• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • UP के बाद दिल्ली में कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार से मांगी 300 बसें चलाने की अनुमति

UP के बाद दिल्ली में कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार से मांगी 300 बसें चलाने की अनुमति

दिल्ली कांग्रेस प्रवासी मजदूरों के लिए 300 बसें चलाना चाहती है. (फाइल फोटो)

दिल्ली कांग्रेस प्रवासी मजदूरों के लिए 300 बसें चलाना चाहती है. (फाइल फोटो)

दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अनिल चौधरी (Anil Chaudhary) ने इससे पहले एक वीडियो शेयर कर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर निशाना साधा था. इस वीडियो में चौधरी ने आरोप लगाया था कि प्रवासी मजदूरों से बसों में भेजने के नाम पर 4-4 हजार रुपये लिए गए हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के बाद अब दिल्ली की केजरीवाल सरकार से भी कांग्रेस पार्टी ने प्रवासी मजदूरों (Migrants Workers) के लिए बस (Bus) चलाने की अनुमति मांगी है. यूपी (UP) के बाद दिल्ली में भी अब प्रवासियों को लेकर बस चलाने मुद्दा गर्मा सकता है. दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अनिल चौधरी ने (Anil Chaudhary) ने सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को पत्र लिख कर कहा है कि दिल्ली कांग्रेस प्रवासी मजदूरों के लिए 300 बसें चलाना चाहती है. इसका खर्च दिल्ली कांग्रेस वाहन करेगी. चौधरी ने पत्र में आगे लिखा है कि नियमों का पालन करते हुए सभी कानूनी प्रक्रियाओं के तहत 300 बसें चलाने की अनुमति दी जाए.

    दिल्ली कांग्रेस 300 बसें चलाने की अनुमति मांगी
    बता दें कि 24 घंटे पहले ही चौधरी ने एक वीडियो शेयर किया था. इस वीडियो में चौधरी ने दिल्ली सरकार पर आरोप लगाया था कि प्रवासी मजदूरों से बसों में भेजने के नाम पर 4-4 हजार रुपये लिए गए हैं. चौधरी ने वीडियो के जरिए केजरीवाल सरकार से जवाब मांगा था.



    गौरतलब है कि दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष पिछले कई दिनों से सुर्खियों में चल रहे हैं. कुछ दिन पहले ही वह तब चर्चा में आए थे जब राहुल गांधी के साथ वह दिल्ली के सुखदेव विहार में प्रवासी मजदूरों से मिलने चले गए. दिल्ली पुलिस ने लॉकडाउन नियम तोड़ने के आरोप में घर में ही डिटेन किया था. बाद में उनकी गिरफ्तारी दिखाई गई. बाद में थाना से ही उनको जमानत मिल गई.

    दिल्ली पुलिस ने एफआईआर में लिखा है कि अनिल चौधरी प्रवासी मजदूरों को लेकर गाजीपुर बॉर्डर पर बिना इजाजत के इकट्ठा हो गए. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया. अनिल चौधरी का कहना है कि हमे कहा गया है कि उत्तर प्रदेश और बिहार के प्रवासी मजदूरों की मदद करें, जो मैं कर रहा हूं.

    ये भी पढ़ें: एक्सपर्ट बोले- इतना आसान नहीं है कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाना, दवा पर है काम जारी

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज