मरकज मामला: तबलीगी जमात से जुड़े मामले में दायर हुईं 11 सप्‍लीमेंट्री चार्जशीट, 46 विदेशियों के नाम शामिल
Delhi-Ncr News in Hindi

मरकज मामला: तबलीगी जमात से जुड़े मामले में दायर हुईं 11 सप्‍लीमेंट्री चार्जशीट, 46 विदेशियों के नाम शामिल
प्रतीकात्मक तस्वीर

तबलीगी जमाज से जुड़े आरोप-पत्र में 12 देशों के 46 विदेशी जमातियों के नाम भी शामिल हैं. उन्‍हें भी आरोपी बनाया गया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. निजामुद्दीन मरकज मामले में तबलीगी जमात को लेकर दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच शुक्रवार को कोर्ट में 11 चार्जशीट दायर कर दिया है. बता दें कि तबलीगी जमात के खिलाफ 47 चार्जशीट पहले ही पेश किए जा चुके हैं. दिल्‍ली हिंसा मामले में दो आरोप-पत्र दायर किए जाने की बात सामने आई है. तबलीगी जमाज से जुड़े आरोप-पत्र में 12 देशों के 46 विदेशी जमातियों के नाम भी शामिल हैं. उन्‍हें भी आरोपी बनाया गया है. इसके अलावा दिल्‍ली हिंसा मामले में भी पुलिस दो चार्जशीट अलग से फाइल जाने की खबर है. इस तरह शुक्रवार को कुल 13 आरोप-पत्र दायर किए गए. अतिरिक्‍त जानकारी के आधार पर साकेत कोर्ट में यह सप्‍लीमेंट्री चार्जशीट दायर की गई है.



दिल्ली हिंसा से जुड़े मामलों में भी दायर होंगे दो आरोपपत्र
इसी साल फरवरी महीने में दिल्ली के कई इलाकों में हिंसा हुई थी. इस हिंसा के तार कई लोगों से जुड़े थे. इस मामले की तफ्तीश का जिम्मा भी दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम को सौंपा गया था. आज उसी मामले में दो और नए आरोपपत्र दायर किए गए. हालांकि उस हिंसा में आम आदमी पार्टी से जुड़े पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन का नाम प्रमुख आरोपी के तौर पर सामने आया था, लेकिन इस हिंसा में दूसरे पक्ष को भी ध्यान मे रखते हुए तफ्तीश के बाद उससे जुड़ी रिपोर्ट को क्राइम ब्रांच की टीम कोर्ट में आरोपपत्र के तौर पर सामने रख रही है.



क्या था मरकज और दिल्ली हिंसा कनेक्शन

दिल्ली स्थित कोर्ट में दायर होने वाले इस आरोपपत्र में तफ्तीश के दौरान मिले तमाम सबूतों और उसकी फोरेंसिक जांच से जुड़ी रिपोर्ट का भी जिक्र किया गया है. तब्लीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद के खिलाफ पहले ही कई आरोपपत्र दायर किया जा चुका है. शुक्रवार को दायर होने वाले आरोपपत्र में भी मौलाना साद का जिक्र कई स्थानों पर किया गया है. क्योंकि दिल्ली में हुई हिंसा के कुछ आरोपी लगातार मौलाना साद से डायरेक्ट तौर पर जुड़े हुए थे. मौलाना साद से आरोपियों की लगातार आपस में बातचीत हो रही थी, इसलिए इस मामले में कई महत्वपूर्ण मुद्दों को आपस में जोड़कर क्राइम ब्रांच की टीम तफ्तीश कर रही है .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading