• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Bihar : मुकेश सहनी ने की अहमद पटेल से दिल्ली में मुलाकात, सीटों का गणित जल्द सुलझने का दावा

Bihar : मुकेश सहनी ने की अहमद पटेल से दिल्ली में मुलाकात, सीटों का गणित जल्द सुलझने का दावा

अहमद पटेल (फाइल फोटो)

अहमद पटेल (फाइल फोटो)

अहमद पटेल से मुलाकात के बाद मुकेश सहनी ने दावा किया है कि जल्द ही महागठबंधन में सीटों के बंटवारे और तालमेल के बारे में सबकुछ फाइनल हो जाएगा. दरअसल, महागठबंधन में असली लड़ाई सीटों के बंटवारे को लेकर ही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. विकासशील इनसान पार्टी (वीआईपी) अध्यक्ष मुकेश सहनी (Mukesh Sahni) ने दिल्ली में कांग्रेस (Congress) नेता अहमद पटेल (Ahmed patel) से मुलाकात की है. दिल्ली में अहमद पटेल के घर हुई इस मुलाकात के बाद मुकेश सहनी ने दावा किया कि जल्द ही बिहार में विपक्षी गठबंधन के बीच सभी मुद्दों को सुलझा लिया जाएगा. न्यूज 18 से मुकेश सहनी ने कहा, ‘कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से मुलाकात के दौरान बिहार (Bihar) में विधानसभा चुनाव (Assembly elections) को लेकर महागठबंधन की तैयारियों पर चर्चा हुई. इसके अलावा बिहार में बाढ़ (Flood) और कोरोना (Corona) के हालात को लेकर भी बात हुई. कोराना काल में विधानसभा चुनाव होने की स्थिति में महागठबंधन में वक्त रहते कैसे सभी मसले हल कर लिए जाएं, इसके संदर्भ में भी हमारी अहमद पटेल से बात हुई.’

सहनी का दावा

अहमद पटेल से मुलाकात के बाद मुकेश सहनी ने दावा किया है कि जल्द ही महागठबंधन में सीटों के बंटवारे और तालमेल के बारे में सबकुछ फाइनल हो जाएगा. दरअसल, महागठबंधन में असली लड़ाई सीटों के बंटवारे को लेकर ही है. क्योंकि सबको पता है कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते आरजेडी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के नेतृत्व को मानना ही होगा. लेकिन, सीटों का पेच ही महागठबंधन के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द बना हुआ है.

सूत्रों के मुताबिक, मुकेश सहनी के अलावा उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) और जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) भी जल्द से जल्द सीटों के बंटवारे पर फैसला चाहते हैं. उन्हें इस बात का डर सता रहा है कि कहीं लोकसभा चुनाव 2019 की तरह अंतिम समय तक सीट बंटवारा ही होता रहा तो इसका नुकसान उन्हें उठाना पड़ सकता है.

आरजेडी की दावेदारी RLSP को मंजूर

आरएलएसपी के प्रधान महासचिव माधव आनंद कहते हैं, ‘महागठबंधन में सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी ही है, लिहाजा उसकी बड़ी दावेदारी स्वाभाविक है.’ उन्होंने भी दावा किया, ‘जल्द ही बिहार में महागठबंधन का स्वरूप सामने आ जाएगा और महागठबंधन की सभी पार्टियों के नेता चेहरे समेत सभी मुद्दों पर सहमति के बाद एक साथ एक मंच पर होंगे.’

गौरतलब है कि बिहार में विधानसभा चुनाव अगर तय वक्त पर होता है तो इस साल अक्टूबर-नवंबर में ही चुनाव संपन्न होगा. लिहाजा, सभी राजनीतिक दलों की तरफ से भी चुनाव की तैयारी चल रही है. लगातार जेडीयू से लेकर बीजेपी की तरफ से वर्चुअल रैली की जा रही है. ये अलग बात है कि कोरोना के संक्रमण पर लगाम लगाने के मकसद से बिहार में 16 जुलाई से 31 जुलाई तक लॉकडाउन लागू कर दिया गया है. लेकिन, लॉकडाउन खत्म होने के बाद अगस्त से एक बार फिर चुनाव को लेकर सियासी गतिविधि जोर पकड़ेगी. खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 7 अगस्त को वर्चुअल रैली करने वाले हैं.

वर्चुअल मीटिंग में जुटीं पार्टियां

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी 26 जुलाई को वर्चुअल मीटिंग का फैसला किया है. तेजस्वी अपने सभी जिला अध्यक्षों और युवा जिला अध्यक्षों के अलावा सभी जिला प्रवक्ताओं और पंचायत पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल मीटिंग करेंगे. आरजेडी अबतक कोरोना काल में चुनावी तैयारियों का विरोध करती रही है. लेकिन, बीजेपी और जेडीयू की तैयारी को ध्यान में रखते हुए उसकी तरफ से भी अब तैयारी शुरू हो गई है. अब इसी कड़ी में वीआईपी अध्यक्ष मुकेश सहनी ने दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के करीबी अहमद पटेल से मुलाकात की है. कोशिश महागठबंधन की तस्वीर जल्दी सामने लाने की है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज