लाइव टीवी

Match Fixing: संजीव चावला ने पुलिस हिरासत को बताया गलत, हाईकोर्ट में दी चुनौती
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: February 14, 2020, 6:01 PM IST
Match Fixing: संजीव चावला ने पुलिस हिरासत को बताया गलत, हाईकोर्ट में दी चुनौती
कथित सट्टेबाज संजीव चावला ने 12 दिन की अपनी पुलिस हिरासत को दिल्ली हाईकोर्ट में शुक्रवार को चुनौती दी.

भारत सरकार ने ब्रिटेन को आश्वासन दिया था कि क्रिकेट मैच फिक्सिंग (Cricket Match Fixing) के आरोपी संजीव चावला (Sanjeev Chawla) को सक्षम अदालत द्वारा दोषी ठहराए जाने की स्थिति में तिहाड़ जेल में रखा जाएगा. अदालत ने कहा कि सुनवाई से पहले के चरण में जांच का चरण शामिल नहीं होता.

  • Share this:
नई दिल्ली. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेट कप्तान हैंसी क्रोनिए (Hansi Cronje) की संलिप्तता वाले मैच फिक्सिंग (Match Fixing) मामले के प्रमुख आरोपी और कथित सट्टेबाज संजीव चावला (Sanjeev Chawla) ने 12 दिन की अपनी पुलिस हिरासत को दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) में शुक्रवार को चुनौती दी. निचली अदालत ने चावला को गुरुवार को 12 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था. अदालत ने कहा था कि मामले की जांच के लिए उसे देश भर के अनेक शहरों में ले जाया जाना है.

दोषी पाए जाने पर तिहाड़ जेल में रखा जाएगा
अमेरिका से प्रत्यर्पित चावला से पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस ने 14 दिन की हिरासत की मांग की थी. अदालत ने कहा कि 22 सितम्बर, 2017 को ब्रिटेन को दिए आश्वासन-पत्र के अनुसार भारत सरकार ने आश्वासन दिया था कि आरोपी को सुनवाई से पहले और सक्षम अदालत द्वारा दोषी ठहराए जाने की स्थिति में तिहाड़ जेल में रखा जाएगा. अदालत ने कहा कि सुनवाई से पहले के चरण में जांच का चरण शामिल नहीं होता और पुलिस हिरासत में भेजने की मांग भारत सरकार के पत्र की भावना के विपरीत नहीं है. निचली अदालत ने आरोपी को 25 फरवरी को अदालत में पेश करने के निर्देश दिए.

क्रोनिए भी मैच फिक्सिंग में शामिल थे
अदालत को बताया गया कि बृहस्पतिवार को लंदन से प्रत्यर्पित करके लाया गया चावला पांच मैचों की फिक्सिंग में शामिल था और बड़ी साजिश का पता लगाने के लिए उसका विभिन्न लोगों से आमना-सामना कराना है. पुलिस ने अदालत को बताया कि क्रोनिए भी इसमें शामिल थे. क्रोनिए की 2002 में विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी.

फरवरी-मार्च 2000 में की गई थी मैच फिक्सिंग की कोशिश  
चावला पर फरवरी-मार्च 2000 में दक्षिण अफ्रीका टीम के भारत दौरे पर मैच फिक्सिंग के लिए क्रोनिए के साथ मिलकर साजिश रचने का आरोप है. ब्रिटिश अदालत के दस्तावेजों में कहा गया है कि दिल्ली में जन्मा व्यवसायी चावला 1996 में व्यापार वीजा पर ब्रिटेन आ गया था, लेकिन वह भारत की यात्रा करता रहा.

ये भी पढे़ं - 

दिलीप पांडेय के MLA बनने के बाद कैमूर में जश्न, घरवाले कर रहे स्वागत की तैयारी

केजरीवाल के शपथ समारोह में शामिल नहीं होंगे अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 5:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर