• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • News18 Exclusive : आखिर पुलिस के किस जाल में फंसा गैंगस्टर काला जठेड़ी?

News18 Exclusive : आखिर पुलिस के किस जाल में फंसा गैंगस्टर काला जठेड़ी?

कुख्यात इनामी गैंगस्टर काला जठेड़ी पकड़ा गया.

दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद एक गैंगस्टर के ज़रिये स्पेशल सेल ने कुख्यात डॉन काला तक पहुंचने का प्लान बनाया लेकिन काला भी पुलिस को छकाता रहा. जानिए कैसे पुलिस ने एक जाल फेंका, एक शिकंजा कसा और काला को पकड़ा.

  • Share this:

नई दिल्ली. 7 लाख रुपये के इनामी मोस्ट वॉंटेड गैंगस्टर काला जठेड़ी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शुक्रवार रात गिरफ्तार कर लिया. बड़ी कहानी अब यह है कि पुलिस को यह कामयाबी कैसे हाथ लगी. पहले पुलिस को शक था कि काला विदेश में बैठकर गैंग चला रहा था, लेकिन वो तो हरियाणा में पाया गया. काला जठेड़ी के लिंक्स पहलवान सागर धनकड़ हत्याकांड से जुड़े पाए गए और सुशील पहलवान ने जिस सोनू महाल की पिटाई की थी, वह काला का भांजा था. एक वक्त में सुशील पहलवान के दोस्त रह चुके काला जठेड़ी की गिरफ्तारी के लिए बिछाए गए जाल के बारे में जानिए.

काला की गिरफ्तारी की कहानी गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई की गिरफ्तारी से शुरू हुई. फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद 600 शार्प शूटरों की फ़ौज वाले गैंगस्टर बिश्नोई को मकोका में जब गिरफ्तार कर स्पेशल सेल की काउंटर इंटेलिजेंस यूनिट ने अपनी रिमांड पर लिया तो बिश्नोई से काला को लेकर सख्ती से पूछताछ की गई. हालांकि इस बारे में बिश्नोई ने अपना मुह नहीं खोला था. तब स्पेशल सेल ने एक ट्रिक अपनाई, जो कारगर साबित हुई.

किस ट्रिक से पुलिस काला तक पहुंची?
बिश्नोई की 20 दिन की कस्टडी खत्म होते ही वो जब वापस तिहाड़ जेल में शिफ्ट हुआ तो स्पेशल सेल ने अपने मुखबिरों के ज़रिये जेल में एक मोबाइल पहुंचवाया. ये एक ऑपरेशन का हिस्सा था ताकि काला की गिरफ्तारी हो सके. बिश्नोई के पास जैसे ही जेल में मोबाइल फोन पहुंचा, उसने जेल के बाहर अपने गैंग मेंबर को कॉल करने शुरू कर दिए. तभी बिश्नोई ने काला गैंग के बेहद करीबियों के ज़रिये काला से भी जेल के अंदर से ही बात की.

delhi news, delhi crime news, delhi underworld, delhi underworld don, delhi most wanted gangster, दिल्ली न्यूज़, दिल्ली क्राइम न्यूज़, दिल्ली अंडरवर्ल्ड, दिल्ली अंडरवर्ल्ड डॉन

पुलिस की हिरासत में आया कुख्यात काला जठेड़ी और लेडी डॉन.

बस यही तो स्पेशल सेल चाहती भी थी. बिश्नोई इस जाल में फंस गया. स्पेशल सेल ने एक महीने तक बिश्नोई के फोन कॉल्स पर नज़र रखी और और फिर वो वक्त आया, जब तीन बार काला स्पेशल सेल के कब्ज़े में आते आते रडार से बाहर हो गया. स्पेशल सेल लगातार बिश्नोई के फोन पर नज़र रखे हुए थी, तभी उसने फिर काला से जेल के अंदर से बात की और यही काला के लिए आखिरी मौका साबित हुआ.

कैसे फरार होता रहा काला?
इस बार स्पेशल सेल ने चूक नहीं की और सहारनपुर के अमानत ढाबे पर काला और रिवॉल्वर रानी उर्फ लेडी डॉन अनुराधा को गिरफ्तार कर लिया गया. स्पेशल सेल के मुताबिक साल 2020 फरवरी में फरीदाबाद पुलिस की कस्टडी से फरार होने के बाद काला जठेड़ी यूपी के मथुरा, राजस्थान, पंजाब, मुंबई, फिर राजस्थान, फिर पंजाब, मध्यप्रदेश, बिहार और नेपाल में छुपता फिरा.

फरारी के दौरान आनंदपाल के गैंग्स मेंबर और बिश्नोई के गुर्गे काला को फाइनेंशियल मदद और रुकने में मदद करवाते रहे. काला इतना बेखोफ था कि वो लगातार ठिकाने तो बदल रहा था और मोबाइल फोन व फेसबुक का भी इस्तेमाल कर रहा था. जनवरी महीने में ही काला और लेडी डॉन ने फेसबुक के ज़रिये जो धमकी दी.

सागर पहलवान हत्याकांड से नाराज़ होकर काला के निशाने पर सुशील कुमार और नीरज बबनिया के गैंग्स मेंबर थे. तभी डरकर सागर हत्याकांड के बाद सुशील कुमार पहलवान ने तीन बार बाकायदा काला को फोन किया औऱ माफी भी मांगी थी. सुशील पहलवान किसी तरह काला के साथ समझौते करना चाह रहा था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज