Home /News /delhi-ncr /

nia arrested active member of isis from batla house in delhi was running propaganda on social media nodbk

NIA ने दिल्ली के बटला हाउस से ISIS का सक्रिय सदस्य को किया गिरफ्तार, सोशल मीडिया पर चला रहा था प्रोपेगेंडा

साथ ही यह भी जानकारी मिली कि यह न सिर्फ पूरी तरह रेडिक्लाइज है, बल्कि ISIS का सक्रिय सदस्य भी है. (सांकेतिक फोटो)

साथ ही यह भी जानकारी मिली कि यह न सिर्फ पूरी तरह रेडिक्लाइज है, बल्कि ISIS का सक्रिय सदस्य भी है. (सांकेतिक फोटो)

Delhi News: NIA को जांच के दौरान मोहसिन की सोशल मीडिया पर संदिग्ध गतिविधियों की जानकारी मिली थी. NIA को पता चला कि यह सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर ISIS का ऑनलाइन प्रोपेगेंडा फैला रहा है.

नई दिल्ली. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने ISIS का ऑनलाइन प्रोपेगेंडा चलाने वाले एक संदिग्ध को दिल्ली के बाटला हाउस से गिरफ्तार किया गया है. पकड़े गए आरोपी का नाम मोहसिन अहदम है, जो बिहार का रहने वाला है. वह हाल ही में बटला हाउस इलाके में अपना ठिकाना बनाया था. जानकारी के मुताबिक, NIA को जांच के दौरान मोहसिन की सोशल मीडिया पर संदिग्ध गतिविधियों की जानकारी मिली थी. NIA को पता चला कि यह सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर ISIS का ऑनलाइन प्रोपेगेंडा फैला रहा है. साथ ही यह भी जानकारी मिली कि यह न सिर्फ पूरी तरह रेडिक्लाइज है, बल्कि ISIS का सक्रिय सदस्य भी है.

बता दें कि बीते दिनों बिहार कई संदिग्ध पकड़े गए थे. तब फुलवारी शरीफ आतंक मॉड्यूल में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी पीएफआई कनेक्शन के सामने आने के बाद लगातार नए खुलासे हो रहे थे. ताजा खुलासा यह हुआ था कि दोहा की रास लाफेल संस्था पैन इंडिया मूवमेंट चला रही थी. इसके तहत कट्टरपंथ को फैलाने के लिए मुस्लिम स्कूलों और कॉलेजों में टैलेंट सर्च के बहाने साजिश की जा रही थी.स्कूलों और कॉलेजों के मुस्लिम बच्चों को ब्रेन वाश किए जाने की तैयारी की जा रही थी. बच्चों के मन में देश के प्रति नफरत भरने की तैयारी की जा रही थी. इस मामले में यह भी खुलासा हुआ है कि दोहा की संस्था रास लाफेल पीएफआई को फंडिंग करती थी.

PFI के एक और खतरनाक मॉड्यूल का पर्दाफाश हुआ था
इसके साथ ही PFI के एक और खतरनाक मॉड्यूल का पर्दाफाश हुआ था. इसके तहत मुस्लिम युवाओं को चाकू, हसिया और रॉड की ट्रेनिंग के साथ ही फायर आर्म्स की भी ट्रेनिंग दी जा रही थी. खुले मैदानों में परंपरागत हथियारों की ट्रेनिंग दी जा रही थी जिससे किसी को शक न हो. मगर बंद कमरे में फायर आर्म्स की ट्रेनिंग दी जाती थी. यह बात भी सामने आई है कि आर्टिफिशियल ह्यूमन एनाटॉमी के जरिए फायर आर्म की ट्रेनिंग दी जाती थी. शरीर के किस अंग पर वार करने पर जल्दी मौत होगी इसकी भी ट्रेनिंग दी जाती थी.

Tags: Arrest, Delhi news, ISIS, NIA

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर