Home /News /delhi-ncr /

किसानों से यूपी गेट खुलवाने के लिए बॉर्डर इलाके के लोग शुरू करेंगे रास्‍ता खोलो आंदोलन, जानें पूरा प्‍लान

किसानों से यूपी गेट खुलवाने के लिए बॉर्डर इलाके के लोग शुरू करेंगे रास्‍ता खोलो आंदोलन, जानें पूरा प्‍लान

सोशल मीडिया में शुरू किया अभियान . (सांकेतिक फोटो)

सोशल मीडिया में शुरू किया अभियान . (सांकेतिक फोटो)

Kisan andolan: प्रधानमंत्री द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के बाद किसान यूपी गेट पर डटे हुए हैं. इस वजह से गाजियाबाद से दिल्‍ली की ओर जाने वाले वाहन चालकों को परेशानी हो रही है. मांगें पूरी होने के बाद भी किसानों द्वारा रास्‍ता न खोलने से लोगों में नाराजगी है. किसानों को हटाने के लिए दिल्‍ली बॉर्डर में रहने वाले लोग रास्‍ता खोलो आंदोलन चलाएंगे.

अधिक पढ़ें ...

    गाजियाबाद. प्रधानमंत्री द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के बाद यूपी गेट पर रास्‍ता रोके किसानों को हटाने के लिए दिल्‍ली बॉर्डर में रहने वाले लोग रास्‍ता खोलो आंदोलन चलाएंगे. इस आंदोलन के लिए इंदिरापुरम, कौशांबी, वैशाली, वसुंधरा और राजनगर एक्‍सटेंशन की आरडब्‍ल्‍यू  ने एकजुट होकर सोशल मीडिया में अभियान शुरू किया है. इसके अलावा सांकेतिक रूप में धरना देने की शुरुआत कौशांबी से हो चुकी है.

    तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के बाद किसान यूपी गेट पर डटे हुए हैं. इस वजह से गाजियाबाद  से दिल्‍ली की ओर जाने वाले वाहन चालकों को परेशानी हो रही है.  80000 के करीब वाहन चालकों का रोजाना घंटों का समय बर्बाद हो रहा है. मांगें पूरी होने के बाद भी किसानों द्वारा रास्‍ता न खोलने से लोगों में नाराजगी है. दिल्‍ली बॉर्डर की कॉलोनियों के लोग इसके खिलाफ आंदोलन चलाने की तैयारी कर रहे हैं. सोशल मीडिया के माध्‍यम से आंदोलन शुरू कर दिया है. इस आंदाेलन का नाम रास्‍ता खोलो आंदोलन दिया गया है. इसके इसके तहत इंदिरापुरम कौशांबी, वैशाली, वसुंधरा के लोग किसानों पास जाकर आग्रह करेंगे कि रास्‍ता खोलकर उनका समय और रोजाना पेट्रोल में खर्च होने वाला अतिरिक्‍त रुपया बचाने में मदद करें.

    सांकेतिक धरना शुरू

    रास्‍ता खोलने को लेकर आरडब्‍ल्‍यूए ने सांकेतिक धरना भी शुरू कर दिया है. कौशांबी में नंदा टॉवर के पास लोगों ने सांकेतिक धरना दिया और किसानों से रास्‍ता खोलने का आग्रह किया.

    सोशल मीडिया में चल रहा है यह मैसेज

    प्रिय साथियों, हमारे किसान भाइयों की पिछले क़रीब एक साल से नए कृषि क़ानूनों को वापिस लेने की माग थी, जिसके कारण उन्होंने ग़ैर क़ानूनी (संशोधन दरकार) तरीक़े से दिल्ली border के नए बने Highway को जाम किया हुआ है. प्रधानमंत्री ने स्पष्ट रूप से उनकी मांगें मान ली हैं, लेकिन किसान भाइयों ने अभी भी रास्ता खोलने से मना कर दिया है. इस रास्ता बंदी के कारण हम लोगों का करोड़ों रुपया का petrol/diesel और समय अब तक बर्बाद हो चुका है. हमारी तकलीफ़ न तो सरकार महसूस कर रही है, न अदालत और न ही किसान भाई महसूस कर रहे हैं. अब बर्दाश्त नहीं होता है. तो क्यों न हम लोग भी एकजुट हो कर इस अन्याय के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाएं? क्यों न एक बार UP Gate पर चल कर किसान नेताओं को बताए कि हमारी परेशानी भी देखें.

    Tags: Kisan, Kisan Aandolan, Kisan Andolan, New Agricultural Law

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर