दिल्ली में ऑक्सीजन खत्म, सिसोदिया ने UP और हरियाणा सरकार को बताया जिम्मेदार

 दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन खत्म, मनीष सिसौदिया ने लगाया BJP पर बड़ा आरोप . (फाइल फोटो)

दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन खत्म, मनीष सिसौदिया ने लगाया BJP पर बड़ा आरोप . (फाइल फोटो)

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने गुरुवार को बताया कि राजधानी के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen) पूरी तरह खत्म हो गई है. मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में ऑक्सीजन संकट के पीछे का कारण हरियाणा-यूपी द्वारा ऑक्सीजन के लिए 'जंगल राज' है. उनकी सरकारें, अधिकारी और पुलिस अपने ऑक्सीजन प्लांटों से दिल्ली में ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं करने दे रहे हैं.   

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 4:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की बढ़ती रफ्तार से दिल्ली के अस्पतालों (Delhi Hospital) की व्यवस्था चरमरा गई है. मरीजों का दबाव दिल्ली के अस्पतालों पर इस कदर है कि वहां जीवन रक्षक दवाओं के साथ ऑक्सीजन की कमी हो गई. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने गुरुवार को बताया कि राजधानी के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen) पूरी तरह खत्म हो गई है. सरोज, राठी, शांति मुकुंद, तीरथ राम अस्पताल, यूके अस्पताल, जीवन अस्पताल की ओर से कहा गया है कि उनके यहां ऑक्सीजन खत्म हो गई है. हम जैसे-तैसे उन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर देने की कोशिश कर रहे हैं.

सिसोदिया ने कहा कि जब केंद्र सरकार ने दिल्ली का ऑक्सीजन का आवंटन बढ़ा दिया है तो हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सरकारें इस तरह का व्यवहार क्यों कर रही हैं. यह समय एक-दूसरे से लड़ने का नहीं बल्कि एकजुट होने का है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के कई अस्पताल गंभीर ऑक्सीजन संकट का सामना कर रहे हैं. कई जगह ऑक्सीजन पूरी तरह से खत्म हो गई है. डिप्टी सीएम ने कहा कि दिल्ली में ऑक्सीजन संकट के पीछे का कारण हरियाणा-यूपी द्वारा ऑक्सीजन के लिए 'जंगल राज' है. उनकी सरकारें, अधिकारी और पुलिस अपने ऑक्सीजन प्लांटों से दिल्ली में ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं करने दे रहे हैं. हमने भारत सरकार से भी बात करने की कोशिश की, लेकिन चीजें जमीन पर नहीं बदल रही हैं.

आईसीयू के प्रमुख डॉक्टर ए.सी शुक्ला ने कहा कि करीब 40 मरीज आईसीयू में भर्ती हैं. हमें बुधवार रात करीब 500 किलोग्राम ऑक्सजीन मिली. सप्लायर को तड़के चार बजे और ऑक्सीजन की आपूर्ति करनी थी, लेकिन तब से वो फोन नहीं उठा रहा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के हस्तक्षेप से हमें 21 डी श्रेणी के सिलेंडर मिले, लेकिन इसकी नियमित आपूर्ति की जरूरत है. स्थित बहुत गंभीर है.

दिल्‍ली में एक सप्‍ताह में 1,300 से ज्‍यादा मौतें
वहीं, इस अवधि में राष्ट्रीय राजधानी में 1,347 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है. जबकि दिल्ली में बुधवार को भी संक्रमण के 24,638 नए मामले आए और 249 मरीजों की मौत दर्ज की गई. राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण दर बढ़कर 31.28 प्रतिशत हो गई है. इसका साफ मतलब है कि दिल्‍ली में जांच कराने वाला हर तीसरा व्यक्ति संक्रमित पाया जा रहा है. इस समय दिल्ली में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 9,30,179 हो गई है. इनमें से 83,19,28 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं, कोरोना वायरस से अब तक 12, 887 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली में इस समय कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 85,364 हैं.

इसके अलावा दिल्‍ली कोरोना और आईसीयू बेड्स के अलावा ऑक्‍सीजन के संकट से भी जूझ रही है. इस बाबत सुप्रीम कोर्ट और दिल्‍ली हाईकोर्ट राज्‍य और केंद्र सरकार को कई निर्देश देने के साथ फटतार भी लगा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज