लाइव टीवी

मनोज तिवारी से लेकर केजरीवाल तक, BJP-AAP के नेता यहां डालेंगे अपना वोट, जानें टाइमिंग
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 7:50 PM IST
मनोज तिवारी से लेकर केजरीवाल तक, BJP-AAP के नेता यहां डालेंगे अपना वोट, जानें टाइमिंग
दिल्ली के सीएम केजरीवाल इस टाइम पर डालेंगे वोट

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) कड़े सुरक्षा इंतजाम के बीच दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सिविलाइंस के राजपुरा पोलिंग बूथ पर वोट डालेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 7:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चुनाव (Election) अधिकारियों ने शनिवार को होने वाले 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) के मतदान के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं और राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा इंतजाम कड़े करने के साथ ही शाहीन बाग तथा अन्य संवेदनशील मतदान केंद्रों पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है.

सुबह 9 बजे वोट डालेंगे केजरीवाल
कड़े सुरक्षा इंतजाम के बीच दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल सिविलाइंस के राजपुरा पोलिंग बूथ पर वोट डालेंगे. तो वहीं डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया सुबह दस बजे पांडव नगर में वोट डालेंगे. वहीं बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी यमुना विहार में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. डॉक्टर हर्ष वर्धन कृष्णानगर से ही वोट डालेंगे.



दिल्ली में हैं 1.47 करोड़
दिल्ली में 1.47 करोड़ लोगों को मताधिकार प्राप्त है और इस चुनावी मुकाबले में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी, भाजपा तथा कांग्रेस प्रमुख रूप से मैदान में हैं. मतदान से कुछ दिन पहले ही कांग्रेस और भाजपा ने अपना प्रचार अभियान बड़े आक्रामक तरीके से चलाया.

पांच मतदान केंद्र हैं ‘संवेदनशील’ की श्रेणी में 

अधिकारियों ने कहा कि शाहीन बाग में चल रहे संशोधित नागरिकता कानून (CAA) विरोधी प्रदर्शनों के मद्देनजर दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय ने क्षेत्र के तहत पड़ने वाले सभी पांच मतदान केंद्रों को ‘संवेदनशील’ की श्रेणी में रखा है और मतदाताओं में विश्वास भरने के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं.

18 से 19 साल के हैं 2,32,815 मतदाता
दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रणबीर सिंह ने यह बात दोहराई कि क्षेत्र में पैनी नजर है और जिन क्षेत्रों में मतदान गतिविधियां होंगी, वहां कोई अवरोध नहीं है. इसलिए मतदाताओं को किसी तरह की समस्या का सामना नहीं करना होगा. उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव में 1,47,86,382 लोगों को मतदान का अधिकार है जिनमें से 2,32,815 मतदाता 18 से 19 साल के आयुवर्ग के हैं.

मैदान में हैं 672 उम्मीदवार
चुनाव के लिए तीन सप्ताह से अधिक समय तक चला तूफानी प्रचार गुरूवार को शाम छह बजे थम गया. दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए 672 उम्मीदवार मैदान में हैं. विशेष पुलिस आयुक्त (आसूचना) प्रवीर रंजन ने बताया कि केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 190 कंपनियों को सुरक्षा कारणों से तैनात किया गया है.

चुनाव के लिए नई तकनीकि का इस्तेमाल
उन्होंने कहा कि जहां तक संवेदनशील मतदान केंद्रों की बात है तो 516 जगहों पर 3704 बूथ इस श्रेणी में आते हैं. हाल ही में चुनाव कार्यालय के अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों से मिलकर उन्हें मतदान के लिए प्रोत्साहित किया था. इस बार चुनाव में मोबाइल ऐप, क्यूआर कोड, सोशल मीडिया इंटरफेस जैसी तकनीकों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है.

दिल्ली के 11 जिलों की एक-एक विधानसभा सीट चुनी गयी हैं जिन पर मतदाता मतदान पर्ची बूथ पर नहीं लाने की स्थिति में स्मार्टफोन के जरिये हेल्पलाइन एप्प से क्यूआर कोड प्राप्त कर सकता है. इनमें सुल्तानपुर माजरा, सीलमपुर, बल्लीमारान, बिजवासन, त्रिलोकपुरी, शकूर बस्ती, नई दिल्ली, रोहतास नगर, छतरपुर, राजौरी गार्डन और जंगपुरा हैं.
(एजेंसी इनपुट के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 6:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर