• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता त्रिलाेचन सिंह के सिर में मारी गई थी गोली, पुलिस ने हत्यारोपी हरमीत को जम्मू से दबोचा

नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता त्रिलाेचन सिंह के सिर में मारी गई थी गोली, पुलिस ने हत्यारोपी हरमीत को जम्मू से दबोचा

नेशनल काॅन्फ्रेंस नेता त्रिलोचन सिंह की हत्या के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है.

नेशनल काॅन्फ्रेंस नेता त्रिलोचन सिंह की हत्या के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है.

Trilochan Singh Wazir Murder Case: नेशनल काॅन्फ्रेंस के नेता त्रिलोचन सिंह वजीर की हत्या दिल्ली के मोती नगर इलाके में की गई थी, जिसके बाद इस मामले में पहले ही दो गिरफ्तारी हो चुकी हैं, जबकि दो अन्य हत्या आरोपी हरमीत और हरप्रीत फरार थे.

  • News18.com
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता त्रिलोचन सिंह वजीर (Trilochan Singh Wazir) की हत्या (Murder Case) के आरोपी हरमीत सिंह को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) ने जम्मू इलाके से गिरफ्तार किया है. पूर्व एमएलसी त्रिलोचन सिंह वजीर की हत्या दिल्ली के मोती नगर इलाके में की गई थी, जिसके बाद इस मामले में पहले ही दो गिरफ्तारी हो चुकी हैं, जबकि आरोपी हरमीत और हरप्रीत फरार थे. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को इनपुट मिला था कि आरोपी हरमीत जम्मू इलाके में कहीं छिपा है, जिसके बाद एक जाल बिछाया गया और ACP जसबीर सिंह और इंस्पेक्टर पूरन पंत की टीम ने उसे दबोच लिया।

नेशनल कांफ्रेंस के नेता की हत्या की साजिश कैसे रची गई. उसके बारे में आरोपी हरमीत ने कबूला कि वह एक प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है. 3 साल पहले गुरुद्वारा साहिब के कई सदस्यों और त्रिलोचन सिंह वजीर के बीच एक कैलेंडर के संबंध में मतभेद पैदा हो गए थे, जिसे गुरु नानक साहब की तस्वीर के साथ लॉन्च किया जाना था. 22 अगस्त 2021 को वो अपने बेटे के लिए कनाडा वीजा की औपचारिकताओं के संबंध में दिल्ली आया और दिल्ली में वो अपने फ्लैट पर हरप्रीत के साथ रहा, जिसने काम पूरा करने का आश्वासन दिया था.

हरप्रीत ने अपने पास ही होटल में हरमीत के लिए बुक किया था रूम 

31 अगस्त 2021 को हरप्रीत ने त्रिलोचन सिंह वज़ीर के साथ उसके सामने टेलीफोन पर बात की. उसके बाद हरप्रीत ने उसे एक होटल में शिफ्ट होने को कहा. हरप्रीत ने कहा कि अगर वजीर उसे देखेगा तो गुस्सा हो जाएगा. हरप्रीत ने हरमीत सिंह के लिए पास के होटल में एक कमरे की व्यवस्था की और वो वहां शिफ्ट हो गया. फिर 3 सितम्बर 2021 को हरप्रीत होटल के कमरे में आया और उससे कहा कि वज़ीर अपने बेटे को खत्म करने की योजना पर काम करने जा रहा है, जिसके लिए वह कनाडा के लिए वीजा की कोशिश कर रहा है.

हरप्रीत होटल में हरमीत को उकसाता रहा 

हरप्रीत ने आगे बताया कि वजीर अपने पूरे परिवार को खत्म करने के लिए पंजाब और हरियाणा के गैंगस्टरों को पहले ही जम्मू भेज चुका है. हरप्रीत ने आगे कहा कि त्रिलोचन सिंह वजीर की इस सारी बातचीत की पुष्टि राजू गांजा से हो सकती है, जो वहां मौजूद था. 3 सितंबर की शाम को हरप्रीत फिर से होटल के कमरे में आया और हरमीत बार-बार इस बात के लिए उकसाया कि उसके पूरे परिवार को त्रिलोचन वज़ीरसमाप्त कर देगा. उसके लिए परिवार को बचाने का ये आखिरी मौका है वर्ना त्रिलोचन सिंह वजीर कनाडा भाग जाने वाला है.

हरमीत को होटल से अपने फ्लैट ले गया हरप्रीत 

हरप्रीत होटल से हरमीत को अपने फ्लैट में ले गया और उस कमरे से सटे कमरे में छुपा दिया, जहां टीएस वजीर सो रहा था. राजू और एक दूसरा शख्स भी था. हरप्रीत ने उसे एक पिस्टल दी और उसे वजीर के कमरे में ले गया और हरप्रीत के कहने पर उसने वजीर के सिर पर एक राउंड फायर किया. तुरंत पिस्टल छोड़कर फ्लैट से निकल गया. 9 सितम्बर को वह और हरप्रीत गुरुद्वारा फतेहगर पहुंचे जहां हरप्रीत ने उसे तीन पेज का सुसाइड नोट लिखने के लिए मजबूर किया. उसी पर हस्ताक्षर किए और अपना अंगूठा भी लगाया.  गले दिन 10 सितंबर को वहां से आगे बढ़े और जम्मू बस स्टैंड पहुंचे. उस वक्त हरप्रीत ने फेसबुक पर सुसाइड नोट पोस्ट किया था. स्पेशल सेल अब उससे हुई पूछताछ के बाद मामले में आरोपी हरप्रीत की तलाश कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज