नोएडा: गौतमबुद्ध नगर से दो करोड़ की Beer बरामद, आरोपी गिरफ्तार, महिला के नाम था ठेका
Delhi-Ncr News in Hindi

नोएडा: गौतमबुद्ध नगर से दो करोड़ की Beer बरामद, आरोपी गिरफ्तार, महिला के नाम था ठेका
गोदाम को सील कर लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है.

आबकारी टीम (Excise team) ने मौके से एक आरोपी अनिकेत शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है. मामले में ठेका मालिक समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है. ठेके का लाइसेंस महिला के नाम पर लिया गया है.

  • Share this:
दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) और आस-पास के इलाकों में अवैध तरीके से चल रहे शराब के कारोबार को रोकने के लिए आबकारी विभाग (Excise Department) ने रणनीति बनाकर काम शुरू कर दी है. नोएडा एनसीआर का सबसे हाईटेक सिटी होने की वजह से शहर में विदेशी शराब की डिमांड बढ़ गई है. ऐसे में कुछ लाइसेंसधारी कारोबारियों के साथ-साथ अवैध करोबारी अपने मंसूबों को पूरा करने में लगे हैं. इससे राजस्व को भी बड़ा नुकसान हो रहा है. इस अवैध कारोबार को रोकने के लिए जिला आबकारी विभाग ने 7 सदस्यी टीम गठित कर अवैध कारोबारियों पर नकेल कसने में जुट गई है.

पिछले एक सप्ताह में देखा जाय तो पूरे गौतमबुद्ध नगर जनपद में आबकारी विभाग गोपनीय तरीके से लगातार छापेमारी कर धर पकड़ में जुटी हुई है. हाल ही में लाइसेंस की आड़ में अवैध शराब की भारी मात्रा में बिक्री पर एक ठेका संचालक और एक ठेका मालिक के खिलाफ जिला आबकारी विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है. मंगलवार रात आबकारी विभाग के अधिकारियों ने पुलिस के साथ लाइसेंस धारक, एफएल 2डी के साइट-5 कासना स्थित गोदाम पर छापा मारा. वहां से करीब दो करोड़ रुपये की बियर बरामद की गई है. आबकारी टीम ने मौके से एक आरोपी अनिकेत शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है. मामले में ठेका मालिक समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है. ठेके का लाइसेंस महिला के नाम पर लिया गया है. गोदाम को सील कर लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है.

चलाया जा रहा है विशेष अभियान



न्यूज 18 से जिला आबकारी अधिकारी राकेश बहादुर सिंह ने कहा कि अवैध शराब कारोबार पर नकेल कसने के लिए पूरे जिले में विशेष अभियान चला रखा है. जैसे ही सूचना मिली की कुछ ठेका मालिक लाइसेंस की आड़ में अवैध शराब की बिक्री कर रहे हैं एक्शन लिया गया. कासना में एक गोदाम परिसर का गहनता से निरीक्षण करने पर गोदाम की छत पर, पीछे की तरफ बने कमरे में और गोदाम के सामने की तरफ बने कमरे में छिपा कर रखी हुई भारी मात्रा में बीयर की पेटियां बरामद हुई. जनपद के समस्त आबकारी निरीक्षकों को मौके पर बुलाकर देर रात तक बरामद पेटियों की गिनती करने पर कुल 1375 इम्पोर्टेड बीयर की पेटियां बरामद हुई जो न तो किसी अभिलेख में है और न ही इस पर किसी तरह का कोई शुल्क जमा किया गया है.
ये भी पढ़ें: शिवराज सरकार का सख्त निर्देश: फीस नहीं देने पर प्राइवेट स्कूल बच्चे का नाम नहीं काट सकेंगे

शराब का अवैध कारोबार रोकने की कवायद

जिला आबकारी अधिकारी राकेश बहादुर सिंह ने कहा कि किसी भी कीमत पर जिले में शराब का अवैध कारोबार नहीं होने देंगे. इससे प्रदेश में राजस्व का बड़ा नुकसान होता है. इसे रोकना हमारी प्राथमिकता है. इसके साथ ही जो जिले के बॉर्डर क्षेत्र है वहां कच्ची शराब के कारोबार को रोकने के लिए सतर्कता बढ़ा दिया गया है. हमारा फोकस हरियाणा बॉर्डर पर है. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में तो अवैध कारोबार पूर्ण रूप से बंद था, लेकिन अनलॉक होने के बाद आवागमन तेज हो गया है. ऐसे में हरियाणा से कोई सस्ते शराब की स्मगलिंग रोकने टीम काम कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading