Home /News /delhi-ncr /

MCD Elections 2022: AAP का MCD पर हमला-साउथ व नॉर्थ के बाद अब EDMC ने बढ़ाया टैक्‍स का बोझ, इन सभी पर देना होगा ज्‍यादा टैक्‍स

MCD Elections 2022: AAP का MCD पर हमला-साउथ व नॉर्थ के बाद अब EDMC ने बढ़ाया टैक्‍स का बोझ, इन सभी पर देना होगा ज्‍यादा टैक्‍स

साउथ और नॉर्थ एमसीडी के बाद अब ईस्ट एमसीडी ने भी अपने बजट में टैक्स का बोझ बढ़ा दिया है. (फाइल फोटो)

साउथ और नॉर्थ एमसीडी के बाद अब ईस्ट एमसीडी ने भी अपने बजट में टैक्स का बोझ बढ़ा दिया है. (फाइल फोटो)

MCD Elections 2022: साउथ और नॉर्थ एमसीडी के बाद अब ईस्ट एमसीडी (East MCD) ने भी अपने बजट (Budget) में टैक्स का बोझ बढ़ा दिया है. प्रॉपर्टी टैक्स में 2-3% बढ़ोतरी की और सरकारी आवास पर 5% टैक्स बढ़ाया. एमसीडी से बिल्डिंग प्लान बनवाने पर 10% टैक्स बढ़ाया. बैटरमेंट के नाम पर 15% टैक्स लगाया और प्रोफेशनल टैक्स के नाम पर 1200 से 3000 रुपए का टैक्स लगाया. एमसीडी से नक्शा पास कराने पर अब 5 रुपए प्रति वर्ग मीटर की जगह 50 रुपए प्रति वर्ग मीटर देना होगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. साउथ और नॉर्थ एमसीडी के बाद अब ईस्ट एमसीडी (East MCD) ने भी अपने बजट (Budget) में टैक्स का बोझ बढ़ा दिया है. प्रॉपर्टी टैक्स में 2-3% बढ़ोतरी की और सरकारी आवास पर 5% टैक्स बढ़ाया. एमसीडी से बिल्डिंग प्लान बनवाने पर 10% टैक्स बढ़ाया. बैटरमेंट के नाम पर 15% टैक्स लगाया और प्रोफेशनल टैक्स के नाम पर 1200 से 3000 रुपए का टैक्स लगाया. एमसीडी से नक्शा पास कराने पर अब 5 रुपए प्रति वर्ग मीटर की जगह 50 रुपए प्रति वर्ग मीटर देना होगा.

    आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि सब मानते हैं कि अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने अपने पूरे शासन में एक भी नया टैक्स दिल्ली की जनता पर नहीं लगाया. जो टैक्स पहले से थे उन्हें या तो कम कर दिया या पूरी तरह खत्म कर दिया. भाजपा शासित एमसीडी (BJP ruled MCD) पहली सरकार होगी जिसका बजट हर साल घटता जा रहा है. आम आदमी पार्टी (AAP) इसका कड़ा विरोध करती है.

    ये भी पढ़ें: Air Pollution: कंस्‍ट्रक्‍शन वर्करों के अकाउंट में हुए 5000-5000 रुपए ट्रांसफर, 350 करोड़ जारी

    दुर्गेश पाठक ने कहा कि जब भी कोई राज्य अपना बजट पेश करता है, तो उस राज्य के सभी निवासी बहुत ही उत्साह और आशा की नजर के साथ देखते हैं. आपने देखा होगा कि पिछले एक हफ्ते के अंदर पहले भाजपा शासित साउथ एमसीडी का बजट आया फिर नॉर्थ एमसीडी का बजट आया और अब ईस्ट एमसीडी का बजट आया है.

    जब साउथ एमसीडी का बजट आया तो आपने देखा कि उसमें कई तरह के टैक्स बढ़ा दिए गए. ऐसा कोई वर्ग नहीं छोड़ा जिसपर टैक्स नहीं लगाया हो. आपने नॉर्थ एमसीडी का बजट देखा कि शायद नॉर्थ का बजट ही बेहतर हो. लेकिन नॉर्थ एमसीडी का उससे भी बुरा हाल रहा. यह पहली ऐसी सरकार होगी जिसमें हर साल बजट घटता जा रहा है. इस बार भी नॉर्थ एमसीडी ने अपना बजट घटा दिया. तो जनता को उम्मीद थी कि शायद ईस्ट एमसीडी का बजट सही हो. दुर्भाग्य से ईस्ट एमसीडी ने भी वही रास्ता अपनाया जो साउथ एमसीडी और नॉर्थ एमसीडी ने अपनाया.

    बजट में बढ़े टैक्स पर बात करते हुए दुर्गेश पाठक ने कहा कि ईस्ट एमसीडी के बजट के अनुसार यदि आज आप कोई संपत्ति खरीदते हैं तो उस पर इन्होंने 2-3% टैक्स बढ़ा दिया है. सरकारी आवास है तो उस पर 5% का टैक्स बढ़ा दिया है. अगर आप एमसीडी से बिल्डिंग प्लान बनवाने जाते हैं तो उस पर 10% की बढ़ोतरी कर दी है. यह बेटरमेंट टैक्स क्या होता है? यह तो पूरी तरीके से सरकार की जिम्मेदारी होती है लेकिन ईस्ट एमसीडी अपने नागरिकों से बैटरमेंट टैक्स के तौर पर 15% टैक्स लेगी.

    Tags: Aam aadmi party, AAP, Budget, Delhi MCD, Delhi MCD Elections, Delhi news, MCD

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर