अपना शहर चुनें

States

दिल्‍ली में 31 दिसंबर और 1 जनवरी को रहेगा नाइट कर्फ्यू, न्‍यू ईयर के जश्‍न पर बैन

दिल्‍ली में 31 दिसंबर और 1 जनवरी को रहेगा नाइट कर्फ्यू. (File Pic PTI)
दिल्‍ली में 31 दिसंबर और 1 जनवरी को रहेगा नाइट कर्फ्यू. (File Pic PTI)

Happy New Year 2021: राजधानी दिल्‍ली में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के प्रसार के खतरे को देखते हुए नाइट कर्फ्यू लगाने का यह फैसला दिल्‍ली डिजास्‍टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) ने लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 31, 2020, 9:15 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश-दुनिया में कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप लगातार देखने को मिल रहा है. इस बीच नया साल 2021 (Happy New Year 2021) भी दस्‍तक दे रहा है. हालांकि इस बार इसका जश्‍न पहले जैसे नहीं रहेगा. कई राज्‍यों अपने यहां नए साल के जश्‍न को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं. इस बीच दिल्‍ली में भी रात को कर्फ्यू (Delhi Night Curfew) लगाने का निर्णय लिया गया है. दिल्‍ली में यह नाइट कर्फ्यू 31‍ दिसंबर और 1 जनवरी को रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा. साथ ही नए साल के जश्‍न समारोह पर बैन लगाया गया है.

राजधानी दिल्‍ली में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार के खतरे को देखते हुए नाइट कर्फ्यू लगाने का यह फैसला दिल्‍ली डिजास्‍टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) ने लिया है. यह फैसला नए साल पर होने वाले समारोह और जश्‍न में भीड़ उमड़ने और कोविड नियमों की अनदेखी की आशंकाओं को देखते हुए लिया गया है. हालांकि अंतरराज्‍यीय यातायात पर नाइट कर्फ्यू लागू नहीं होगा.






डीडीएमए की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि किसी भी सार्वजनिक स्‍थानों पर 5 से अधिक लोग एकत्र नहीं हो सकेंगे. राजधानी में नए साल के जश्‍न को लेकर कोई भी समारोह आयोजित नहीं होगा. साथ ही नाइट कर्फ्यू के दौरान सार्वजनिक स्‍थानों पर लोगों के निकलने की पूर्ण पाबंदी रहेगी.

बता दें कि न्‍यू ईयर (Happy New Year 2021) पर होने वाली पार्टी व अन्‍य समारोह को लेकर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय भी सतर्क है. स्‍वास्‍थ्य सचिव राजेश भूषण ने बुधवार को सभी राज्‍यों को पत्र लिखा है. इसमें उन्‍होंने सभी राज्‍यों को कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को देखते हुए निर्देश दिए हैं कि नए साल के जश्‍न के रूप में होने वाले उन समारोहों पर कड़ी निगरानी रखी जाए, जो कोरोना वायरस के तीव्र प्रसार में मददगार हो सकते हैं. पत्र में यह भी कहा गया है कि उन जगहों पर भी कड़ी निगरानी रखी जाए, जहां भीड़ एकत्र हो रही हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज