Home /News /delhi-ncr /

MCD Elections 2022: मनीष स‍िसोद‍िया ने MCD पर लगाया 4,300 करोड़ के घोटाले का आरोप, BJP ने क‍िया इनकार

MCD Elections 2022: मनीष स‍िसोद‍िया ने MCD पर लगाया 4,300 करोड़ के घोटाले का आरोप, BJP ने क‍िया इनकार

आम आदमी पार्टी ने सत्‍तारूढ़ भाजपा दल पर एमसीडी ने 2500 करोड़ का रेंट घोटाला और 1800 करोड़ का हाउस टैक्स घोटाला करने का गंभीर आरोप लगाया है.

आम आदमी पार्टी ने सत्‍तारूढ़ भाजपा दल पर एमसीडी ने 2500 करोड़ का रेंट घोटाला और 1800 करोड़ का हाउस टैक्स घोटाला करने का गंभीर आरोप लगाया है.

MCD Election-2022: न‍िगम व‍िपक्ष में बैठी आम आदमी पार्टी ने सत्‍तारूढ़ भाजपा दल पर एमसीडी ने 2500 करोड़ का रेंट घोटाला और 1800 करोड़ का हाउस टैक्स घोटाला करने का गंभीर आरोप लगाया है. द‍िल्‍ली के ड‍िप्‍टी सीएम मनीष स‍िसोद‍िया ने आरोप लगाया क‍ि दिल्ली एमसीडी पिछले 17 सालों में सत्ता में काबिज भाजपा के नेताओं के भ्रष्टाचार से खोखली हो चुकी है. एमसीडी में भ्रष्टाचार इतना बढ़ गया है कि एक ओर भाजपा के नेता हजारों करोड़ों का गबन कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. आगामी दिल्‍ली नगर न‍िगम चुनावों (MCD Elections-2022) को लेकर राजनीत‍ि पूरी तरह से गरमा गई है. राजनीत‍िक पार्ट‍ियां एक दूसरे पर गंभीर आरोप भी लगा रही हैं. न‍िगम व‍िपक्ष में बैठी आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने सत्‍तारूढ़ भाजपा दल पर एमसीडी ने 2500 करोड़ का रेंट घोटाला और 1800 करोड़ का हाउस टैक्स घोटाला (House Tax Scam) करने का गंभीर आरोप लगाया है.

    द‍िल्‍ली के ड‍िप्‍टी सीएम मनीष स‍िसोद‍िया (Manish Sisodia) ने आरोप लगाया क‍ि दिल्ली एमसीडी (Delhi MCD) पिछले 17 सालों में सत्ता में काबिज भाजपा के नेताओं के भ्रष्टाचार से खोखली हो चुकी है. एमसीडी (MCD) में भ्रष्टाचार इतना बढ़ गया है कि एक ओर भाजपा (BJP) के नेता हजारों करोड़ों का गबन कर रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर एमसीडी को अपने कर्मचारियों को वेतन देने के पैसे नहीं है. एक ओर एमसीडी हमेशा फंड का रोना-रोती है. वहीं, दूसरी ओर एमसीडी में बैठे भाजपा के नेता पैसे गबन कर अपनी जेबें भर रहे है.

    ये भी पढ़ें: MCD Election से पहले 200 करोड़ के Novelty Cinema को 34 करोड़ में बेचने की तैयारी, जान‍िये पूरा मामला 

    स‍िसोद‍िया ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि दिल्ली सरकार पर एमसीडी का कोई बकाया नहीं है. सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 में अब तक तीन किस्तों में एमसीडी को 2,588 करोड़ की राशि दी है. साथ ही जनवरी में इस वित्त वर्ष की चौथी व आखिरी क़िस्त भी जारी कर देगी. केजरीवाल सरकार ने हर साल एमसीडी को उसके हिस्से का पैसा देने के साथ-साथ 6,889 करोड़ रुपए का लोन भी दिया है और अब तक लोन की राशि नहीं काटी है फिर भी एमसीडी में भाजपा के नेता फंड का रोना-रोते रहते है.

    स‍िसोदिया ने कहा कि एमसीडी ने 2,500 करोड़ का रेंट घोटाला किया है, 1800 करोड़ का हाउस टैक्स घोटाला किया है और एमसीडी में भ्रष्टाचार का लेवल इतना बढ़ गया है कि भाजपा 17.5 लाख रुपए के वेस्ट मैनेजमेंट मशीन के लिए प्रतिमाह 18.36 लाख रुपए का किराया दे रही है. भाजपा में आगामी चुनावों में हार का इतना डर है कि वो सरकारी पार्किंग और एमसीडी की जमीन को औने-पौने दामों पर बेच रही है. भाजपा के नेताओं ने 250 करोड़ रुपए का स्कूल मात्र 126 करोड़ में प्राइवेट माफियाओं को बेच दिया है. साथ ही प्राइवेट पार्किंग माफियाओं के साथ प्राइवेट सांठगाँठ कर भाजपा के नेता हर साल 10 हजार करोड़ का अवैध पार्किंग घोटाला कर रहे है.

    अवैध पार्किंग से हर साल करीब 10,000 करोड़ का घोटाला
    मनीष सिसोदिया ने बताया कि अस्पतालों और मॉल्स की पार्किंग मुफ्त होती हैं. लेकिन पार्किंग माफियाओं और एमसीडी की सांठगांठ होने के कारण यहाँ भी अवैध रूप से लोगों से पार्किंग शुल्क लिया जा रहा है. जबकि एमसीडी का कहना था कि अस्पताओं और मॉल्स को अतिरिक्त एफआर के तौर पर पार्किंग की जगह दी जाती है जिससे उसपर लोगों को कोई पार्किंग शुल्क न देना पड़े. लेकिन भाजपा खुद अवैध पार्किंग को बढ़ावा दे रही है. यह सारा अवैध काम एमसीडी और डीडीए की सांठगांठ में किया जा रहा है.

    भाजपा ने कहा-बेबुन‍ियाद आरोप लगा रहे हैं ड‍िप्‍टी सीएम स‍िसोद‍िया
    उधर, दिल्ली भाजपा (Delhi BJP) के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा है कि यह देख कर दु: ख हुआ है कि आज उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी आज आम आदमी पार्टी नेताओं की नगर निगमों पर बेबुनियाद आरोप प्रत्यारोपण के दैनिक खेल में शामिल हो गये और वित्त मंत्री होते हुऐ भी निगम को देय फंड पर झूठ बोला.

    उप मुख्य मंत्री ने कहा की दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने इस वर्ष 2021-22 के देय फंड का तीन चौथाई दे दिया है पर यह नही बताया क‍ि यह फंड राशि 2012 के लिये तय फंड है जबकि इसके बाद तीसरे, चौथे एवं पांचवें वित्त आयोग की सिफारिशों अनुसार निगम फंड में दोगुना वृद्धि हो चुकी है जिसको विधानसभा में स्वीकार करने के बाद भी दिल्ली सरकार लागू नही कर रही.

    इसी तरह उप-मुख्यमंत्री ने कार पार्किंगों की बिक्री में धांधली की बात की जबकि सच यह है उत्तरी दिल्ली निगम ने कोई कार्रवाई पार्किंग बेचा ही नहीं है, वह कार पार्किंगों का निजी कंपनियों के साथ पी.पी.पी. मॉडल में निर्माण करवा रहा है.

    Tags: BJP, Delhi MCD, Delhi MCD Elections, Delhi news, Manish sisodia, MCD

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर