होम क्‍वारंटाइन पर आमने-सामने LG और दिल्ली सरकार, शाम को DDMA की बैठक
Delhi-Ncr News in Hindi

होम क्‍वारंटाइन पर आमने-सामने LG और दिल्ली सरकार, शाम को DDMA की बैठक
दिल्‍ली में कोरोना वायरस को लेकर उपराज्‍यपाल और दिल्‍ली सरकार आमने सामने है.

दिल्ली सरकार का कहना है कि क्‍वारंटाइन सेंटर (Quarantine center) में जाने के डर से लोग टेस्ट कराने से बचेंगे. साथ ही कोरोना पीड़ितों के इलाज में जुटे डॉक्टरों और नर्सों पर दबाव बहुत ज्यादा बढ़ जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में हर कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति को अब कम से कम पांच दिन क्‍वारंटाइन सेन्टर में रहना होगा. दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल (Lieutenant Governor Anil Baijal) ने केंद्र सरकार की सलाह के मुताबिक ये आदेश जारी किया. इस फैसले के बाद दिल्ली सरकार (Delhi Government) और केंद्र एक बार फिर आमने सामने दिख रहे हैं. दरअसल दिल्ली सरकार का कहना है कि क्‍वारंटाइन सेंटर (Quarantine center) में जाने के डर से लोग टेस्ट कराने से बचेंगे. साथ ही कोरोना पीड़ितों के इलाज में जुटे डॉक्टरों और नर्सों पर दबाव बहुत ज्यादा बढ़ जाएगा.

वहीं शनिवार को दोपहर में स्टेट डिज़ास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की मीटिंग के बाद दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा कि स्टेट डिज़ास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की मीटिंग में दोनो ही मुद्दों- प्राइवेट हॉस्पिटल के बेड्ज़ के रेट और होम आइसोलेशन ख़त्म करने के LG साहब के आदेश पर सहमति नहीं बनी, अब बैठक शाम को 5 बजे दोबारा होगी.






उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि केंद्र सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों में केवल 24% बेड्ज़ को सस्ता करने की सिफ़ारिश की है जबकि दिल्ली सरकार कम से कम 60% बेड्ज़ सस्ते देने पर अड़ी है. यहीं बात अटक गई है. शाम को फिर इस पर चर्चा होगी.

एक और ट्वीट करते हुए सिसोदिया ने लिखा कि होम आइसोलेशन ख़त्म करने के सम्बंध में भी एलजी साहब के कल के फ़ैसले का दिल्ली सरकार ने विरोध किया. इस पर भी कोई निर्णय नहीं हुआ. शामको फिर चर्चा होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading