लाइव टीवी

मोदी सरकार ने हर साल बढ़ाया बजट, लेकिन नेहरू युवा केन्द्र नहीं कर पा रहे खर्च
Delhi-Ncr News in Hindi

नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: February 18, 2020, 2:48 PM IST
मोदी सरकार ने हर साल बढ़ाया बजट, लेकिन नेहरू युवा केन्द्र नहीं कर पा रहे खर्च
साभार नेहरू युवा केन्द्र संगठन.

हैरान करने वाली बात है कि नेहरू युवा केन्द्र (nehru yuva kendra) केन्द्र सरकार (Central government) की ओर से जारी किए गए बजट (Budget) को पूरा खर्च नहीं कर पा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 18, 2020, 2:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नेहरू युवा केन्द्र  (nehru yuva kendra) संगठनों पर नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) सरकार की खास निगाह है. युवा विकास क्लब, खेल (Sports), कला एवं संस्कृति और राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देने के लिए सरकार हर साल बजट जारी कर रही है. खास बात यह है कि बीते कई साल से सरकार बजट में 20 से 25 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी भी कर रही है. तीन साल में ही 60 करोड़ रुपये से ज्यादा की बढ़ोतरी हो चुकी है. लेकिन हैरान करने वाली बात है कि नेहरू युवा केन्द्र सरकार की ओर से जारी किए गए बजट को पूरा खर्च नहीं कर पा रहे हैं.

युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय चलाता है नेहरू युवा केन्द्र

युवा विकास क्लब, खेल, कला एवं संस्कृति और राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देने के लिए नेहरू युवा केन्द्र संगठन कार्यक्रम आयोजित करता है. यह कार्यक्रम ज़िले से लेकर ब्लॉक स्तर पर आयोजित किए जाते हैं. ज़िलास्तर पर अधिकारी इसकी निगरानी करते हैं. खासतौर से ग्रामीण इलाकों में खेलों को बढ़ावा देना इसका खास मकसद होता है.

देशभर के 13206 युवा स्वंयसेवक जुड़े हैं नेहरू युवा केन्द्रों से



नियमानुसार नेहरू युवा केन्द्र संगठन से युवा स्वंयसेवक ही जुड़ते हैं. इसके लिए 18 से 29 वर्ष की उम्र के युवाओं को मौका दिया जाता है. मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों की मानें तो देशभर में 13206 युवा नेहरू युवा केन्द्र संगठन से जुड़े हुए हैं. सबसे ज्यादा 19 से 27 साल के युवा नेहरू युवा केन्द्रों से जुड़े हुए हैं.

नेहरू युवा केन्द्रों का बजट.


नेहरू नाम हटाने की हुई थी चर्चा

कुछ समय पहले नेहरू युवा केन्द्र संगठन अचानक से चर्चाओं में आ गया था. चर्चा इसका नाम बदलने को लेकर उठी थी. कहा जा रहा था कि केन्द्र सरकार केन्द्र से नेहरू शब्द हटाना चाहती है. लेकिन दो वर्ष बाद भी यह सिर्फ एक चर्चा ही साबित हुई. गौरतलब है कि 1972 में 42 ज़िलों से नेहरू युवा केन्द्र संगठन की शुरुआत हुई थी. लेकिन 1986-87 में राजीव गांधी सरकार ने इसका दायरा बढ़ाते हुए 311 ज़िलों तक कर दिया.

 

 

ये भी पढ़ें :- 

सरकार के पास नहीं बाघ-मोर को राष्ट्रीय पशु-पक्षी बताने वाले दस्तावेज, उठाया यह कदम

इसलिए यूपी विधानसभा में उठा दिल्ली की मुफ्त बिजली से जुड़ा यह सवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 18, 2020, 12:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर