कारोबार में हुआ घाटा तो डालने लगा था कमेटी, ₹50 लाख लेकर हो गया था फरार, दबोचा

आर्थिक अपराध शाखा ने एक शातिर ठग को गिरफ्तार किया है.आरोपी ने डिस्पोजेबल प्लेट के कारोबार में घाटा हुआ, तो उसने लोगों से ठगी के लिए बड़ी साजिश रची.

Delhi Crime: आरोपी अपने घर में डिस्पोजल प्लेट का कारोबार करता था. लेकिन उसमें घाटा हो गया. उसके बाद उसने स्थानीय लोगों से कमेटी डालने का काम शुरू कर दिया. अपने आसपास रहने वाले लोगों को इसके लिए तैयार किया. जनवरी, 2021 में उसे यह राशि लौटानी थी. इससे पहले ही वह 50 लाख रुपये इक्ट्ठा कर फरार हो गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की आर्थिक अपराध शाखा ने एक शातिर ठग को गिरफ्तार किया है. आरोपी की पहचान मूलचंद के रूप में हुई है. आरोपी ने डिस्पोजेबल प्लेट के कारोबार में जब घाटा हुआ, तो उसने लोगों से ठगी के लिए बड़ी साजिश रची.

    उसने अपने पास रहने वाले लोगों की कमेटी डलवाई और उन्हें बताया कि 20 महीने बाद उन्हें मोटी रकम मिलेगी. लोगों ने उसके पास अपने लाखों रुपये जमा करवा दिए, लेकिन वह इस राशि को लेकर फरार हो गया.

    पुलिस के अनुसार आर्थिक अपराध शाखा को 24 लोगों ने संयुक्त रूप से ठगी की शिकायत दर्ज करवाई थी. उन्होंने बताया कि मूलचंद नामक व्यक्ति ने कमेटी डालकर उनसे लाखों रुपये की ठगी की है. वह 10 हजार रुपये महीना उसे 20 महीने तक देते रहे. लेकिन जब रुपये लौटाने का समय आया तो वह अपना मकान बेचकर फरार हो गया.

    यह भी पढ़ें : विकास लगरपुरिया गिरोह के फरार वांछित गैंगस्टर को स्पेशल स्टॉफ ने किया गिरफ्तार

    स्थानीय लोगों से वह करीब 50 लाख रुपये लेकर फरार हुआ है. आरोपी ने उन्हें राशि लौटाने का चेक दिया था जो बैंक में जमा कराने पर बाउंस हो गया.

    इस बाबत आर्थिक अपराध शाखा ने ठगी का मामला दर्ज किया. पुलिस को छानबीन के दौरान पता चला कि मूलचंद डिस्पोजल प्लेट का कारोबार अपने घर पर करता था. इसमें घाटा होने के बाद उसने कमेटी डालने का काम शुरू किया और अपने आसपास रहने वाले लोगों को इसके लिए तैयार किया. उसे लगा कि वह इन लोगों से कमेटी के नाम पर रुपये इक्ट्ठा कर आसानी से फरार हो सकता है. जनवरी, 2021 में उसे यह राशि लौटानी थी. इससे पहले ही वह 50 लाख रुपये इक्ट्ठा कर फरार हो गया.

    यह भी पढ़ें : मेवाती ऑटो लिफ्टर गैंग का भंडाफोड़, वाहन चोरी में शतक लगा चुके हैं सगे भाई, गिरफ्तार

    इस मामले में फरार चल रहे मूलचंद की तलाश आर्थिक अपराध शाखा की टीम लगातार कर रही थी. वह परिवार सहित बीते कई महीनों से फरार चल रहा था. लोकल इंटेलिजेंस और टेक्निकल सर्विलांस की मदद से पुलिस टीम ने उसे बुधवार को गिरफ्तार किया. पूरे फर्जीवाड़े को लेकर पुलिस की टीम उससे पूछताछ कर रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.