Home /News /delhi-ncr /

MCD Chest Clinic को बंद कर जमीन को बेचने की तैयारी, BJP ने कहा-अफसर करा रहे बदनामी

MCD Chest Clinic को बंद कर जमीन को बेचने की तैयारी, BJP ने कहा-अफसर करा रहे बदनामी

नॉर्थ MCD ने नया बाजार में चालू चेस्ट क्लिनिक को बंद कर उसकी जमीन को बेचने का प्रस्ताव तैयार क‍िया है.  (Photo-Twitter)

नॉर्थ MCD ने नया बाजार में चालू चेस्ट क्लिनिक को बंद कर उसकी जमीन को बेचने का प्रस्ताव तैयार क‍िया है. (Photo-Twitter)

Municipal Chest Clinic Pilli Kothi: दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने प्रदेश अध्यक्ष और नॉर्थ द‍िल्‍ली मेयर से मांग की है कि वह इस मामले में हस्तक्षेप कर अधिकारियों की इस मनमानी को रोके. उन्होने कहा है क‍ि नॉर्थ न‍िगम में एक मुख्य अभियंता हैं जो इस प्रकार के अव्यावहारिक जमीनें बेचने के प्रस्ताव बनवा रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. आगामी द‍िल्‍ली नगर न‍िगम चुनावों (MCD Elections) में अभी करीब छह माह से ज्‍यादा का वक्‍त है. लेक‍िन राजनीत‍िक गतिव‍िध‍ियां तेज हो गई हैं. ऐसे में अब न‍िगम अधि‍कारी भी अपनी मनमर्जी से फैसले लेने में जुट गए हैं. न‍िगम अध‍िकारी अब राजनीत‍िक नेतृत्‍व को ब‍िना संज्ञान में ल‍िए ऐसे फैसले ले जा रहे हैं ज‍िसको लेकर अब सत्‍ता पक्ष के नेता ही इस पर सवाल खड़ा करने लगे हैं. और इसकी श‍िकायत द‍िल्‍ली भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष और मेयर से कर रहे हैं. ताजा मामला नार्थ द‍िल्‍ली नगर निगम (North MCD) का सामने आया है.

    दरअसल, नॉर्थ एमसीडी कम‍िश्‍नर संजय गोयल और उनके मातहत अध‍िकार‍ियों की ओर से पुरानी दिल्ली स्थित पीली कोठी, नया बाजार में चालू चेस्ट क्लिनिक (Municipal Chest Clinic, Pilli Kothi) को बंद करने का फैसला क‍िया है. यह क्‍लीन‍िक बंद कर न‍िगम इस भवन की जमीन को बेचने का प्रस्ताव ला रहा है.

    इसको लेकर पुरानी दिल्ली के नागरिकों में भारी रोष व्‍याप्‍त है. आरोप यह है क‍ि इस मामले को लेकर राजनी‍त‍िक नेतृत्‍व के साथ वार्तालाप नहीं की गई और न ही उसको इस तरह का फैसला लेने से पहले संज्ञान में ल‍िया गया है.

    ये भी पढ़ें: Delhi में कोरोना के बाद अब डेंगू ने पैर पसारे, अस्‍पतालों में फुल होने लगे हैं बेड

    दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता और नॉर्थ द‍िल्‍ली मेयर सरदार राजा इकबाल सिंह से मांग की है कि वह इस मामले में हस्तक्षेप कर अधिकारियों की इस मनमानी को रोके. उन्होने कहा है क‍ि नॉर्थ न‍िगम में एक मुख्य अभियंता हैं जो इस प्रकार के अव्यावहारिक जमीनें बेचने के प्रस्ताव बनवा रहे हैं और फिर बिना राजनीतिक नेतृत्व की स्वीकृति लिए इसको मीड‍िया को बता चर्चा में लाकर भाजपा की बदनामी कराते हैं, जिसकी जांच आवश्यक है.

    कपूर ने बताया की पीली कोठी पर अंग्रेजों के काल में टी.बी. क्लीनिक बनाया गया था जिसे 1999 में तत्कालीन निगम स्थाई समिति अध्यक्ष शांति देसाई (Shanti Desai Chest Clinic) ने एक आधुनिक चेस्ट क्लिनिक में परिवर्तित किया था. यह क्लिनिक आसपास के क्षेत्र में बहुत उपयोगी है पर गत कुछ समय से निगम अधिकारी इसे ठप्प करके यहाँ से स्थानांतरित करवाने में लगे हैं जिसे रोका जाना जनहित में है. कपूर ने मांग की है कि पीली कोठी स्थित इस चेस्ट क्लिनिक का नाम पूर्व महापौर शांति देसाई के नाम पर रखा जाए.

    बताते चलें क‍ि नार्थ एमसीडी (North MCD) की ओर से कई जमीनों को बेचने के मामले को लेकर आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) भी लगातार शोर शराबा करती आ रही है. नॉवल्‍टी स‍िनेमा की जमीन को कोड‍ियों के भाव बेचने और दूसरी कई जमीन को बेचे जाने के मामले को लेकर आम आदमी पार्टी सत्‍तारूढ न‍िगम भाजपा और नेताओं पर आरोप लगाती आ रही है. लेक‍िन अब भाजपा के नेता ही अध‍िका‍र‍ियों की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करने लग हैं. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि न‍िगम चुनावों में अब छह माह का वक्‍त होते देख मनमर्जी भी करने लगे हैं.

    Tags: AAP, BJP, Delhi MCD, Delhi MCD election, Health News, MCD

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर