MCD ने स्वामी दयानंद अस्पताल में बनाये 30 कोविड बेड, जल्द 50 और जोड़ने की तैयारी!

स्वामी दयानंद अस्पताल में कोविड मरीजों की सुविधा के मद्देनजर बेड की व्यवस्था की है.

स्वामी दयानंद अस्पताल में कोविड मरीजों की सुविधा के मद्देनजर बेड की व्यवस्था की है.

COVID-19 in Delhi: ईस्ट निगम के स्वामी दयानंद अस्पताल में कोरोना रोगियों के लिए 10 बैड्स की व्यवस्था की गई थी जिसे बढ़ाकर 30 कर दिया गया हैै. जल्द ही इन 30 बैड्स के अलावा 50 बैड्स की और व्यवस्था कर दी जायेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 2:24 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले को लेकर दिल्ली नगर निगम (MCD) की ओर से भी इसकी रोकथाम में बड़े कदम उठाए जा रहे हैं. निगम भी सरकार के साथ सहयोग करते हुए महामारी की रोकथाम के लिए लगातार उपाय कर रही हैं.

निगम ने अपने अधीनस्थ अस्पतालों में कोविड बेड की व्यवस्था करना शुरू कर दी है. ईस्ट एमसीडी (East MCD) ने दिलशाद गार्डन में स्थित स्वामी दयानंद अस्पताल (Swami Dayanand Hospital) में कोविड मरीजों की सुविधा के मद्देनजर बेड की व्यवस्था की है. और उसकी संख्या को भी आने वाले समय में बढ़ाने की योजना तैयार की है.

दिल्ली में कोराना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए इसकी रोकथाम उपायों के मद्देनजर ईस्ट दिल्ली नगर निगम (East MCD) ने दिलशाद गार्डन स्थित स्वामी दयानंद अस्पताल में जरूरी इंतजाम किए है.

ईस्ट दिल्ली के मेयर निर्मल जैन ने बताया कि इस त्रासदी से निपटने के लिए स्वामी दयानंद अस्पताल में कोरोना रोगियों के लिए 10 बैड्स की व्यवस्था की गई थी जिसे आज बढ़ाकर 30 कर दिया गया हैै.
मेयर ने बताया कि जिस प्रकार दिल्ली में कोराना संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है उसको ध्यान में रखते हुए स्वामी दयानंद अस्पताल में इन 30 बैड्स के अलावा 50 बैड्स की जल्द ही व्यवस्था और कर दी जायेगी.

उन्होंने बताया कि अस्पताल के दो वार्डों में कोरोना रोगियों के लिए 30-40 बैड्स की व्यवस्था करवाने के लिए भी कार्य किया जा रहा है.

मेयर ने जानकारी देते हुए बताया कि निगमायुक्त विकास आनंद और अपर आयुक्त अल्का शर्मा ने उच्च अधिकारियों के साथ स्वामी दयानंद अस्पताल का दौरा कर आवश्यक इंतजाम करने की दिशा में उच्च स्तरीय बैठक की.



ओपीडी की व्यवस्था स्थगित की गई 

उन्होंने बताया कि अब अस्पताल में स्त्री रोग, बाल रोग पेंन्शनर्स एवं वरिष्ठ नागरिकों के लिए ही ओपीडी चलेगी. अन्य सभी रोगों के लिए ओपीडी की व्यवस्था स्थगित कर दी गई है.

अस्पताल की आपातकालीन सेवा काेविड इमरजेंसी में तब्दील 

जैन ने बताया कि अस्पताल की आपातकालीन सेवा अब काेविड इमरजेंसी में तब्दील कर दी गई है. उन्होंने बताया कि अब अस्पताल में प्रसूति या बच्चों से संबंधित सर्जरी होंगी. इसके अलावा कोई सर्जरी नहीं होगी. मेयर जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम अपने उपलब्ध संसाधनों के अनुसार पूरी तत्परता से कार्य कर रहा है.

श्मशान घाटों पर लगाये हेल्थ इंस्पेक्टर

उन्होंने बताया कि EDMC ने प्रत्येक श्मशान घाट जैसे सीमापुरी, गाजीपुर तथा कड्कडडूमा श्मशान घाट में स्वास्थ्य इंस्पेक्टर भी तैनात किये हैं जिससे जनता को कोई असुविधा ना हों. बतातें चले कि‍ हर रोज बड़ी संख्‍‍‍‍या में इन श्‍‍‍मशान घाटों पर कोव‍िड मरीजों के शव दाह संस्‍कार के ल‍िये पहुंच रहे हैं.

GTB से शव ले जाने को नि:शुल्क 3 एंबुलेंस शुरू की

इसके अलावा ईस्ट निगम द्वारा 3 एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है जो कोराना मृतकों को गुरू तेग बहादुर अस्पताल (GTB Hospital) से लेकर श्मशान घाट तक लेकर जायेगी. इस सुविधा के लिए ईडीएमसी द्वारा मृतक के परिजनों से कोई शुल्क नहीं वसूला जायेगा.

अधिकारियों को दैनिक रिपोर्ट देने के निर्देश 

मेयर जैन ने बताया कि कोरोना त्रासदी से हम सभी को साथ मिलकर लड़ना होगा तभी इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है. सभी संबंधित अधिकारियों को दैनिक रिपोर्ट देने के निर्देश भी दिये. साथ ही यह भी कहा कि इस संबंध में कोई भी कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज