निजामुद्दीन मरकज़: एक बार फिर तबलीगी जमात को लेकर SIT का बड़ा खुलासा, गृह मंत्रालय भेजी रिपोर्ट
Delhi-Ncr News in Hindi

निजामुद्दीन मरकज़: एक बार फिर तबलीगी जमात को लेकर SIT का बड़ा खुलासा, गृह मंत्रालय भेजी रिपोर्ट
तबलीगी जमात के लोग (फाइल फोटो)

हाईकोर्ट (High Court) के आदेश पर अभी इन्हें दिल्ली (Delhi) के ही अलग-अलग सेंटर में रखा गया है. केंद्र सरकार ने भी अभी इनके बारे में कोई फैसला नहीं लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 22, 2020, 12:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. निजामुद्दीन मरकज़ से जड़ी तबलीगी जमात (Tabligi Jamaat) को लेकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम (SIT) ने एक बार फिर बड़ा खुलासा किया है. इस खुलासे से जुड़ी एक रिपोर्ट एसआईटी ने गृहमंत्रालय को भेजी है. एसआईटी ने खुलासा करते हुए कहा है कि अलग-अलग देशों से मरकज़ में विदेशी जमाती (Foreign Jamaati) भी आए थे. 16 ऐसे भी विदेशी जमाती आए हैं जो नाबालिग हैं. इनकी उम्र 15 से 18 साल के बीच है. खास बात यह है कि इनके खिलाफ कोई चार्जशीट (Chargesheet) भी दाखिल नहीं की गई है. हाईकोर्ट (High Court) के आदेश पर अभी इन्हें दिल्ली के ही अलग-अलग सेंटर में रखा गया है. केंद्र सरकार ने भी अभी इनके बारे में कोई फैसला नहीं लिया है.

एक हज़ार से ज़्यादा विदेशी जमातियों की चार्जशीट हुई फाइल
दिल्ली पुलिस ने विदेशी तबलीगी जमातियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. दिल्ली पुलिस अब तक एक हज़ार से ज़्यादा विदेशी ज़मातियों के खिलाफ चार्जशीट दायर कर चुकी है. इन जमातियों पर वीजा नियमों के उल्लंघन का आरोप है. इन सभी विदेशी जमातियों के पासपोर्ट और दूसरे दस्तावेज जब्त किए जाएंगे. इन पर टूरिस्ट वीज़ा पर भारत आने के बाद यहां धार्मिक गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा है.

ये भी पढ़ें:- बिजनेसमैन ने बदमाशों को दी कत्ल की सुपारी, और कत्ल वाले दिन भेज दी अपनी ही तस्वीर, जानें क्यों
इस सरकारी संस्थान में एडमिशन के लिए सबसे पहले China से आए 5 आवेदन



निजामुद्दीन मरकज़ में आए थे विदेशी जमाती
विदेशी जमाती 67 देशों से मरकज़ में शामिल होने आए थे. दिल्ली पुलिस ने सभी विदेशी ज़मतियों से पूछताछ पूरी कर ली है. कई लोगों ने कहा कि वो मरकज़ के मौलाना मोहम्मद साद के कहने पर 20 मार्च के बाद भारत में रुके थे. इन सभी विदेशी ज़मतियों का क्‍वारंटाइन पीरियड भी खत्म हो चुका है. इन सभी को अलग-अलग जगह रखा गया है.

टूरिस्ट वीजा के नियमों के उल्लंघन का आरोप
दिल्ली पुलिस ने इन विदेशी जमातियों के पासपोर्ट और यात्रा दस्तावेज ले लिए हैं. पुलिस पूछताछ के जरिए यह जानना चाहती है कि जमातियों ने आखिर किस आधार पर वीजा लिया था. ज्यादातर जमाती टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे, लेकिन ये यहां आकर मजहबी गतिविधियों में लिप्त रहे, जो वीजा नियमों का उल्लंघन है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading