LOCKDOWN: जल्‍द इन शहरों के बीच कर सकेंगे हवाई यात्रा, MoCA की हरी झंडी का बाकी है इंतजार
Delhi-Ncr News in Hindi

LOCKDOWN: जल्‍द इन शहरों के बीच कर सकेंगे हवाई यात्रा, MoCA की हरी झंडी का बाकी है इंतजार
मंत्रालय से हरी झंडी मिलते ही उड़ान भरने के लिए तैयार हैं विमान. (फाइल फोटो)

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Ministry of Civil Aviation) चरणवद्ध तरीके से विमानों का परिचालन (Flight Operation) शुरू करने की योजना पर विचार कर रहा है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Ministry of Civil Aviation) जल्‍द ही घरेलू विमानों के परिचालन (Flight Operation) को हरी झंडी दिखा सकता है. मंत्रालय की तरफ से हरी झंडी मिलते ही घरेलू विमानों का परिचालन (Domestic Flight Operation) एक बार फिर शुरू हो जाएगा. चूंकि देश में अभी COVID-19 के खिलाफ जंग जारी है, लिहाजा केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने विमानों का परिचालन चरणवद्ध तरीके से शुरू करने की योजना तैयार की है. योजना के तहत, पहले चरण में दिल्‍ली (Delhi), मुंबई (Mumbai), कोलकाता (Kolkata), चेन्‍नई (Chennai), हैदराबाद (Hyderabad), बैंगलूरू (Bangalore),  अहमदाबाद (Ahmedabad) सहित सभी राज्‍यों की राजधानियों (State Capital) के बीच विमानों का परिचालन शुरू किया जा सकता है. हालांकि, अभी इस बात की अटकलें लगाई जा रही हैं कि जिन राज्‍यों में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की स्थिति गंभीर बनी हुई है, वहां के एयरपोर्ट्स को फिलहाल इस चरण से बाहर रखा जाए.

विमान परिचालन को लेकर पूरी हुईं सभी तैयारियां
विमानन क्षेत्र से जुड़े सूत्रों के अनुसार, पहले चरण में जिन एयरपोर्ट्स से विमानों का परिचालन शुरू करने की योजना तैयार की गई है, उन एयरपोर्ट्स पर विमान परिचालन को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है. मंत्रालय ने एयरपोर्ट ऑपरेटर और एयरलाइंस सहित सभी एजेंसियों की भूमिका और जिम्‍मेदारियों को तय करते हुए एक एसओपी तैयार की है. फिलहाल, यह एसओपी सुझाव के लिए एयरलाइंस, एयरपोर्ट ऑपरेटर सहित अन्‍य एजेंसियों को दी गई है. आशा है कि अगले एक से दो दिन में एसओपी को अंतिम रूप दे दिया जाएगा. उड्डयन मंत्रालय के द्वारा तैयार की गई इस एसओपी में विमान परिचालन शुरू होने के बाद एयरपोर्ट टर्मिनल से लेकर एयरक्राफ्ट तक सोशल डिस्‍टेंसिंग का पूरा ख्‍याल रखने की बात कही गई है. साथ ही, वह सभी इंतजाम करने को कहा गया है, जिससे कोरोना वायरस के संक्रमित व्‍यक्ति की पहचान एयरपोर्ट में दाखिल होने से पहले ही कर ली जाए. साथ ही, टर्मिनल को डिस्‍इंफेक्‍ट करने के लिए भी एयरपोर्ट पर व्‍यापक स्‍तर पर इंतजाम करने का जिक्र एसओपी में किया गया है.

यह भी पढ़ें: हवाई सेवा फिर शुरू करने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट पर होंगे ये 15 बदलाव, यात्रियों को इन बातों का रखना होगा ध्यान
डिपार्चर टर्मिनल के गेट पर यात्रियों के स्‍वास्‍थ्‍य जांच के लिए थर्मल स्‍कैनर लगाए गए हैं. Thermal scanners have been installed at the gate of the dispatcher terminal to check the health of the passengers.
डिपार्चर टर्मिनल के गेट पर यात्रियों के स्‍वास्‍थ्‍य जांच के लिए थर्मल स्‍कैनर लगाए गए हैं.




कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हुए हैं यह इंतजाम
विमानन क्षेत्र से जुड़े एक वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय जिन एयरपोर्ट से घरेलू उड़ानों का परिचालन शुरू करने का विचार कर रही है, उन सभी एयरपोर्ट्स पर लगभग एक सी तैयारियां की गई है. जिससे, हवाई यात्रा के दौरान, यात्रियों को हर एयरपोर्ट पर एक सी प्रकिया से गुजरना पड़े. मसलन, एयरपोर्ट टर्मिनल में दाखिल होने से पहले मुसाफिर की थर्मल स्‍क्रीनिंग होगी. इसके बाद, टर्मिनल गेट पर लगने वाली लाइनों को देखते हुए वहां पर सोशल डिस्‍टेंसिंग के लिए मार्किंग की गई है. टिकट और आईकार्ड की जांच करने वाले सीआईएसएफ के अधिकारियों को पीईपी किट और फेस शील्‍ड उपलब्‍ध कराई गई है. इसी तरह, सिक्योरिटी होल्‍ड एरिया और बोर्डिंग गेट पर तैनात सीआईएसएफ के अधिकारियों एवं एयरलाइंस स्‍टाफ को भी पीईपी किट और फेस शील्‍ड उपलब्‍ध कराई गई है. इसके अलावा, पूरे टर्मिनल में हर उस प्‍वाइंट पर सेनेटाइजर उपलब्‍ध कराया गया है, जहां पर यात्री या एयरपोर्ट कर्मी किसी भी चीज के सीधे संपर्क में आते हैं.

यह भी पढ़ें: इन 6 मुल्कों से आज अपने वतन को रवाना होंगे 1100 भारतीय नागरिक, जानें पूरा फ्लाइट शेड्यूल

सुरक्षा जांच के लिए तैनात सीआईएसएफ के जवानों को पीपीई किट उपललब्‍ध कराई गई है. वहीं एयरपोर्ट पर सैनिटाइजर की भी व्‍यवस्‍था की गई है. PPE kits have been made available to CISF personnel deployed for security checks. A sanitizer has also been arranged at the airport.
सुरक्षा जांच के लिए तैनात सीआईएसएफ के जवानों को पीपीई किट उपललब्‍ध कराई गई है. वहीं एयरपोर्ट पर सैनिटाइजर की भी व्‍यवस्‍था की गई है.


जूते से संक्रमण न पहुंचे इसके लिए हुए यह इंतजाम
विमानन क्षेत्र से जुड़े एक वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, इस बात की आशंका लगातार बनी हुई है कि जूतों के जरिए कहीं कोरोना वायरस एयरपोर्ट में दाखिल न हो जाए. इस आशंका को खत्‍म करने के लिए टर्मिनल की कालीन पर एक खास तरह का केमिकल डाला जा रहा है. जिससे किसी यात्री के जूते के साथ आए हुए कोरोना वायरस को वहीं पर खत्‍म किया जा सके. इसके अलावा, एयरपोर्ट पर बैगेज ट्रॉली और यात्रियों के सामान को डिस्‍इंफेक्‍ट करने के लिए दिल्‍ली एयरपोर्ट पर खास डिस्‍इंफेक्‍ट टर्नल बनाई गई है. इसी तरह के इंतजाम, इस चरण में शामिल दूसरे एयरपोर्ट पर भी किए गए हैं. इसके अलावा, एयरपोर्ट पर खास अल्‍ट्रा वायलेट रेज का इस्‍तेमाल भी किया जा रहा है. एयरपोर्ट्स की तरह, एयरलाइंस ने भी बहुत से ऐसे कदम उठाए हैं, जिससे मुसाफिरों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाकर सुरक्षित यात्रा कराई जा सके.

 

 

 

यह भी पढ़ें:

Vande Bharat : सिंगापुर से 234 लोगों को लेकर दिल्ली आई पहली फ्लाइट, उतरते ही दिया ये 'गिफ्ट'
IGI Airport पर मुसाफिरों को मिलेगी सिर्फ ‘पेड Quarantine फैसिलिटी’, दिल्‍ली सरकार ने जारी किया नया आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज