लाइव टीवी

Lockdown Diary: 1 मई से अब तक श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 20 बच्चों का जन्म
Kanpur News in Hindi

Chandan Kumar | News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 11:07 PM IST
Lockdown Diary: 1 मई से अब तक श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 20 बच्चों का जन्म
नवजात बच्चे के पिता उदयभान ने बताया कि लॉकडाउन की इन स्थितियों में पैदा हुए अपने बच्चे का नाम वह लॉकडाउन यादव रखना चाहते हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में बच्चों के जन्म का सिलसिला 1 मई से शुरू हुआ है. आज यानी 20 मई को कानपुर में श्रमिक स्पेशल ट्रेन से सफर कर रही महिला ने इस कड़ी के 20वें बच्चे को जन्म दिया.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस ( COVID-19) की वजह से हुए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान देशभर के लोगों को अलग-अलग तरह की मुसीबतों का सामना करना पड़ा है. कोई किसी शहर में फंस गया तो किसी को समय पर इलाज नहीं मिल पाया. लेकिन लॉकडाउन के तीसरे फेज के दौरान जब से केंद्र सरकार ने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Labour special trains) को चलाने की हरी झंडी दी, इसके बाद इन ट्रेनों में किलकारियां गूंजने यानी नवजात बच्चों के जन्म की खबरें भी खूब आई हैं. रोचक जानकारी यह है कि इस महीने 1 से 20 मई के बीच देशभर की इन श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 20 बच्चों का जन्म हुआ है.

कानपुर में आज 20वें बच्चे का जन्म
श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में बच्चों के जन्म का सिलसिला 1 मई से शुरू हुआ है. आज यानी 20 मई को कानपुर में श्रमिक स्पेशल ट्रेन से सफर कर रही महिला ने इस कड़ी के 20वें बच्चे को जन्म दिया. हमीरपुर की रहने वाली इस 21 वर्षीय महिला को आज दिन में करीब 2 बजे सफर के दौरान अचानक लेबर-पेन शुरू हो गया. ट्रेन में गर्भवती को लेबर-पेन की जानकारी मिलने के फौरन बाद आरपीएफ स्टाफ ने रेलवे की मेडिकल टीम को सूचना दी. इसके बाद मेडिकल टीम ने सुरक्षित प्रसव कराया. मेडिकल टीम के सदस्यों ने बताया कि 2.40 बजे बच्चे का जन्म हुआ, अब मां और नवजात दोनों स्वस्थ हैं. इससे पहले 18 मई को नागपुर में भी स्पेशल ट्रेन में बच्चे का जन्म हुआ था.

लॉकडाउन में मजदूरों के लिए चली है ट्रेन



लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों को उनके राज्यों तक पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने की व्यवस्था की है. रेल मंत्रालय के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिेए अब तक कुल 1600 ट्रेनें चलाई गई हैं. इन ट्रेनों के जरिए लगभग 21.5 लाख श्रमिकों को उनके स्थानों तक पहुंचाया जा चुका है. इन श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अलावा रेलवे आगामी 1 जून से रोजाना 200 और ट्रेनें चलाने वाला है. ये ट्रेनें नॉन-एसी होंगी. रेलवे द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक इन ट्रेनों में भी ऑनलाइन टिकट ही मिलेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2020, 10:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading