निर्भया केस: दिल्ली सरकार ने दोषी मुकेश की दया याचिका खारिज की, LG को भेजी गई
Delhi-Ncr News in Hindi

निर्भया केस: दिल्ली सरकार ने दोषी मुकेश की दया याचिका खारिज की, LG को भेजी गई
निर्भया गैंगरेप मामले में दोषी ठहराये गये मुकेश सिंह की याचिका दिल्ली सरकार ने खारिज कर दी है और उसे उपराज्यपाल के पास भेज दी है

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि दिल्ली सरकार के समक्ष (सामने) जैसे ही ये याचिका आई, उसे फौरन खारिज करते हुए बिजली की गति (तीव्रता) से उपराज्यपाल (एलजी) अनिज बैजल को भेज दी गई. उन्होंने कहा कि वो निर्भया मामले में दोषियों को सजा दिलाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2020, 2:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gang Rape) मामले में दोषी मुकेश की याचिका दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने खारिज कर दी है. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि दिल्ली सरकार के समक्ष (सामने) जैसे ही ये याचिका आई, उसे फौरन खारिज करते हुए बिजली की गति (तीव्रता) से उपराज्यपाल (एलजी) अनिज बैजल को भेज दी गई. उन्होंने कहा कि वो निर्भया मामले में दोषियों को सजा दिलाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.

बता दें कि दोषी मुकेश ने दिल्ली हाईकोर्ट से डेथ वॉरंट को रद्द करने की मांग की है. उसकी याचिका पर बुधवार को अदालत में सुनवाई हुई. दिल्ली सरकार ने इस दौरान कहा कि 22 जनवरी को निर्भया के चारों दोषियों की फांसी नहीं होगी, क्योंकि इनमें से एक की दया याचिका लंबित है. दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने कहा कि दोषियों का दया याचिका अलग-अलग अगर दाखिल करना, वयस्था को हताश करने वाला है. उन्होंने कहा कि 22 जनवरी को निर्भया के दोषियों को फांसी नहीं हो सकती क्योंकि फांसी दया याचिका के खारिज होने के 14 दिन के बाद होगी ऐसे में मुकेश की याचिका प्री-मैच्योर है.

पिछले दिनों पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों की अर्जी खारिज करते हुए उनके खिलाफ डेथ वारंट जारी किया था. जिसके बाद इन सभी को 22 जनवरी की सुबह सात बजे तिहाड़ जेल नंबर तीन में फांसी दी जानी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading