• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • निर्भया केस : तिहाड़ जेल की तैयारी पूरी, पवन जल्लाद ने दी डमी फांसी

निर्भया केस : तिहाड़ जेल की तैयारी पूरी, पवन जल्लाद ने दी डमी फांसी

निर्भया रेप केस में हुई डमी फांसी

प्रैक्टिस के लिए चार डमी फांसी दी गईं. जल्लाद पवन (Pawan Jallad) ने जेल सुपरिटेंडेंट की मौजूदगी में ये डमी फांसी दी हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. तिहाड़ जेल (Tihar Jail) प्रशासन ने निर्भया गैंगरेप  (Nirbhaya Case) के दोषियों को फांसी देने की तैयारी पूरी कर ली है. 1 फरवरी को होने वाली फांसी से पहले जेल अधिकारियों ने शुक्रवार को डमी फांसी दी. गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को फांसी देने वाले पवन जल्लाद (Pawan Jallad) गुरुवार को ही तिहाड़ जेल पहुंच गए थे जहां उन्हें जेल नंबर 3 का फांसी घर और रस्सियां दिखाई गईं.

    जेल सुपरिटेंडेंट की मौजूदगी में हुई डमी फांसी
    प्रैक्टिस के लिए चार डमी फांसी दी गईं और जल्लाद पवन ने जेल सुपरिटेंडेंट की मौजूदगी में ये डमी फांसी दी हैं. जल्लाद पवन ने आखिरी बार फांसी की रिहर्सल के पहले बक्सर की रस्सी को जांचा-परखा फांसी कोठी का मुआयना किया. फांसी के तख्ते की जांच करने के बाद फिर लिवर खींचा. बताया जा रहा है कि डमी फांसी इसलिए दी गई ताकि पवन जल्लाद 1 फरवरी को फांसी देने के लिए मानसिक तौर पर तैयार रहे.

    विनय शर्मा की दया याचिका है लंबित
    निर्भया गैंगरेप मामले में फांसी की तारीख टालने की याचिका पर अदालत में आज सुनवाई हुई. कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रख लिया है. इससे पहले दोषियों को दोपहर 2 बजे फैसला आने की उम्मीद थी. बता दें कि सुनवाई के दौरान तिहाड़ के वकील ने कहा कि विनय इंतजार कर सकता है, लेकिन बाकी तीन दोषियों को कल फांसी दी जाए. तिहाड़ के वकील ने कहा कि जिसकी दया याचिका राष्ट्रपति के पास लंबित है, उसे छोड़कर बाकी तीन को कल यानी 1 फरवरी को फांसी दी जाए.

    कुछ दोषियों ने नहीं इस्तेमाल किया है कानूनी उपाय
    बता दें दोषी पवन गुप्ता, विनय कुमार शर्मा और अक्षय कुमार के वकील एपी सिंह ने अदालत से फांसी पर ‘अनिश्चितकालीन’ स्थगन लगाने का अनुरोध किया. उन्होंने कहा कि दोषियों में कुछ के द्वारा कानूनी उपायों का इस्तेमाल किया जाना बचा हुआ है.

    निचली अदालत ने 17 जनवरी को मामले के चारों दोषियों मुकेश (32), पवन (25), विनय (26) और अक्षय (31) को मौत की सजा देने के लिए दूसरी बार ब्लैक वारंट जारी किया था. जिसमें एक फरवरी को सुबह छह बजे तिहाड़ जेल में उन्हें फांसी देने का आदेश दिया गया. इससे पहले सात जनवरी को अदालत ने फांसी के लिए 22 जनवरी की तारीख तय की थी.

    ये भी पढ़ें : 

    दिल्ली की इन सड़कों पर आज मिल सकता है ट्रैफिक जाम, पढ़ें अलर्ट

    चुनाव आयोग की टीम ने शाहीन बाग का किया दौरा, शांतिपूर्ण चुनाव की समीक्षा की

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज