मार्च में लव मैरिज, नवंबर में किया प्लांड मर्डर, लेकिन Whatsapp से ऐसे खुल गई साजिश
Delhi-Ncr News in Hindi

मार्च में लव मैरिज, नवंबर में किया प्लांड मर्डर, लेकिन Whatsapp से ऐसे खुल गई साजिश
सिर में दो गोली मारकर नैंसी की हत्या की गई थी. (File Photo)

नैंसी (Nainsi) विकासपुरी में कंप्यूटर (Computer) सेंटर में कोर्स करती थी. सेंटर के नजदीक ही जनकपुरी (Janakpuri) निवासी 21 वर्षीय साहिल चोपड़ा (Sahil Chopra) का कार (Car) सेल-परचेज का ऑफिस था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2019, 6:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तीन साल लिव इन में रहने के बाद इसी साल मार्च में नैंसी शर्मा और साहिल चोपड़ा ने लव मैरिज की थी. फिर नवंबर में एक दिन अचानक नैंसी गायब हो गई. रिपोर्ट भी दर्ज करा दी गई. पहले तो ससुराल वालों ने कहा कि जेवरात लेकर भाग गई है. लेकिन एक दिन नैंसी की सहेली उसकी ससुराल पहुंची तो उसे नैंसी के गायब होने की खबर मिली. उसने तुरंत ही दिल्ली पुलिस को नैंसी का वो व्हाट्सएप मैसेज दिखा दिया जो नैंसी ने किया था. इसके बाद नैंसी की लाश दिल्ली से 100 किमी दूर पानीपत में जाकर मिली.

लिव इन में रहने के बाद की थी शादी
दिल्ली हरिनगर के रहने वाले संजय शर्मा की बड़ी बेटी नैंसी विकासपुरी में कंप्यूटर सेंटर में कोर्स करती थी. सेंटर के नजदीक ही जनकपुरी निवासी 21 वर्षीय साहिल चोपड़ा का कार सेल-परचेज का ऑफिस था. नैंसी की साहिल से दोस्ती हो गई. नैंसी के नाबालिग होने के चलते साहिल उसके साथ सुभाष नगर में तीन साल तक लिव इन में रहा था. उसके बाद इसी साल मार्च में दोनों ने शादी कर ली थी.

साहिल ने इसलिए की नैंसी की हत्या



साहिल चोपड़ा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसे पत्नी नैंसी के चरित्र पर संदेह था. डेढ़ महीना पहले नैंसी के मोबाइल फोन का मेमोरी कार्ड मिला था. कार्ड में नैंसी की शादी के पहले की जिंदगी के राज थे. यह सब बातें उसे व उसके परिवार वालों को नागवार लगीं. इसी के चलते दोनों के बीच बीते डेढ़ महीने से अक्सर झगड़ा होता था.



साहिल और उसके दोस्त ने ऐसे की नैंसी की हत्या
साहिल नैंसी को 11 नवंबर की शाम सात बजे कार में लेकर मुरथल ढाबे पर खाना खाने की बात कहकर घर से बाहर ले आया. कार में पीछे की सीट पर नैंसी व साहिल बैठे हुए थे. कार को साहिल का करनाल निवासी एक दोस्त चला रहा था. वहीं साहिल की दुकान पर काम करने वाला एक युवक भी कार में मौजूद था. रात करीब 12 बजे रिफाइनरी मोड़ के पास नैंसी के सिर में गोली मार दी. आरोपियों की कार की पानीपत टोल प्लाजा के सीसीटीवी कैमरे में फोटो भी आई है.

ऐसे खुला मर्डर की साजिश का राज
प्रांजलि और सरानिया नैंसी की सहेली हैं. 10 नवंबर को नैंसी ने प्रांजलि को मैसेज कर बताया कि साहिल दो दिन से उसके साथ मारपीट कर रहा है. नैंसी ने मारपीट का फोटो भी भेजा और कहा कि दो दिन तक अगर मेरा फोन नहीं मिले तो समझ लेना कि साहिल ने मेरी हत्या कर दी है. मेरे मम्मी-पापा को भी ये बात बता देना. 11 नवंबर को नैंसी का मोबाइल फोन बंद हो गया.

प्रांजलि 13 नवंबर को साहिल के घर गई तो उसकी मां ने बताया कि साहिल और नैंसी हरिद्वार गए हैं. साहिल के दादा ने कहा कि दोनों फ्रांस घूमने गए हैं, जबकि नैंसी का पासपोर्ट नहीं था. इसके बाद प्रांजलि और सरानिया को 22 नवंबर को ये सारी जानकारी नैंसी के पिता संजय शर्मा को जानकारी दी. पिता ने पुलिस को सारी बात बता दी.

ये भी पढ़ें-

नैंसी मर्डर केस: हत्या में इस्तेमाल गाड़ी-पिस्तौल बरामद, सामने आईं 2 तस्वीरें
दुश्मन की गोली नहीं ये 7 बातें तनावग्रस्त बना रही हैं सेना के जवानों को, रिपोर्ट से हुआ खुलासा
यहां लगेगी शराब की सेल, 25 प्रतिशत सस्ती मिलेगी अंग्रेजी शराब और बीयर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading