• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • बी यानि BJP वाले बयान पर मायावती का पलटवार, कहा- UP में ऑक्सीजन पर चल रही कांग्रेस

बी यानि BJP वाले बयान पर मायावती का पलटवार, कहा- UP में ऑक्सीजन पर चल रही कांग्रेस

बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)

बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)

UP Assembly Election 2022: बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में भी ऑक्सीजन पर चल रही कांग्रेस का यह कहना कि बीएसपी के ‘बी‘ का मतलब ’बीजेपी’ है. घोर आपत्तिजनक है.

  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 जैसे-जैसे नज़दीक आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक दलों में आरोप प्रत्यारोप की राजनीति तेज़ हो रही है. इस बार ये लड़ाई कांग्रेस और बसपा के बीच में बसपा में 'बी' के मतलब को लेकर हो रही है. कांग्रेस ने बसपा पर कटाक्ष करते हुए बसपा में 'बी' का मतलब बीजेपी बताया तो वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने 'बी' को बहुजन और धार्मिक अल्पसंख्यक वर्ग से जोड़ दिया.

बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट करके कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में भी ऑक्सीजन पर चल रही कांग्रेस का यह कहना कि बीएसपी के ‘बी‘ का मतलब ’बीजेपी’ है. घोर आपत्तिजनक जबकि बीएसपी के ‘बी‘ का अर्थ बहुजन है, जिसमें SCs, STs, OBCs. धार्मिक अल्पसंख्यक व अन्य उपेक्षित वर्ग के लोग आते हैं. जिनकी संख्या ज्यादा होने की वजह से वे बहुजन कहलाते हैं.

इसके साथ साथ मायावती ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कांग्रेस के 'C' का मतलब बताया और कहा कि कांग्रेस के ‘सी‘ का मतलब वास्तव में ’कनिंग’ पार्टी है. जिसने केन्द्र व राज्यों में अपने लम्बे शासनकाल में बहुजन के वोटों से अपनी सरकार बनाने के बावजूद इन्हें लाचार व गुलाम बनाकर रखा. अन्ततः बीएसपी बनाई गई और तब उस समय बीजेपी केन्द्र व राज्यों की सत्ता में कहीं नहीं थी.

मायावती ने उत्तरप्रदेश के सभी राजनितिक दलों पर हमला करते हुए अपने जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव नहीं लड़ने की वजह भी स्पष्ट की. कहाकि यह भी सर्वविदित है कि यूपी में कांग्रेस, सपा व बीजेपी की सरकार के चलते यहां कोई भी छोटा-बड़ा चुनाव स्वतंत्र व निष्पक्ष कभी नहीं हो सकता. ना ही इनसे इसकी किसी को कोई उम्मीद करनी चाहिये. जबकि बीएसपी की सरकार के समय में यहा सभी छोटे-बड़े चुनाव स्वतंत्र व निष्पक्ष कराए गए.

चुनावो से पहले सभी राजनीतिक दल सत्ता विरोधी वोटों को अपने साथ लाने के लिए लगातार एक दूसरे पर हमला कर रहे हैं. जिस तरह से सपा हो या कांग्रेस जिस तरह से बसपा को बीजेपी से जोड़ कर दिखाने की कोशिश कर रहे हैं. उससे एक बात तो स्पष्ट है कि इन दोनों दलों की कोशिश अल्पसंख्यक वर्ग को बसपा से दूर करके अपने खेमे में लाने की कोशिश है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज