Lockdown 4.0: दिल्ली रेड जोन से बाहर आने को तैयार, सोमवार से दिखाई देंगी और आर्थिक गतिविधियां

राज्य के 33 जिलों में से बाड़मेर, भीलवाड़ा, बीकानेर, डूंगरपुर, जालोर, जोधपुर नागौर, पाली, राजसमंद, सीकर, सिरोही और उदयपुर जिले को रेड जोन घोषित किया गया है.

सूत्रों ने बताया कि दिल्ली (Delhi) में सोमवार से बाजार खुल सकते हैं, बसें चल सकती हैं. हालांकि बसों में सामाजिक दूरी का नियम बनाए रखने के लिए करीब 20 यात्रियों को ही यात्रा करने की इजाजत होगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) शुरू होने के साथ दिल्ली (Delhi) में सोमवार से और भी आर्थिक गतिविधियां बहाल होने की संभावना है. राष्ट्रीय राजधानी रेड जोन की श्रेणी से बाहर आ सकती है, जो इस समय पूरी तरह इस जोन में है. केंद्र द्वारा रविवार को राज्यों को अपने हिसाब से रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन तय करने के अधिकार दिए जाने के बाद इस तरह की संभावना है. लॉकडाउन के तीसरे चरण के अंतिम दिन रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में पाबंदियों में ढील के संबंध में विस्तृत योजना सोमवार को घोषित की जाएंगी. उन्होंने दावा किया कि केंद्र के लॉकडाउन के चौथे चरण को लेकर जारी ताजा दिशा निर्देश काफी हद तक दिल्ली सरकार के प्रस्ताव के अनुरूप हैं.

    सोमवार से देशभर में लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू होने जा रहा है. दिल्ली सरकार के सूत्रों ने कहा कि आप सरकार लॉकडाउन के अगले चरण में रियायतों के लिए केंद्र सरकार द्वारा घोषित सभी दिशा निर्देशों का पालन करेगी. इस कदम के साथ दिल्ली सरकार को केंद्रीय दिशा निर्देशों के अनुरूप गतिविधियों की अनुमति देने के लिए और अधिकार मिल जाएंगे. दिल्ली सरकार ने पहले मांग की थी कि पूरे शहर को रेड जोन घोषित नहीं किया जाए और इसके बजाय नगर निकाय के वार्डों द्वारा कोविड-19 के मामलों को श्रेणीबद्ध किया जाए, जिलों द्वारा नहीं.

    परिवहन के साधनों की आवाजाही की सशर्त अनुमति
    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार इस समय राष्ट्रीय राजधानी के सभी 11 जिले रेड जोन में हैं, जिससे दिल्लवासियों के लिए गतिविधियां ग्रीन तथा ऑरेंज जोन के मुकाबले मुश्किल हो गई हैं. सूत्रों ने बताया कि दिल्ली में सोमवार से बाजार खुल सकते हैं, बसें चल सकती हैं. हालांकि बसों में सामाजिक दूरी का नियम बनाए रखने के लिए करीब 20 यात्रियों को ही यात्रा करने की इजाजत होगी. केंद्र सरकार ने रविवार को कुछ शर्तों के साथ राज्य के अंदर और राज्यों के बीच सार्वजनिक परिवहन के साधनों की आवाजाही की अनुमति दे दी. नये दिशा निर्देशों में मॉल और निषिद्ध क्षेत्रों को छोड़कर सभी दुकानें खोली जा सकती हैं.

    लॉकडाउन के चौथे चरण में दिल्ली में शराब की और अधिक दुकानें खुलने की संभावना है. दिल्ली सरकार ने तीसरे चरण में सरकार संचालित करीब 150 दुकानों को ही खोलने की अनुमति दी थी. राजधानी में शराब की करीब 850 दुकानें हैं. हालांकि, हवाई सेवाएं और मेट्रो सेवाओं के साथ ही सभी तरह के सार्वजनिक समारोहों पर दिल्ली में पाबंदी रहेगी. केजरीवाल ने ट्वीट किया कि उनकी सरकार ने लॉकडाउन की अवधि का इस्तेमाल दिल्ली के स्वास्थ्य ढांचे को तैयार करने में किया है ताकि अगर कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी हो तो उससे निपटा जा सके.

    विस्तृत योजना की घोषणा करेगी दिल्ली सरकार
    उन्होंने ट्वीट किया, ‘केंद्र के दिशा निर्देश काफी हद तक लाखों दिल्लीवासियों के सुझावों पर आधारित दिल्ली सरकार के प्रस्ताव के अनुरूप हैं. हमने लॉकडाउन की अवधि का उपयोग अपनी स्वास्थ्य प्रणाली को तैयार करने के लिए किया है ताकि अगर कोरोना वायरस के मामले बढ़ें तो निपटा जा सके, लेकिन यह समय पाबंदियों में कुछ हद तक रियायतों का है.’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘दिल्ली सरकार केंद्र के दिशा निर्देशों के आधार पर दिल्ली के लिए विस्तृत योजना तैयार करेगी और इसकी घोषणा कल (सोमवार को) करेगी.’

    इससे पहले एक बयान में दिल्ली सरकार ने कहा, ‘अर्थव्यवस्था के फिर से खुलने पर मामलों में थोड़ी वृद्धि होने की आशंका है और दिल्ली इससे निपटने के लिए तैयार है. हम हमेशा से कहते रहे हैं कि हम सभी को अब कोरोना के साथ जीना सीखना होगा.’

    यह भी पढ़ें - 

    प्रवासी मजदूर बोलीं- मकान मालिक ने घर से निकाला, 3 दिन से कुछ नहीं खाया 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.