लाइव टीवी

उत्तर-पूर्वी दिल्ली सीट से मनोज तिवारी जीते, शीला दीक्षित को 3 लाख वोटों से हराया
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 24, 2019, 12:37 PM IST

मनोज तिवारी को 7 लाख 85 हजार 262 वोट मिले, जबकि दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित को 4 लाख 21 हजार 293 ही वोट मिल सके.

  • Share this:
राजधानी दिल्ली की उत्तर-पूर्वी लोकसभा सीट पर एक बार फिर बीजेपी ने अपना परचम लहराया है. यहां से बीजेपी प्रत्याशी मनोज तिवारी ने तीन बार मुख्यमंत्री रह चुकीं कांग्रेस उम्मीदवार शीला दीक्षित को 3 लाख से ज्यादा वोटों से हरा दिया है. मनोज तिवारी ने दूसरी बार इस सीट पर जीत दर्ज की है.

बता दें कि मनोज तिवारी को 7 लाख 85 हजार 262 वोट मिले, जबकि दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित को 4 लाख 21 हजार 293 वोट ही मिल सके. वहीं आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार दिलीप पांडे को एक लाख 90 हजार 586 वोट पड़े.

इससे पहले साल 2014 में मनोज तिवारी ने 144084 वोट से जीत हासिल की थी. दिल्ली की उत्तर-पूर्व लोकसभा सीट पर मुकाबला केवल प्रत्याशियों का नहीं बल्कि दो दलों के प्रदेश अध्यक्ष के बीच था. कांग्रेस ने यहां पूर्व मुख्यमंत्री और दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित को उतारा था, जबकि बीजेपी ने यहां के सांसद और दिल्ली बीजेपी के प्रमुख मनोज तिवारी पर एक बार फिर से भरोसा जताया था. वहीं आप के टिकट पर दिलीप पांडे यहां से चुनावी मैदान में थे. यह सीट दिल्ली की सबसे घनी आबादी वाला लोकसभा क्षेत्र है.

गांधी परिवार के करीबी हैं शीला



कांग्रेस आलाकमान यानी गांधी परिवार से खासी करीबियत रखने वाली पूर्व दिल्ली मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के लिए लोकसभा चुनाव 2019 नाक की सवाल रहा. शीला दीक्षित अपने मुख्यमंत्रित्वकाल में किए कामों के आधार पर इस बार मैदान में उतरी हैं. दिल्ली की सीएम रहते शीला दीक्षित ने नार्थ-ईस्ट दिल्ली में कई विकास के काम किए थे. इलाके के लोग झुग्गियों और कच्ची कोलनियों के लिए शीला दीक्षित के द्वारा किए गए कामों की आज भी चर्चा करते हैं. लेकिन शीला दीक्षित अपने काम को लोगों के दिल में ऩहीं उतार सकी और उन्हें हार का सामना करना पड़ा.

ये भी पढ़ें-

'ढाई किलो' के हाथ के आगे कमजोर पड़ा ‘पंजा’, सनी ने जीत के बाद लोगों से कहा शुक्रिया

PM मोदी और अमित शाह के वो 10 फैसले जिसने बदल दी चुनाव की तस्वीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2019, 10:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर