लाइव टीवी

निर्भया मामला: सुप्रीम कोर्ट में दोषी पवन गुप्ता की याचिका पर आज होगी सुनवाई
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: March 2, 2020, 12:02 AM IST
निर्भया मामला: सुप्रीम कोर्ट में दोषी पवन गुप्ता की याचिका पर आज होगी सुनवाई
निर्भया के दोषी पवन (फाइल फोटो)

निर्भया गैंगरेप और मर्डर केस में दोषी पवन गुप्ता की याचिका पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. 2012 के निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में फांसी की सजा का सामना कर रहे चार दोषियों में से एक पवन कुमार गुप्ता की सुधारात्मक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सोमवार को बंद कमरे में सुनवाई करेगा. इस याचिका की सुनवाई पांच जचों की पीठ करेगी. जिसमें जस्टिस एन वी रमण, जस्टिस  अरुण मिश्रा, जस्टिस आर एफ नरीमन, जस्टिस आर भानुमति और जस्टिस अशोक भूषण शामिल हैं. यह पीठ जस्टिस रमण के चैंबर में सुधारात्मक याचिका पर सुनवाई करेगी. गौरतलब है कि इससे पहले तीसरी बार 3 मार्च के लिए पवन गुप्ता समेत चार दोषियों के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट ने डेथ वारंट जारी किया था.

फांसी को उम्रकैद में बदलने का अनुरोध
पवन ने अपराध के समय खुद के नाबालिग होने का दावा करते हुए फांसी को उम्रकैद में बदलने का अनुरोध किया है. पवन ने वकील ए पी सिंह के जरिए सुधारात्मक याचिका दाखिल कर मामले में अपीलों और पुनर्विचार याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को खारिज करने का अनुरोध किया है.

वकील ए पी सिंह ने कहा है कि उन्होंने रविवार को सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री में एक अर्जी दाखिल कर खुली अदालत में पवन की सुधारात्मक याचिका पर मौखिक सुनवाई का अनुरोध किया है.




दोषियों में केवल पवन के पास ही अब सुधारात्मक याचिका दायर करने का विकल्प बचा है.



डेथ वारंट हो चुका है जारी
दक्षिणी दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 को चलती बस में एक छात्रा से सामूहिक बलात्कार की घटना हुई थी और दोषियों ने बर्बरता करने के बाद उसे बस से फेंक दिया था. एक पखवाड़े बाद उसकी मौत हो गई. इस केस में दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी हो चुका है.

दोषी अक्षय ने राष्ट्रपति के पास लगाई दया याचिका
दोषी पवन और एक अन्य दोषी अक्षय सिंह ने भी दिल्ली की निचली अदालत का रुख कर डेथ वारंट की तामील पर रोक लगाने का अनुरोध किया. जबकि निचली अदालत ने याचिकाओं पर तिहाड़ जेल प्रशासन को नोटिस जारी कर अधिकारियों को सोमवार तक अपना जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया. वहीं अक्षय ने दावा किया है कि उसने राष्ट्रपति के समक्ष नई दया याचिका दाखिल की है जो कि लंबित है, जबकि पवन ने कहा है कि उसने सुप्रीम कोर्ट के समक्ष सुधारात्मक याचिका दाखिल की है.
First published: March 1, 2020, 7:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading