दिल्ली: पार्किंग स्पेस नहीं, तो 2021 में नई गाड़ी खरीदना होगा मुश्किल, जानें नए नियम

दिल्ली में नई गाड़ी खरीदने से पहले इन नियम को जान लें.  (File)
दिल्ली में नई गाड़ी खरीदने से पहले इन नियम को जान लें. (File)

नए पार्किंग एरिया मैनेजमेंट प्लान के मुताबिक दिल्ली में सिर्फ वे लोग ही गाड़ी खरीद सकते हैं, जिनके घरों में पार्किंग स्पेस है या आसपास एक किमी के दायरे में कोई वैध पार्किंग हो.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2020, 3:50 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. दिल्ली में अगले साल अगर आप गाड़ी लेने का प्लान कर रहे हैं तो एक बार फिर सोचिए. पार्किंग एरिया मैनेजमेंट रूल के मुताबिक अगर आपके पास पार्किंग स्पेस (Parking Space) नहीं है तो अगले साल से आप गाड़ी नहीं ले पाएंगे. नए पार्किंग एरिया मैनेजमेंट प्लान के तहत सिर्फ वे लोग ही गाड़ी खरीद सकते हैं, जिनके घरों में पार्किंग स्पेस है या आसपास एक किमी के दायरे में कोई वैध पार्किंग है. नए पार्किंग रूल्स के अनुसार, जिन कॉलोनियों में पहले से ही तय लिमिट या इससे अधिक गाड़ियां हैं, वहां पार्किंग की व्यवस्था के बाद भी लोग नई गाड़ियां नहीं खरीद सकते हैं. दिल्ली के सभी इलाकों का पार्किंग रूल्स अगले चार महीनों में बनाने के लिए कहा गया है.

सुप्रीम कोर्ट ने एमसीडी से रिहायशी कॉलोनियों में मॉडल पार्किंग प्लान तैयार करने के लिए कहा था. साउथ एमसीडी ने लाजपत नगर, नॉर्थ एमसीडी ने कमला नगर और ईस्ट एमसीडी ने कृष्णा नगर के लिए यह प्लान ड्राफ्ट कर कोर्ट को उपलब्ध कराया था. अब कोर्ट ने इसी मॉडल पर पूरे दिल्ली का पार्किंग एरिया मैनेजमेंट प्लान (पीएएमपी) अगले चार महीनों में तैयार कर उपलब्ध कराने के लिए कहा है. नए पार्किंग एरिया प्लान का मकसद यह है कि रोड पर कम से कम गाड़ियां हों, ताकि पीक आवर के दौरान जाम की समस्या न हो, इसलिए नए पार्किंग प्लान में नई गाड़ियों के खरीदने पर कई बंदिशें लगाई गई हैं.

अब देना होगा पार्किंग स्पेस का प्रूफ



सूत्रों के मुताबिक अगर कोई नई गाड़ी खरीदना चाहता है, तो उसे पार्किंग स्पेस का प्रूफ देना होगा. साथ ही यह भी बताना होगा कि पहले से उनके पास कितनी गाड़ियां हैं. अगर किसी के घर में और आसपास एक किमी के दायरे में पार्किंग स्पेस या वैध पार्किंग नहीं है, तो उसके लिए नई गाड़ी खरीदना मुश्किल होगा.  इस पर Rwa का कहना है पहले पार्किंग के लिए सरकार काम करें और फिर इस तरह के बम जनता पर फोड़े.
ये भी पढ़ें: आजमगढ़: पुलिस मुठभेड़ में दो असलहा तस्कर गिरफ्तार, तमंचा और कारतूस बरामद

ख़ास बात ये है जिन कॉलोनियों में पार्किंग स्पेस तो है, लेकिन नए रूल्स के अनुसार वहां पहले से ही गाड़ियों की संख्या पर्याप्त है, तो इस केस में भी वहां के लोग नई गाड़ी नहीं खरीद सकते हैं. जैसे कि लाजपत नगर में पार्किंग एरिया मैनेजमेंट प्लान के तहत 5,000 गाड़ियों के लिए स्पेस निकाला गया है. अब वहां रहने वाला कोई व्यक्ति नई गाड़ी खरीदना चाहता है, तो वह नहीं खरीद सकता. जबतक कि उन 5 हजार गाड़ियों की संख्या कम न हो या कोई गाड़ी 10 या 15 साल की टाइम लिमिट पूरी न कर ले. नया पार्किंग प्लान सिर्फ दिल्ली की ए, बी, सी व डी कैटिगरी के कॉलोनियों के लिए होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज