MCD ने गीले कूड़े से तैयार की हजारों किलो जैविक खाद, जानिए किसे हो रही फ्री सप्लाई?

एसडीएमसी गीले कूड़े के निपटारे को लेकर लगातार प्रयासरत है.

एसडीएमसी गीले कूड़े के निपटारे को लेकर लगातार प्रयासरत है.

वेस्ट जोन में लगाए गए 5 टीडीपी क्षमता के एरोबिक कम्पोस्ट प्लांट, टैगोर गार्डन से मार्च माह के भीतर 60,000‍ किलोग्राम गीले कूड़े का निपटारा कि‍या गया है. इस कंपोस्ट प्लांट के जरिए पि‍छले पांच माह में 63,000 किलोग्राम जैविक खाद (Organic Manure) तैयार की गई है.

  • Share this:
नई दिल्ली. साउथ दिल्ली नगर निगम (South MCD) गीले कूड़े के निपटारे को लेकर लगातार प्रयासरत है. वेस्ट जोन में लगाए गए 5 टीडीपी क्षमता के एरोबिक कम्पोस्ट प्लांट, टैगोर गार्डन से मार्च माह के भीतर 60,000‍ किलोग्राम गीले कूड़े का निपटारा कि‍या गया है.

इस कंपोस्ट प्लांट के जरिए पि‍छले पांच माह में 63,000 किलोग्राम जैविक खाद (Organic Manure) तैयार की गई है. इसको दक्षिणी निगम के उद्यान विभाग, विद्यालयों एवं आरडब्ल्यूए को वितरित किया गया.

दक्षिणी निगम (South Corporation) टैगोर गार्डन में स्थित 5 टी डी पी क्षमता के एरोबिक कम्पोस्ट प्लांट का सफलतापूर्वक संचालन कर रहा हैं. आज टैगोर गार्डन के कंपोस्ट प्लांट से उत्पादित 10,000 कि.ग्रा जैविक खाद उद्यान विभाग को दी गई.

स्वच्छ भारत मिशन के नोडल अधिकारी राजीव जैन ने कहा कि इस प्लांट द्वारा प्रतिदिन आस-पास के क्षेत्र से गीले कूड़े का निष्पादन किया जाता है जो आस-पास के क्षेत्रों से एकत्रित होता है.
राजीव जैन ने कहा कि यह दिल्ली का सबसे कम लागत वाला कंपोस्ट प्लांट है तथा यहां पर जैविक खाद को बनाने के लिए अपशिष्ट कूड़े में थोड़ी मिट्टी और पुरानी खाद को मिलाया जाता है.

Wet Garbage, South mcd, mcd, Corporation, Compost plant, Organic Manure, एसडीएमसी गीले कूड़े के निपटारे को लेकर लगातार प्रयासरत है.
एसडीएमसी गीले कूड़े के निपटारे को लेकर लगातार प्रयासरत है.


इस खाद को अलग-अलग मॉड्यूल जैसे ड्रम कंपोस्टर, अलग-अलग आकार के जाली बक्से में तैयार किया जाता है. खाद बनाने के लिए सिर्फ तीन सप्ताह का समय लगता है. वर्तमान में पश्चिमी क्षेत्र के सभी 29 वार्डों में गीले एवं सूखे कूड़े का अलग-अलग पृथक्करण किया जा रहा है.



सिंगल यूज प्लास्टिक प्रयोग करने वाले दुकानदारों के काटे 50 चालान

इसके अलावा एसडीएमसी की ओर से सभी जोनों में बड़े स्तर पर सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत दुकानदार को प्लास्टिकों के दुष्प्रभावों के बारें में जागरूक किया जा रहा है.

साउथ जोन में सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग करने वाले दुकानदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए 50 चालान किये गये. साउथ जोन की युसफ सराय मार्किट में निगम अधिकारियों ने 15 किलो प्लास्टिक जब्त किया.

साथ ही अधिकारियों ने दुकानदारों को सचेत किया कि वह सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग न करे और अपनी दुकानों के आस-पास स्वच्छता बनाये रखे वरना उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज