Home /News /delhi-ncr /

Delhi-NCR के पास अब 80 नहीं 88 गांव में बसाया जाएगा DNGIR, जानिए प्लान

Delhi-NCR के पास अब 80 नहीं 88 गांव में बसाया जाएगा DNGIR, जानिए प्लान

दिल्ली-एनसीआर के पास दादरी-नोएडा-गाजियाबाद इंवेस्टमेंट रीजन यानि न्यू नोएडा बसाने की तैयारी चल रही है.

दिल्ली-एनसीआर के पास दादरी-नोएडा-गाजियाबाद इंवेस्टमेंट रीजन यानि न्यू नोएडा बसाने की तैयारी चल रही है.

नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) से जुड़े अफसरों की मानें तो जमीन अधिग्रहण में कोई दिक्कत न आ जाए इसके लिए गुपचुप तरीके से 12 चिन्हित गांवों के दस्तावेज तैयार किए जा रहे हैं. इसीलिए अभी तक गांवों के नाम भी नहीं खोले गए हैं. न्यू नोएडा (New Noida) का मास्टर प्लान तैयार करने के लिए आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) और खड़गपुर ने भी आवेदन किया था. लेकिन रेट के आधार पर दिल्ली (Delhi) के स्कूल ऑफ प्लॉनिंग एण्ड आर्किटेक्चर संस्थान को चुना गया था. जुलाई से कंपनी ने काम शुरू कर दिया है. 10 महीने में मास्टर प्लान (Master Plan) तैयार करना है. प्लान तैयार करते वक्त कंपनी को यह भी बताया गया है कि नया शहर इंटेग्रेटेड सिटी के आधार पर बसाना है.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के पास दादरी-नोएडा-गाजियाबाद इंवेस्टमेंट रीजन (DNGIR) यानि न्यू नोएडा बसाने की तैयारी चल रही है. पहले दादरी और बुलंदशहर (Bulandshahr) के 80 गांवों में न्यू नोएडा बसाने की थी. लेकिन योजना में शामिल 4 गांवों की दूरी बहुत ज्यादा हो गई है. हालांकि 80 गांवों के मुताबिक नक्शा तैयार हो चुका है. लेकिन अब इसे बदला जा रहा है. खास बात यह है कि 4 की जगह अब 12 नए गांव न्यू नोएडा (New Noida) में शामिल किए जा रहे हैं. इस तरह से अब 80 नहीं 88 गांवों के हिसाब से न्यू नोएडा का नक्शा तैयार किया जाएगा. जल्द ही बोर्ड की बैठक में इस पर मुहर लग जाएगी. 2031 के हिसाब से इसका मास्टर प्लान (Master Plan) तैयार किया जा रहा है. स्कूल ऑफ प्लॉनिंग एण्ड आर्किटेक्चर संस्थान प्लान तैयार कर रहा है.

    ऐसा होगा न्यू नोएडा का डीएनजीआईआर

    नोएडा अथॉरिटी के अफसरों की मानें तो इस योजना में एसईजेड भी विकसित किया जाएगा. एसईजेड के अंतर्गत इंडस्ट्रियल यूनिट, इंडस्ट्रियल एस्टेट्स, एग्रो एंड फूड प्रोसेसिंग जोन, आईटी, आईटीएस और बायोटेक जोन, स्किल डेवलपमेंट सेंटर, नॉलेज हब, लॉजिस्टिक हब और इंटिग्रेटेड टाउनशिप को इस योजना में मौका दिया जाएगा. उनका कहना है कि नोएडा के अनुभव और सीईओ रितु माहेश्वरी की प्लानिंग को देखते हुए नोएडा अथॉरिटी को इस बड़े और महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट के लिए चुना गया है.

    प्रोजेक्ट में इन गांवों को किया गया है शामिल

    गौतमबुद्ध नगर के होंगे यह गांव-

    आनंदपुर, बील अकबरपुर, बेरंगपुर उर्फ नई बस्ती, चंद्रावल, चीरसी, चीती, छयासा, दयानगर, देवटा, फजलपुर, खण्डेरा गिरजापुर, कोट, मिल्क खण्डेरा, नगला चमरू, नगला चीती, नगला नैनसुख, फूलपुर, रघुनाथपुर पार्ट, राजपुर कलां और शाहपुर खुर्द गांव शामिल है.

    Greater Noida सिटी बस से कहां का कितना लगेगा किराया, देखें पूरी लिस्ट

    बुलंदशहर और गाजियाबाद बॉर्डर के गांवों के नाम-

    अगराई, आशादेवी उर्फ पूरणगढ़, आसफपुर, बडौदा, भराना, भटोला, भौखेड़ा, बिरौंदी फौलादपुर, बिरौंदा ताजपुर, बिस्वाना, बोड़ा, बुटाना, चंद्रावली, चोला, दीनौल, धरौड, धमेड़ा नारा, धीमरी ऐदलपुर, दूल्हेरा, फरीदपुर,  गोपालपुर, हसनपुर जागीर, हृदयपुर, जोखाबाद, जोली, काहीरा, कैथरा, कनवाड़ा, कौराली, खैरपुर तिला, किशनपुर, कोनाडु, लौथर, लुहाकर, महिपा जागीर,

    मोहिद्दीनपुर नगला, मेहताब नगर, मलहपुर, मसौता, मोरादाबाद, नगला बड़ौदा, नगला शेख, नैथला हसनपुर, नेकमपुर उर्फ बिशनपुर, निजामपुर, पचौता, पीर बियाबानी, राजारामपुर, राजपुर खुर्द, रूपवास पंचगई, सब्दलपुर, सैंथली, सराय घासी, सेनवाली, शाहपुर कला, सिखेड़ा, सुतारी, तालाबपुर उर्फ कनकपुर, उमरा और लाबबाया गांव शामिल होंगे.

    Tags: Bulandshahr news, Dadri News, Delhi-ncr, Noida news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर