मंत्री ने द‍िये आदेश, हर जि‍ले में रेमेडीसि‍व‍िर, टोसिलिजुमब, ऑक्सीजन के मुनाफाखोरों के खि‍लाफ हो छापेमारी

कोई भी केमिस्ट, खुदरा विक्रेता, व्यापारी आदि  नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

कोई भी केमिस्ट, खुदरा विक्रेता, व्यापारी आदि नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

दिल्ली सरकार के लीगल मेट्रोलॉजी विभाग को आदेश दिए गए हैं कि हर जिले में एनफोर्समेंट टीम का गठन किया जाए और ओवरचार्जिंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए. ऐसे समय में ओवर चार्जिंग करने वालों के खिलाफ किसी भी सूरत में नरमी नहीं बरतने के आदेश भी दिये गये हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 9:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना (Corona) संक्रमण के चलते हालात बेहद खराब हो चुके हैं. ऐसे में सरकार ने आज रात्रि से 6 दिन के लिए मिनी लॉकडाउन की घोषणा भी की है. वहीं, ऑक्सीजन (Oxygen), रेमेडीसि‍व‍िर (Remdesivir) और टोसिलिज़ुमब (Tocilizumab) इंजेक्शन आदि और दूसरी जरूरी चीजों पर ओवरचार्जिंग कर मुनाफा कमाने पर लगाम कसने के लिए आदेश दिए गए हैं.

साथ ही दिल्ली सरकार के लीगल मेट्रोलॉजी विभाग को आदेश दिए गए हैं कि हर जिले में एनफोर्समेंट टीम का गठन किया जाए और ओवरचार्जिंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए. ऐसे समय में ओवर चार्जिंग करने वालों के खिलाफ किसी भी सूरत में नरमी नहीं बरतने के आदेश भी दिये गये हैं.

दिल्ली के खाद्य और नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री इमरान हुसैन ने लीगल मेट्रोलॉजी विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. मंत्री ने कहा कि आवश्यक वस्तुओं विशेष रूप से आवश्यक दवाओं जैसे की ऑक्सीजन (Oxygen), रेमेडिसविर (Remdesivir) और टोसिलिज़ुमब (Tocilizumab) इंजेक्शन इत्यादि की बिक्री में कुछ डीलरों, खुदरा विक्रेताओं, निर्माताओं, केमिस्ट आदि द्वारा ओवरचार्जिंग के मामलें सामने आये हैं.

यह भी कहा गया कि पैकेज्ड कमोडिटी रूल्स के अंतर्गत पैकेज्ड कमोडिटीज पर निर्माता / पैकर / आयातक का नाम और पता, उत्पाद का सामान्य नाम, शुद्ध मात्रा, निर्माण और प्री-पैकिंग का महीना और वर्ष एवम् उसकी वैधता, एमआरपी (सभी करों को मिलाकर) तथा उस व्यक्ति का नाम, पता, टेलीफोन नंबर जिसे उपभोक्ता शिकायत के मामले में संपर्क कर सकता है, जैसी अनिवार्य घोषणाओं की छपाई आवश्यक होती है.
इस पैकेज्ड कमोडिटी रूल्स (पीसीआर) के अनुपालन में विफलता पर रिटेलर/निर्माता/व्यापारी आदि के खिलाफ लीगल मेट्रोलॉजी अधिनियम, 2009 और पैकेज्ड कमोडिटीज रूल्स, 2011 के तहत कानूनी कार्रवाई की जा सकती है. खाद्य मंत्री ने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को दैनिक आधार पर फील्ड स्टाफ के कामकाज की समीक्षा करने का निर्देश दिया.

उन्होंने अधिकारियो को यह भी निर्देश दिया कि वो इस बात का ध्यान रखें कि किसी भी कीमत पर कोविड महामारी के कारण उत्पन्न हुए स्वास्थ्य संकट का कोई भी केमिस्ट, खुदरा विक्रेता, व्यापारी आदि अनुचित लाभ नहीं उठा पाए. यदि कोई भी केमिस्ट, खुदरा विक्रेता, व्यापारी आदि इन नियमों का उल्लंघन करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए.

उन्होंने इसके लिए हर जिले में एक प्रवर्तन दल (Enforcement Team) का गठन करने और आम जनता की जानकारी के लिए संपर्क विवरण, विभाग या दिल्ली सरकार की वेबसाइट पर प्रकाशित करने का निर्देश दिया.



दैनिक आधार पर शाम 5 बजे तक देनी होगी कार्रवाई रिपोर्ट 

मंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों को दैनिक आधार पर इस संबंध में फील्ड कर्मचारियों द्वारा की गई कार्रवाई की समीक्षा करने और दैनिक कार्रवाई के बारे में व्यक्तिगत रूप से सूचित करने का निर्देश भी दिया. इसके अलावा उन्होंने अधिकारियों को इस सम्बन्ध में दैनिक आधार पर शाम 5 बजे तक रिपोर्ट भेजने का निर्देश भी दिया.

वस्तुओं पर ओवरचार्जिंग की सूचना लीगल मेट्रोलॉजी विभाग को दें

इमरान हुसैन ने खुदरा विक्रेताओं, व्यापारियों, निर्माताओं आदि से अपील की कि वे कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण उत्पन्न हुए इस स्वास्थ्य संकट मे सरकार का सहयोग करें तथा पैकेज्ड कमोडिटी रूल्स के प्रावधानों का अनुपालन करें.

खाद्य मंत्री ने दिल्ली के नागरिकों से भी अपील की कि वे पैक्ड वस्तुओं तथा अन्य आवश्यक वस्तुओं पर किसी भी तरह की ओवरचार्जिंग की सूचना लीगल मेट्रोलॉजी विभाग को दें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज