लाइव टीवी

निर्भया की मां आशा देवी ने कहा- केजरीवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने की ख़बरें गलत हैं
Delhi-Ncr News in Hindi

Ranjita Jha | News18Hindi
Updated: January 17, 2020, 4:58 PM IST
निर्भया की मां आशा देवी ने कहा- केजरीवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने की ख़बरें गलत हैं
दोषियों को फांसी की सजा में देरी पर निर्भया की मां काफी नाराज हैं. (फाइल फोटो)

निर्भया की मां आशा देवी के कांग्रेस के टिकट पर दिल्ली के सीएम केजरीवाल के खिलाफ नई दिल्ली विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की ख़बरों को पूरी तरह गलत बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 17, 2020, 4:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में निर्भया की मां आशा देवी ने News18India से ख़ास बातचीत में कहा कि उनके चुनाव लड़ने की ख़बरें गलत हैं और उनकी इसके संबंध में किसी से कोई बात नहीं हुई है. आशा देवी ने साफ़ कहा कि उन्हें राजनीति में कोई दिलचस्पी नहीं है, उन्हें सिर्फ अपनी बेटी के लिए न्याय चाहिए. हालांकि इससे पहले ऐसी खबरें आई थीं कि सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के खिलाफ नई दिल्ली विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं.

सूत्रों के मुताबिक, निर्भया की मां कांग्रेस के टिकट पर केजरीवाल के खिलाफ चुनाव लड़ सकती हैं. सूत्रों का कहना है कि इसकी घोषणा जल्द हो सकती है. सूत्रों पर भरोसा इसलिए भी किया जा सकता है क्योंकि कांग्रेस नेता कीर्ति आज़ाद ने भी ट्वीट कर आशा देवी को राजनीति में आने पर बधाई दे दी है. उधर कांग्रेस की तरफ से भी आशा देवी के चुनाव लड़ने को लेकर किसी तरह का स्पष्टीकरण नहीं आया है.

 
हालांकि आशा देवी ने स्पष्ट कहा है कि मैं राजनीति में नहीं आ रही और मेरा चुनाव लड़ने से कोई लेना-देना नहीं है. बता दें कि निर्भया मामले में फांसी में देरी होने के सवाल पर निर्भया की मां ने कई बार दिल्ली सरकार को निशाने पर भी लिया था. इस दौरान आशा देवी ने यहां तक कहा था कि सरकार दोषियों को बचाना चाहती है.

 



सीएम केजरीवाल ने की जल्द फांसी देने की मांग
दिल्ली गैंगरेप मामले पर दिल्ली के सीएम और AAP नेता अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली सरकार के अधीन सभी काम हमारे द्वारा घंटों के भीतर पूरे किए गए. हमने इस मामले से संबंधित किसी भी कार्य में देरी नहीं की. केजरीवाल का कहना है कि हम चाहते हैं कि दोषियों को जल्द से जल्द फांसी दी जाए. इस सवाल का आशा देवी ने भी जवाब दिया है. आशा देवी ने कहा कि ये बिल्कुल गलत है कि उन्होंने समय पर काम किया. निर्भया की मां का आरोप है कि 7 साल हो गए घटना हुए, 2.5 साल हो गए सुप्रीम कोर्ट से फैसला आए. 18 महीने हो गए रिव्यू पेटिशन खारिज हुए. आशा देवी ने कहा कि जो काम सरकार को करना चाहिए था वो हमने किया.

सियासत और बयानबाजी पर जताई थी नाराजगी
इससे पहले आशा देवी ने दोषियों की फांसी पर हो रही बयानबाजी और सियासत से काफी नाराज दिख रही थीं. मीडिया से बातचीत में आशा देवी ने रोते हुए आरोप लगाया कि हमें इंसाफ नहीं मिला है. सरकार को हमारी तकलीफ नहीं दिख रही है. हर कोई इस बहाने अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने में लगा हुआ है. बच्ची की मौत के साथ खेल रहे हैं. हमें यह कहीं न कहीं साजिश लग रही है. दोषियों की फांसी को टाला जा रहा है.

 



मौत से खिलवाड़ का लगाया आरोप
हमें बड़ा अच्छा लगता जब दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) कहते कि पुलिस हमें दे दो हम बच्चियों की रक्षा करेंगे. 'निर्भया' की मां ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से भी मैं यह कहना चाहती हूं कि वर्ष 2014 में आपने कहा था कि बहुत हुआ नारी पर वार, अबकी बार मोदी सरकार. जब आप तीन तलाक कानून में संशोधन कर सकते हैं तो फांसी के कानून में भी बदलाव कर चारों दोषियों को फांसी पर लटकाइए, और दिखाइए जनता को कि हम देश की रक्षा कर सकते हैं. ऐसा लग रहा है कि हमें मोहरा बनाया गया. नारेबाजी करने और तिरंगा रैली करने वाले यही लोग अब मौत पर खिलवाड़ कर रहे हैं.



ये भी पढ़ें: 

शाहीन बाग 500 महिलाओं की जिद है या 500 रुपए का लालच?

निर्भया मामला: चारों गुनहगारों को तिहाड़ जेल नंबर 3 में किया गया शिफ्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 17, 2020, 3:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर