लाइव टीवी

NGT ने मांगी रिपोर्ट- अक्षरधाम मंदिर यमुना के डूबक्षेत्र में आता है या नहीं
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: November 11, 2019, 9:12 PM IST
NGT ने मांगी रिपोर्ट- अक्षरधाम मंदिर यमुना के डूबक्षेत्र में आता है या नहीं
राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने केंद्र सरकार को अक्षरधाम मंदिर प्रबंधन की एक याचिका पर स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है.

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने केंद्र सरकार को अक्षरधाम मंदिर प्रबंधन की एक याचिका पर स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2019, 9:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने केंद्र सरकार को अक्षरधाम मंदिर प्रबंधन की एक याचिका पर स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है. मंदिर प्रबंधन की याचिका में इस बारे में निर्णय करने के लिए एक समिति को दिये गये एनजीटी के आदेश का अनुपालन करने की मांग की गयी थी कि मंदिर का भवन यमुना के डूब क्षेत्र में आता है या नहीं. एनजीटी अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली पीठ ने जल शक्ति मंत्रालय को 25 नवंबर तक ईमेल से मामले में स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने को कहा.

पीठ ने कहा, 'यह कहने की जरूरत नहीं है कि प्रधान समिति विशेषज्ञ समिति की रिपोर्ट आने की तारीख 19 अप्रैल 2014 के प्रभाव से विचार करने के लिए स्वतंत्र है, जिसे इस अधिकरण ने 13 जनवरी, 2015 को स्वीकार कर लिया. हम प्रधान समिति को मामला भेजे जाने के 30 जुलाई 2015 के पिछले आदेश के मद्देनजर इस स्तर पर इस पहलू पर कोई राय नहीं दे रहे.'

हरित अधिकरण ने 2015 में बड़ी और छोटी परियोजनाओं को मंजूरी के मुद्दे से निपटने के संबंध में पर्यावरण मंत्रालय के दो आधिकारिक ज्ञापनों को खारिज कर दिया था. इस आदेश के परिप्रेक्ष्य में एनजीटी ने राष्ट्रीय राजमार्ग 24 पर यमुना नदी के किनारे स्थित मंदिर परिसर के विस्तार में खर्च हुई कुल लागत का पांच प्रतिशत जुर्माना लगाया था.



ये भी पढ़ें:



अयोध्या में मंदिर के लिए ट्रस्ट बनाने का काम शुरू, टीम का गठन

हाईकोर्ट ने बंगाल की ममता सरकार और केएमसी से डेंगू पर रिपोर्ट मांगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 9:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading