी तक नहीं चल पाएंगी. उन्हें ज्यादा आराम देने के लिए कुछ महीने पहले मैं यहां लाया था.’

    ये भी पढ़ें

    Auraiya Tragedy: हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 27 हुई , 33 का इलाज जारी

    Lockdown 4.0: CM योगी का बड़ा आदेश, UP बॉर्डर पर की जाएं ये जरूरी व्यवस्‍थाएं

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.