• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • निर्भया केस: दोषियों की फांसी पर आज होगी सुनवाई, जारी हो सकता है नया डेथ वारंट

निर्भया केस: दोषियों की फांसी पर आज होगी सुनवाई, जारी हो सकता है नया डेथ वारंट

दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने निर्भया गैंगरेप केस की जांच में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने निर्भया गैंगरेप केस की जांच में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) राज्य और निर्भया (Nirbhaya Gang Rape Case) के माता-पिता की याचिका पर आज फिर से सुनवाई करेगी. कोर्ट में दोषियों के खिलाफ नए सिरे से डेथ वारंट जारी करने की मांग की गई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) राज्य और निर्भया (Nirbhaya Gang Rape Case) के माता-पिता की याचिका पर आज फिर से सुनवाई करेगी. कोर्ट में दोषियों के खिलाफ नए सिरे से डेथ वारंट जारी करने की मांग की गई है. दोषी पवन को अदालत की ओर से मुहैया करवाए गए नए वकील पहली बार मामले में पवन का पक्ष रखेंगे. तिहाड़ प्रशासन और निर्भया के माता-पिता चारों दोषियों को जल्द फांसी पर लटकाने के लिए नया डेथ वारंट जारी करने की मांग करेंगे.

    दोषी पवन के लिए ये वकील पहली बार करेंगे जिरह
    अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेन्द्र राणा तिहाड़ और निर्भया के माता-पिता के परिजनों की याचिका पर सुनवाई करेंगे. पिछले सुनवाई में कोर्ट ने दोषी पवन के केस को पेश करने के लिए सरकारी वकील रवि काजी को नियुक्त किया. इससे पहले पिछले वकील एपी सिंह अदालत में पवन की पैरवी कर रहे थे. सोमवार को रवि काजी पहली बार दोषी पवन की ओर से अपनी दलीलें पेश करेंगे और यह भी बताएंगे कि क्या पवन की ओर से क्यूरेटिव या दया याचिका दायर की गई या नहीं. वहीं दूसरी ओर निर्भया के पक्ष के वकील दोषियों की फांसी के लिए नया डेथ वारंट जारी करने की मांग करेंगे.



    तीन दोषियों के खत्म हो चुके हैं सारे विकल्प
    बता दें कि फिलहाल निर्भया के तीन दोषियों विनय, मुकेश और अक्षय के सभी कानूनी विकल्प खत्म हो चुके हैं, लेकिन चौथे आरोपी पवन के पास अभी भी क्यूरेटिव और दया याचिका दायर करने का मौका है. हालांकि पांच फरवरी को हाईकोर्ट ने दोषियों के सभी कानूनी विकल्पों के उपयोग का अल्टीमेटम दिया गया था, लेकिन इस अवधि के बीच दोषी पवन की ओर से कोई याचिका दायर नहीं की.

    कोर्ट जारी कर सकती है तीसरा डेथ वारंट
    दरअसल पिछली सुनवाई में दोषी पवन के पिता ने किसी भी कानूनी उपचार के प्रयोग करने से इनकार किया था. अगर पवन की ओर से वाकई क्यूरेटिव या दया याचिका दायर नहीं की जाती तो अदालत नियमों के तहत चारों दोषियों को फांसी देने के लिए नया डेथ वारंट जारी कर सकती है. यह नियम है कि अगर किसी दोषी की कोई याचिका लंबित नहीं है तो डेथ वारंट जारी किया जा सकता है. हालांकि दोषी पवन के पास अभी भी क्यूरेटिव और दया याचिका दायर करने के विकल्प मौजूद हैं.

    ये भी पढ़ें: 

    तिहाड़ की जेल संख्या चार में कैदियों के बीच झड़प, कई कैदी घायल

    तीसरी बार मुख्यमंत्री बने अरविंद केजरीवाल की कैबिनेट में एक भी महिला नहीं

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज