मनीष सिसोदिया ने निर्मला सीतारमण से की मुलाकात, दिल्ली के विकास के लिए मांगी हिस्सेदारी
Delhi-Ncr News in Hindi

मनीष सिसोदिया ने निर्मला सीतारमण से की मुलाकात, दिल्ली के विकास के लिए मांगी हिस्सेदारी
इस मुलाकात को सिसोदिया ने सकारात्मक बताया है. (फोटो साभार: ANI)

दिल्ली के वित्त मंत्री और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने शुक्रवार को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) से मुलाकात की है. इस मुलाकात को सिसोदिया ने सकारात्मक बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2020, 1:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के वित्त मंत्री और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात की है. इस मुलाकात को सिसोदिया ने सकारात्मक बताया है. मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, ' दिल्ली के विकास पर हुई बातचीत काफी सकारात्मक रही.' बातचीत के दौरान सिसोदिया ने केंद्रीय करों में दिल्ली सरकार (Delhi Government) के हिस्से की भी मांग की.



दिल्ली के विकास के लिए मांगी हिस्सेदारी
उन्होंने कहा कि केंद्रीय वित्तमंत्री से केंद्रीय करों में दिल्ली के लिए भी हिस्सा दिए जाने की मांग की. जिससे दिल्ली में स्कूल-अस्पताल खोलने, यमुना को साफ करने, बिजली पानी की व्यवस्था करने आदि के लिए काम और तेज़ी से किए जा सके.



दिल्ली नगर निगम को नहीं मिलता कोई फंड
मुलाकात के बाद मनीष सिसोदिया ने मीडिया को बताया कि केंद्रीय वित्तमंत्री के साथ बैठक में उन्होंने एमसीडी के लिए भी उसी तरह फंड दिए जाने की भी मांग की, जिस प्रकार केंद्र सरकार अन्य राज्यों के निगमों को (488/- प्रति व्यक्ति प्रति वर्ष के हिसाब से) देती है. उन्होंने बताया कि अभी दिल्ली नगर निगम के लिए केंद्र सरकार से कोई फंड नहीं मिलता है.

2001 से नहीं मिला दिल्ली को हिस्सा
उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से वर्ष 2001 से केंद्रीय करों में दिल्ली को कोई हिस्सा नहीं दिया जाता है. जबकि केंद्रीय करों का 42% हिस्सा वित्त आयोग की सिफ़ारिशों के आधार पर अन्य सभी राज्यों को दिया जाता है. 2001 से पहले दिल्ली को भी इसमें हिस्सा मिलता रहा था.

केजरीवाल ने अमित शाह से की थी मुलाकात
इससे पहले भी दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने होम मिनिस्टर अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात की थी. इस मुलाकात को औपचारिक मुलाकात बताया गया था. वैसे दिल्ली में सीएम पद की कुर्सी संभालने के बाद केजरीवाल के रुख बदले बदले दिख रहे हैं. उन्होंने दिल्ली के विकास के लिए पीएम मोदी और केंद्र सरकार से आशीर्वाद भी मांगा था.

चुनाव के दौरान हुई थी जमकर सियासी राजनीति
दिल्ली में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान आप और बीजेपी नेताओं के बीच सियासी राजनीति जमकर हुई थी. इस दौरान दोनों दलों के नेताओं के बीच तल्ख बयानबाजी भी हुई थी. लेकिन माना जा रहा है कि केजरीवाल की सरकार केंद्र से सहयोग की नीति बनाए रखने चाह रही है. इस कारण आप के दिग्गज नेता लगातार नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार से सहयोग की बात कह रहे हैं.

पीएम मोदी ने भी दी शुभकामना
दरअसल, रामलीला मैदान में शपथ ग्रहण समारोह के बाद सीएम केजरीवाल ने भाषण के दौरान पीएम मोदी का जिक्र किया था. इस दौरान उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी बाहर होने की वजह से यहां नहीं आ सकें. लेकिन उन्होंने उनसे आशीर्वाद मांगने की बात भी कही थी. केजरीवाल ने विकास के लिए किसी भी तरह की राजनीति नहीं करने की बात भी कही थी. जिसका जवाब खुद पीएम मोदी ने दिया था. पीएम ने एक ट्वीट कर दिल्ली की नई केजरीवाल सरकार को बधाईयां भी दी थी.

आप को मिली है बड़ी जीत
दिल्ली के 2020 के विधानसभा चुनाव में आप को 62 सीटों पर जीत हासिल हुई है. जबकि दिल्ली की सारी लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करने वाली बीजेपी को इस चुनाव में केवल 8 सीटों पर जीत हासिल की हुई है. इस चुनाव में कांग्रेस को कुछ भी हासिल नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें:

ब्रिटिश सांसद के आरोपों पर विदेश मंत्रालय ने कहा- पूरे सम्मान के साथ आपको भेजा

कालिंदी कुंज-फरीदाबाद रास्ता फिर बंद,महाशिवरात्रि के लिए थोड़ी देर खुला था रोड

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज