Home /News /delhi-ncr /

Mob Lynching in MP: लाठी डंडों से पीटा, फिर गाड़ी से बांध घसीटा, आदिवासी युवक की मौत

Mob Lynching in MP: लाठी डंडों से पीटा, फिर गाड़ी से बांध घसीटा, आदिवासी युवक की मौत

लड़के के पांव बांधकर उसे पिकअप वैन से बांधा गया और सड़कों पर घसीटा गया.

लड़के के पांव बांधकर उसे पिकअप वैन से बांधा गया और सड़कों पर घसीटा गया.

इस मामले पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने कहा कि 8 आरोपियों की पहचान की गई. 4 को राउंडअप किया गया. मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया गया. बाकियों को भी जल्द गिरफ्तार करेंगे. याद रहे कि इस वारदात की सूचना खुद अपराधियों ने पुलिस को दी थी.

    नोएडा. मध्य प्रदेश के नीमच से हैवानियत भरी वारदात सामने आई है. यहां मामूली विवाद के बाद कुछ लोगों ने एक आदिवासी युवक की पहले बुरी तरह पिटाई की, उसके बाद उसे गाड़ी से बांधकर घसीटा गया. घायल हुए युवक की मौत इलाज के दौरान हो गई. समाचार एजेंसी एएनआई ने इस बारे में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के हवाले से अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा ‘मध्य प्रदेश: नीमच में 1 व्यक्ति की चोरी के शक में पीटकर हत्या की गई. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया, “मृतक को वाहन के पीछे बांधकर घसीटा गया था. 8 आरोपियों की पहचान की गई. 4 को राउंडअप किया गया. मुख्य आरोपी को गिरफ़्तार किया गया. बाकियों को भी ज़ल्द गिरफ़्तार करेंगे.’

    कमलनाथ ने उठाए सवाल

    इस वारदात का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. इस मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी शिवराज सरकार को घेरते हुए पूछा है कि आखिर मध्य प्रदेश में क्या हो रहा है. उन्होंने इस घटना का वीडियो भी साझा किया है.

    अतिरिक्त पुलिस निरीक्षक का बयान

    Mob Lynching in MP मध्य प्रदेश में मॉब लिंचिंग, Neemuch नीमच, Tribal youth beaten up आदिवासी युवक को पीटा, dragged by pickup van पिकअप वैन से बांधकर घसीटा, minor dispute मामूली विवाद, Kamal Nath कमलनाथ, MP Police एमपी पुलिस, crime in mp मध्य प्रदेश में अपराध, viral video वायरल वीडियो, social media सोशल मीडिया

    मध्य प्रदेश पुलिस ने इस वारदात की पुष्टि की है.

    आदिवासी युवक की पहचान कन्हैया लाल भील

    स्थानीय मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, मारे गए आदिवासी युवक का नाम कन्हैया लाल भील है. वह अपने साथी के साथ ग्राम कलां से गुजर रहा था. तभी उसकी बाइक की टक्कर गुर्जर समाज के व्यक्ति से हो गई. तब गुर्जर समाज के लोगों ने आदिवासी युवक की पिटाई लाठी-डंडों से की. इसके बाद इनलोगों ने क्रूरता की हदें पार करते हुए आदिवासी युवक को पिकअप वाहन से बांधकर उसे काफी दूरी तक घसीटा. इस वारदात को अंजाम देते हुए उन्होंने खुद इसकी वीडियो भी बनाई.

    पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का ट्वीट

    वारदात 26 अगस्त की

    बताया जा रहा है कि वारदात 26 अगस्त की है. पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों को नामजद किया है. चित्रमल गुर्जर और महेंद्र गुर्जर नाम के दो आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. जो युवक घटना के वक्त पिक चला रहा था, उसे भी हिरासत में लिया जा चुका है. पुलिस का दावा है कि जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

    अपराधियों ने खुद दी सूचना पुलिस को

    स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अपराधियों ने खुद ही पुलिस को इसकी सूचना दी. उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने एक चोर को पकड़ा है, जो घायल है. मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को नीमच अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इसके बाद वायरल वीडियो के जरिए यह सचाई सामने आई कि हाथ पैर बांधकर आदिवासी युवक को सड़क पर घसीटा गया था.

    Tags: Crime in MP, Mob lynching, Neemuch news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर