Home /News /delhi-ncr /

man thrashed by mob over gold earing theft rumour in yamuna nagar nodvm

हरियाणा: भीड़ का तालिबानी इंसाफ, बीच बाजार शख्स की बर्बरता से की पिटाई

हरियाणा के यमुना नगर में भीड़ ने एक चोर की बर्बरता से पिटाई कर डाली

हरियाणा के यमुना नगर में भीड़ ने एक चोर की बर्बरता से पिटाई कर डाली

Yamuna Nagar News: यमुनानगर में एक बार फिर से भीड़ द्वारा कानून की धज्जियां उड़ाने का मामला सामने आया है. एक वृद्ध महिला के कानों की बालियां चुराने के आरोप में भीड़ द्वारा चोर को सरे बाजार दोषी करार दिया गया, और तालिबानी तरीके से मौके पर ही उसकी बर्बरता से धुनाई कर डाली. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस के सामने भी भीड़ चोर की धुनाई करती रही. वीडियो रामपुरा पुलिस चौकी इलाके का बताया जा रहा है वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि चोर के साथ भीड़ अपने तरीके से किस कदर मौके पर ही इंसाफ कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

यमुनानगर. हरियाणा के यमुनानगर  (Yamuna nagar) में एक बार फिर से भीड़ द्वारा कानून की धज्जियां उड़ाने का मामला सामने आया है. यहां एक वृद्ध महिला के कानों की बालियां चुराने के आरोप में भीड़ ने चोर को सरे बाजार बर्बरता तरीके से पीट डाला. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची लेकिन इस बावजूद लोग उसे पीटते रहे. भीड़ के इस तालिबानी सजा का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल (Social Media Viral Video) हो रहा हो. वायरल वीडियो  रामपुरा पुलिस चौकी इलाके का बताया जा रहा है. वीडियो में साफ देखा गया कि चोर के साथ भीड़ अपने तरीके से किस कदर मौके पर ही इंसाफ कर रही है.

चोर को पकड़ शिकायत का इंतजार कर रही है पुलिस

हैरानी की बात है कि समाचार भेजने तक पुलिस के पास किसी ने भी इस चोर के खिलाफ शिकायत नहीं दी. इस संबंध में जब रामपुरा पुलिस चौकी में संपर्क किया गया तो पुलिस का कहना था कि वह मौके से एक युवक को हिरासत में लेकर पुलिस चौकी तो ले आएं है. मगर अभी तक उनके पास किसी भी तरफ से कोई भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई है.

भीड़ द्वारा की जाने वाली हिंसा SC का निर्देश 

देश में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या यानी मॉब लिंचिंग  (Mob lynching) की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए सर्वोच्च न्यायालय  (Supreme Court) ने निर्देश दिया था. न्यायालय ने संसद से मॉब लिंचिंग के खिलाफ नया और सख्त कानून बनाने को कहा था. न्यायालय ने इस संबंध में कहा, ‘कोई भी नागरिक अपने आप में कानून नहीं बन सकता है. लोकतंत्र में भीड़तंत्र की इजाजत नहीं दी जा सकती.’ साथ ही न्यायालय ने राज्य सरकारों को सख्त आदेश दिया कि वे संविधान के मुताबिक काम करें. न्यायालय ने सरकार को इन बढ़ती घटनाओं की अनदेखी नहीं करने का भी निर्देश दिया.

Tags: Haryana news, Mob lynching

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर