लाइव टीवी

निर्भया मामला: कोर्ट के बाहर धरने पर बैठीं निर्भया की मां, दोषियों के लिए मांग रही फांसी
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 12, 2020, 7:23 PM IST
निर्भया मामला: कोर्ट के बाहर धरने पर बैठीं निर्भया की मां, दोषियों के लिए मांग रही फांसी
धरने पर बैठी निर्भया की मां.

निर्भया गैंगरेप मामले (Nirbhaya Gang rape case) में पीड़िता की मां आशा देवी कोर्ट में फूट-फूटकर रो पड़ीं. उन्होंने कोर्ट से कहा कि, 'मेरे अधिकारों का क्या? मैं भी इंसान हूं, मुझे सात साल हो गए, मैं हाथ जोड़कर न्याय की गुहार लगा रही हूं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2020, 7:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gang Rape Case) मामले में पीड़िता की मां आशा देवी ने महिला अधिकार कार्यकर्ता योगिता भैयाना के साथ मिलकर पटयाला हाउस कोर्ट के बाहर प्रदर्शन (Protest) किया. निर्भया की मां की मांग है कि दोषियों को जल्द से जल्द फांसी दी जाए. आशा देवी ने कहा कि कोर्ट दोषियों को फांसी देने की तारीख तय नहीं करना चाहती और उन्हें समर्थन दे रही है. उन्होंने कहा कि, 'मैं सुप्रीम कोर्ट से डेथ वारंट जारी करने की अपील करती हूं क्योंकि पटियाला हाउस कोर्ट नए सिरे से डेथ वारंट जारी करने के मूड में नहीं है.


अदालत ने दिया यह जवाब
दरअसल बुधवार को दिल्ली की अदालत ने दोषी पवन गुप्ता को कानूनी मदद देने की पेशकश की जिसने कहा था कि उसके पास वकील नहीं है. अदालत ने चार दोषियों के खिलाफ फिर से मृत्यु वारंट जारी करने के अनुरोध वाली याचिकाओं की सुनवाई अगले दिन तक के लिए स्थगित की. डीएलएसए ने पवन के पिता को वकील चुनने के लिए अपने पैनल में शामिल अधिवक्ताओं की एक सूची उपलब्ध कराई. अदालत ने कहा कि कोई भी दोषी अपनी अंतिम सांस तक कानूनी सहायता पाने का हकदार है.



फूट-फूट कर रो पड़ी निर्भया की मां
इससे पहले हुई सुनवाई के दौरान निर्भया की मां आशा देवी कोर्ट में फूट-फूटकर रो पड़ीं. उन्होंने कोर्ट से कहा कि मेरे अधिकारों का क्या? मैं भी इंसान हूं, मुझे सात साल हो गए, मैं हाथ जोड़कर न्याय की गुहार लगा रही हूं. कृप्या दोषियों को डेथ वारंट जारी करें.'

दोषियों को दे दिए गए हैं नोटिस
निर्भया केस की सुनवाई शुरू हुई तो सरकारी वकील पीपी इरफान अहमद ने कोर्ट में कहा कि सभी दोषियों को नोटिस दे दिए गए हैं. हालांकि इसी बीच दोषियों के वकील एपी सिंह ने पवन का नोटिस स्वीकार करने से मना किया है क्योंकि अब वह पवन का केस नहीं लड़ रहे हैं. इस पर जज ने कहा कि तब तो हमें पवन के लिए दूसरे वकील की व्यवस्था करनी पड़ेगी.

ये भी पढ़ें - 

MP में भीड़ की हिंसा में घायल चार किसानों को एक-एक लाख का मुआवजा

नहीं बदलेगी अरविंद केजरीवाल कैबिनेट, सभी पुराने मंत्री ही होंगे रिपीट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 5:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर