Delhi: एक साल बीतने के बाद भी नहीं मिले 1 करोड़, शहीद की पत्‍नी ने CM केजरीवाल को लिखी चिट्ठी- मेरे साथ भेदभाव क्यों?

शहीद जवान की पत्‍नी की चिट्ठी को लेकर विपक्ष केजरीवाल को घेर रहा है.

शहीद जवान की पत्‍नी की चिट्ठी को लेकर विपक्ष केजरीवाल को घेर रहा है.

Delhi News: दिल्‍ली के भारत नगर थाने में कांस्टेबल पद पर तैनात अमित राणा ( Amit Rana) पिछले साल अपनी ड्यूटी के दौरान कोरोना की चपेट में आकर शहीद हो गए थे. उस वक्‍त दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया था. एक साल तक जब राशि नहीं मिली तो शहीद की पत्‍नी ने सीएम को भावुक चिट्ठी लिखी है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal Government) ने पिछले साल ऐलान किया था कि कोरोना वायरस की वजह से सरकारी कर्मचारी और पुलिसकर्मियों के निधन पर उनके परिजनों को एक करोड़ रुपये की सहायता राशि देगी. वैसे तो दिल्‍ली सरकार अब तक कई लोगों को आर्थिक सहायता दे चुकी है, लेकिन दिल्ली पुलिस के शहीद जवान अमित राणा (Martyr Amit Rana) का परिवार से इससे अछूता है. बता दें कि दिल्‍ली के भारत नगर थाने में कांस्टेबल पद पर तैनात अमित राणा अपनी ड्यूटी के दौरान कोरोना की चपेट में आकर शहीद हो गए थे.

इस बीच एक साल तक कोई सहायता नहीं मिलने पर शहीद जवान अमित राणा की पत्‍नी पूजा राणा (Pooja Rana) ने दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर उनका वादा याद दिलाया है. उन्‍होंने लिखा, 'आदरणीय अरविंद केजरीवाल जी, मेरे पति अमित राणा, जोकि दिल्ली पुलिस में भारत नगर थाने में कांस्टेबल के पद पर तैनात थे, उनका 5 मई 2020 को दिल्ली वालों की सेवा करते हुए कोरोना से निधन हो गया था. आपने सहायता स्वरूप एक करोड़ रुपये देने का वादा मीडिया व ट्विटर के जरिए किया था, लेकिन एक साल बीत जाने के बाद भी मुझे वो राशि नहीं मिली है. आपने कुछ लोगों को निधन के बाद दस दिन के अंदर ही सहायता राशि दे दी, तो फिर मेरे साथ ही भेदभाव क्यों? पूजा ने आगे लिखा है कि श्रीमान जी, मेरा एक चार साल का बेटा और चार महीने की बेटी है. आज मुझे उनके भविष्य की चिंता सता रही है. यदि एक मुख्यमंत्री अपने वादे को पूरा नहीं करेगा तो मैं शायद आगे जीवन में किसी पर विश्वास ना कर पाऊं.'

केजरीवाल, Delhi Government, Arvind Kejriwal, CM
दिल्ली के सीएम ने 7 मई 20 को शहीदी के परिवार के लिए 1 करोड़ राशि की घोषणा की थी.

भाजपा सांसद ने केजरीवाल पर कसा तंज
शहीद जवान अमित राणा की पत्‍नी पूजा राणा द्वारा सीएम केजरीवाल को पत्र लिखने के बाद भाजपा सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने पत्र को ट्वीट करते हुए लिखा, 'एक साल बीत गया अरविन्द केजरीवाल आपके वादे को, कब तक दिल्ली पुलिस के जवान अमित राणा के परिवार को 1 करोड़ की सहायता मिलेगी ? दिल्ली के भले के लिए लिखे मेरे पत्रों का जवाब आपने कभी दिया नहीं, आशा करता हूं अमित राणा की पत्नी द्वारा लिखे पत्र का जवाब जल्द मिलेगा.'

इसके अलावा आप के पूर्व नेता योगेंद्र यादव की स्‍वराज इंडिया दिल्‍ली की तरफ से एक ट्वीट किया गया. उन्‍होंने लिखा, 'सहायता राशि में भी भेदवाद कर रहे है केजरीवाल. दिल्ली पुलिस कांस्टेबल अमित राणा जिन्होंने 5 मई 20 को कोविड से अपनी जान गंवाई. दिल्ली के सीएम ने 7 मई 20 को उनके परिवार के लिए 1 करोड़ राशि की घोषणा की.एक साल बीत गया लेकिन परिवार को सरकार से कोई आर्थिक मदद नहीं मिली.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज