अपना शहर चुनें

States

भारत में बनाया गया सॉफ्टवेयर Co-Win, मिलेगी कोरोना वैक्‍सीन की रियल टाइम जानकारी

भारत में कोरोना को लेकर कोविन (Co-WiN) नाम का एक विशेष सॉफ्टवेयर बनाया गया है.  (Pic- AP)
भारत में कोरोना को लेकर कोविन (Co-WiN) नाम का एक विशेष सॉफ्टवेयर बनाया गया है. (Pic- AP)

भारत में कोरोना को लेकर कोविन (Co-WiN) नाम का एक विशेष सॉफ्टवेयर बनाया गया है. जिसमें कोरोना वैक्सीन (Covid19 vaccine) के लाभार्थी, वैक्सीन के उपलब्ध स्टॉक और स्टोरेज, बाकी बचे हुए लाभार्थियों से जुड़ी रियल टाइम जानकारी (Real Time Information) रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2020, 5:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वैक्‍सीन के जल्‍द ही आने की उम्‍मीद है. ऐसे में भारत सरकार पूरे जोर शोर से इसकी तैयारियों में लगी है. भारत में काम कर रहे एक करोड़ हेल्‍थकेयर वर्कर्स को सबसे पहले यह वैक्‍सीन दी जाएगी जिनका डाटा भी जुटाया जा रहा है. इसी के साथ एक और खास बात है कि वैक्‍सीन आने के बाद इससे जुड़ी सभी जानकारियों से आम लोग भी अपडेट रह सकेंगे. उन्‍हें पता चल सकेगा कि कितने लोगों को वैक्‍सीन लग चुकी है, कितनों को लगनी बाकी है. इसकी व्‍यवस्‍था भी सरकार ने कर दी है.

भारत में कोरोना को लेकर कोविन (Co-WiN) नाम का एक विशेष सॉफ्टवेयर बनाया गया है. जिसमें कोरोना वैक्सीन के लाभार्थी, वैक्सीन के उपलब्ध स्टॉक और स्टोरेज, बाकी बचे हुए लाभार्थियों से जुड़ी रियल टाइम जानकारी रहेगी. इसे रोजाना हर एक तय समय पर अपडेट किया जाएगा. अभी हेल्‍थ केयर वर्कर्स के आंकड़े जुटाने का काम चल रहा है. वहीं 8 दिसंबर तक जुटाए गए ये सभी आंकड़े 'कोविन' पर अपलोड कर दिए जाएंगे. यह जानकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में आयोजित सर्वदलीय बैठक में दी.

भारत ने एक विशेष सॉफ्टवेयर भी बनाया है Co-WiN, जिसमें कोरोना वैक्सीन के लाभार्थी, वैक्सीन के उपलब्ध स्टॉक और स्टोरेज से जुड़ी रियल टाइम इंफॉर्मेशन रहेगी। भारत में कोरोना वैक्सीन की रिसर्च से जुड़े दायित्व के लिए विशेष टास्क फोर्स का गठन किया गया है: पीएम @narendramodi pic.twitter.com/Ah9H9VdWAJ





मिली जानकारी के मुताबिक कोरोना वैक्‍सीनेशन के दौरान इस्‍तेमाल होने वाली सीरिंज, कैनुला आदि जुटाने का काम चल रहा है. साथ ही वैक्‍सीनेशन के दौरान इस्‍तेमाल होने वाला मेटेरियल भी तैयार किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज