Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली सरकार ने ‘बिजनेस ब्लास्टर्स’ कार्यक्रम को किया लॉन्च, जानें विद्यार्थियों को इससे कैसे मिलेगी मदद

दिल्ली सरकार ने ‘बिजनेस ब्लास्टर्स’ कार्यक्रम को किया लॉन्च, जानें विद्यार्थियों को इससे कैसे मिलेगी मदद

सिसोदिया ने कहा, “बिजनेस ब्लास्टर्स कार्यक्रम (Business Blasters Program) की शुरुआत कर मुझे गर्व हो रहा है. देश के विकास में यह आधारशिला का काम करेगा.” (फाइल फोटो)

सिसोदिया ने कहा, “बिजनेस ब्लास्टर्स कार्यक्रम (Business Blasters Program) की शुरुआत कर मुझे गर्व हो रहा है. देश के विकास में यह आधारशिला का काम करेगा.” (फाइल फोटो)

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy Chief Minister Manish Sisodia) ने कहा कि यह कार्यक्रम पायलट परियोजना के तौर पर सफल हुआ था और इसमें कक्षा 11 तथा 12 के छात्रों को व्यवसाय शुरू करने के लिए दो हजार रुपये दिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्ली. उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy Chief Minister Manish Sisodia) ने मंगलवार को त्यागराज स्टेडियम (Tyagaraja Stadium) में दिल्ली सरकार के “बिजनेस ब्लास्टर्स” कार्यक्रम की शुरुआत की. दिल्ली सरकार के स्कूलों में इस कार्यक्रम का क्रियान्वयन किया जाएगा और इसका लक्ष्य स्कूल के स्तर पर युवा उद्यमी तैयार करना है. सिसोदिया ने कहा, “बिजनेस ब्लास्टर्स कार्यक्रम (Business Blasters Program) की शुरुआत कर मुझे गर्व हो रहा है. देश के विकास में यह आधारशिला का काम करेगा.”

    उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम पायलट परियोजना के तौर पर सफल हुआ था और इसमें कक्षा 11 तथा 12 के छात्रों को व्यवसाय शुरू करने के लिए दो हजार रुपये दिए जाएंगे. शिक्षा मंत्री ने कहा, “कक्षा 11 और 12 के छात्रों के लिए बनाया गया यह कार्यक्रम देश की प्रगति का आधार बनेगा. इसके जरिये, बच्चे नौकरी के लिए नहीं भागेंगे बल्कि नौकरी इन बच्चों के पीछे आएगी.”

    उसे उद्यमी मानसिकता के साथ करें
    मंत्री ने कहा कि अगर इस पहल को सही तरीके से लागू किया जाता है तो इससे भारत एक विकासशील देश से विकसित देश बन सकता है. इस कार्यक्रम की शुरुआत पायलट परियोजना के तहत खिचड़ीपुर के ‘स्कूल ऑफ एक्सीलेंस’ में की गई थी. सिसोदिया ने कहा कि इसका उद्देश्य बच्चों में इस भावना को जागृत करना है कि वे जो भी करें, उसे उद्यमी मानसिकता के साथ करें.

    स्कूलों में 35 मिनट की एक कक्षा होती है
    वहीं, शनिवार को उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली सरकार के स्कूलों में ‘हैप्पीनेस’ पाठ्यक्रम (Happiness course) को बड़ी सफलता करार दिया था. मनीष सिसोदिया ने शनिवार को दावा किया था कि दिल्ली में रोजाना 16 लाख बच्चे अपने दिन की शुरुआत चेतना जागरण (Mindfulness) से करते हैं. दरअसल, जुलाई 2018 में सभी छात्रों की प्रसन्नता और कुशलता के लिए इस पाठ्यक्रम की शुरुआत की गयी थी. इसमें हर रोज केजी से आठवीं कक्षा तक के सभी बच्चों के लिए राष्ट्रीय राजधानी के 1,030 स्कूलों में 35 मिनट की एक कक्षा होती है.

    (इनपुट- भाषा)

    Tags: Delhi news, Delhi School, Delhi-ncr, Manish sisodia

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर